बिज़नेस न्यूज़ » Industry » E-CommerceAmazon के साथ बिजनेस का मौका, बन सकते हैं डिलिवरी सर्विस प्रोवाइडर

Amazon के साथ बिजनेस का मौका, बन सकते हैं डिलिवरी सर्विस प्रोवाइडर

मिनी ट्रक, पिकअप या छोटे कमर्शियल व्हीकल हैं तो कर सकते हैं अच्छी कमाई

1 of

 

नई दिल्ली. अगर आपके पास मिनी ट्रक, पिकअप या छोटे कमर्शियल व्हीकल हैं तो ई-कॉमर्स कंपनी Amazon आपको अच्छी कमाई का मौका दे रही है। इस ऑफर की खास बात यह है कि आप अपने ही शहर में यह बिजनेस शुरू कर सकते हैं। अमेजन भारत के कोने-कोने में डिलिवरी सिस्टम की पहुंच स्थापित करने के लिए अपने साथ डिलिवरी सर्विस प्रोवाइडर के तौर पर जुड़ने का ऑफर दे रही है।

 

दरअसल भारत की सबसे बड़ी ई-कॉमर्स कंपनी फ्लिपकार्ट के साथ कॉम्पिटीशन बढ़ने के साथ अमेजन ने देश में लास्ट माइल डिलिवरी यानी देश के कोने-कोने तक अपने आइटम्स की डिलिवरी के लिए बड़ा प्लान तैयार किया है। इस लिहाज से कंपनी का ऑफर खासा अहम है।

 

डिलिवरी नेटवर्क तैयार कर रही है कंपनी

अमेजन इंडिया के वाइस प्रेसिडेंट-इंडिया (कस्टमर फुलफिलमेंट) अखिल सक्सेना के मुताबिक, अमेजिन इंडिया लास्ट माइल कनेक्टिविटी सुनिश्चित करने के लिए ट्रांसपोर्टेशन और लॉजिस्टिक्स सहित इन्फ्रास्ट्रक्चर में निवेश करना चाहती है। इसलिए कंपनी ब्लू डार्ट, गति या इंडिया पोस्ट के साथ टाई-अप्स के अलावा अपने डिलिवरी एसोसिएट्स, सर्विस पार्टनर नेटवर्क भी तैयार करना चाहती है।

 

कैसे बनें डिलिवरी सर्विस प्रोवाइडर

अमेजन के डिलिवरी सर्विस प्रोवाइडर बनने के लिए आप logistics.amazon.in पर जाकर पूरी जानकारी ले सकते हैं। इसके लिए अपना कमर्शियल व्हीकल होना जरूरी है और साथ ही अगर आप पहले से डिलिवरी बिजनेस में हैं तो आपके लिए जुड़ना आसान हो सकता है।

 

आगे पढ़ें - चुन सकते हैं पसंदीदा शहर

 

 

चुन सकते हैं पसंदीदा शहर

अमेजन के इस ऑफर की खास बात यह है कि इसमें आप अपना पसंदीदा शहर चुन सकते हैं, जहां आप बिजनेस करना चाहते हैं या जहां पर आपके पास एक या कई वैन मौजूद हैं। अमेजन के मुताबिक, कंपनी किसी भी शहर में पर्याप्त बिजनेस देने की क्षमता रखती है। साथ ही कंपनी आपको किसी खास सर्विस एरिया के भीतर डिलिवरी देने का दावा भी करती है।

आगे भी पढ़ें

 

 

Amazon की टेक्नोलॉजी से आसान हो जाएगी डिलिवरी

अमेजन के मुताबिक, उसकी बेहतरीन टेक्नोलॉजी के इस्तेमाल से सर्विस प्रोवाइडर के लिए डिलिवरी काफी आसान होगी। कंपनी आपको कई ऐसे टूल्स उपलब्ध कराएगी, जिससे आपके लिए बिजनेस शुरू करना और उसका प्रबंधन करना आसान हो जाएगा। ये टूल्स प्लानिंग, डेली ऑपरेशंस, रूटिंग गाइडैंस और कस्टमर सर्विस में खासे मददगार होंगे।


क्या हैं शर्तें

-डिलिवरी प्रोवाइडर्स के पास लिखित में अपनी सेफ्टी पॉलिसीज, प्रोसिजर्स होने चाहिए। इसके अलावा प्रशिक्षित ड्राइवर्स का भी होना जरूरी है।

-इन्श्योरेंस संबंधी शर्तों को भी पूरा करना होगा। इसके मुताबिक पब्लिक लायबिलिटी के लिए 50 लाख रुपए का इन्श्योरेंस होना चाहिए।

-ट्रांसपोर्टेशन के दौरान प्रति आइटम लॉस के लिए 25 हजार रुपए का इन्श्योरेंस।

-हर व्हीकल के लिए पर्याप्त बिजनेस इन्श्योरेंस होना चाहिए, जिसकी मिनिमम लिमिट थर्ड पार्टी बॉडिली इंजरी और प्रॉपर्टी डैमेज के लिए 50 लाख रुपए है।


आगे भी पढ़ें

व्हीकल की कैपेसिटी

अगर आप डिलिवरी प्रोवाइडर बनना चाहते हैं तो व्हीकल के लिए जरूरी कैपेसिटी भी जान लेना चाहिए। व्हीकल की मिनिमम लोड कैपेसिटी 5 क्यूबिक मीटर और 3.5 टन (जीवीडब्ल्यू) से कम होनी चाहिए।

 
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट