Home » Industry » E-CommerceSoftBank confirms selling entire stake in Flipkart to Walmart

Flipkart में अपनी हिस्‍सेदारी वॉलमार्ट को बेचेगा सॉफ्टबैंक, जारी किया बयान

वॉलमार्ट के फ्लिपकार्ट को खरीदने के बाद अब सॉफ्टबैंक ने भी इससे बाहर निकलने का एलान कर दिया है।

1 of
 
नई दिल्‍ली. अमेरिकी रिटेलर कंपनी वॉलमार्ट के फ्लिपकार्ट को खरीदने के बाद अब सॉफ्टबैंक ने भी इससे बाहर निकलने का एलान कर दिया है। जापान की सॉफ्टबैंक ने फ्लिपकार्ट में अपनी 20 फीसदी से ज्‍यादा हिस्सेदारी वॉलमार्ट को बेचने का फैसला किया है। कंपनी के स्‍पोकपर्सन की ओर से यह जानकारी दी गई है। दरअसल, पिछले कई दिनों से सॉफ्टबैंक की हिस्सेदारी को लेकर असमंजस बना हुआ था। कंपनी के इस फैसले के बाद अब उन सभी अटकलों पर विराम लग गया है।

 
 
सॉफ्टबैंक ने मांगा था समय
फ्लि‍पकार्ट और वॉलमार्ट के बीच डील के बाद सॉफ्टबैंक ने फैसला लेने के लिए कुछ दिनों का समय मांगा था। सूत्रों का कहना है कि कंपनी ने वॉलमार्ट को स्‍टेक बेचने का फैसला इन्‍वेस्‍टर्स की सहमति से ली है।
 
2 अरब डॉलर पर लग सकता है टैक्‍स
सॉफ्टबैंक ने फ्लि‍पकार्ट में 2.5 अरब डॉलर का इन्‍वेस्‍टमेंट कि‍या है और उसे कंपनी से बाहर नि‍कलने पर 4.5 अरब डॉलर तक मि‍लेंगे। ऐसे में भारतीय कानून के मुताबि‍क, 2 अरब डॉलर के मुनाफे पर टैक्‍स लगेगा।
 
अगर सॉफ्टबैंक हि‍स्‍सा नहीं बेचता है तो?
अगर सॉफ्टबैंक अपना हि‍स्‍सा नहीं बेचता तो वॉलमार्ट के पास फ्लि‍पकार्ट का बाकी बचा करीब 55 फीसदी हि‍स्‍सा होता । फ्लि‍पकार्ट में सभी अहम शेयरहोल्‍डर्स जैसे नेस्‍पर्स, वेंचर फंड एक्‍सेसल पार्टनर्स और ईबे ने अपने शेयर्स वॉलमार्ट को बेचने की मंजूरी पहले ही दे दी है।  
 
नेस्‍पर्स और ईबे को कि‍तना मि‍लेगा
साउथ अफ्रीका की इंटरनेट और एंटरटेनमेंट कंपनी नेस्‍पर्स ने अगस्‍त 2012 में फ्लि‍पकार्ट में 61.6 करोड़ डॉलर इन्‍वेस्‍ट कि‍या था। नेस्‍पर्स अपनी पूरी 11.8 फीसदी हि‍स्‍सेदारी वॉलमार्ट को 2.2 अरब डॉलर में बेच रही है। वहीं, ईबे ने कहा है कि‍ अपने हि‍स्‍से को करीब 1.1 अरब डॉलर बेच रही है।
 
 
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट