Advertisement
Home » Industry » E-CommerceReliance's foray into e-commerce will reduce digital colonisation: Mohandas Pai

रिलायंस का ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म आने से सस्ती होंगी चीजें, ग्राहकों को होगा फायदा

इंफोसिस के पूर्व सीएफओ ने किया दावा

1 of

नई दिल्ली। मुकेश अंबानी के स्वामित्व वाली रिलायंस इंडस्ट्रीज के ई-कॉमर्स सेक्टर में आने से डिजीटल उपनिवेशवाद की संभावना खत्म हो जाएगी। इससे सामानों की कीमत में कमी आएगी और ग्राहकों को फायदा होगा। यह बात इन्वेस्टमेंट गुरु और इंफोसिस के पूर्व सीएफओ टीवी मोहनदास पाई ने कही है। 

 

भारत बनेगा विजेता
पीटीआई को दिए एक इंटरव्यू में पाई ने कहा कि रिलायंस के ई-कॉमर्स सेक्टर में उतरने के बाद यह निश्चित है कि भारत इस सेक्टर में विजेता बनकर उभरेगा। साथ ही ऑनलाइन रिटेल सेक्टर में व्याप्त डिजीटल उपनिवेशवाद का भय समाप्त हो जाएगा। पाई ने कहा कि रिलायंस ई-कॉमर्स सेक्टर में नई पीढ़ी का रिटेल नेटवर्क बनाएगा। इससे निश्चित तौर पर कीमतों में कमी आएगी, सप्लाई चेन की कमियां दूर होंगी, सामान के खराब होने में कमी आएगी और डिलीवरी बेहतर होगी। इस सब से ग्राहकों को अत्यधिक लाभ होगा।

मुकेश अंबानी को घोषणा के बाद आया बयान


मुकेश अंबानी की ओर से वाइब्रेंट गुजरात समिट में ऑनलाइन टू ऑफलाइन प्लेटफार्म शुरू करने की घोषणा के बाद आया है। पाई ने कहा है कि रिलायंस वास्तव में एक बेहतर प्रतिद्वंदी है। उसके पास धन, तकनीक, नेटवर्क, रिटेल सेक्टर में मौजूदगी और दूरदर्शी विचारधारा और जीतने का जुनून है। रिलायंस के पास अगली पीढ़ी का फाइबर नेटवर्क है जो उसे ग्राहकों को ऑनलाइन से ऑफलाइन बाजार का नया अनुभव देगा।

तीन करोड़ रिटेलर्स और दुकानदारों को होगा फायदा


रिलायंस इंडस्ट्रीज के मालिक और देश के सबसे अमीर व्यक्ति मुकेश अंबानी ने शुक्रवार को Vibrant Gujarat Summit 2019 में कहा कि जल्द ही Jio और Reliance Retail मिलकर एक ऐसा अनोखा New Commerce प्लेटफॉर्म शुरू करने जा रहे हैं जो देश के तीन करोड़ छोटे रिटेलर्स और दुकानदारो को फायदा पहुंचाएगा। इसकी शुरुआत गुजरात से होगी और पहले चरण में 12 लाख रिटेलर्स और दुकानदारों को जोड़ा जाएगा।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
Advertisement