विज्ञापन
Home » Industry » E-CommerceNow people will be able to pay invoices through PAYTM

अब PAYTM से भी कर सकेंगे चालान का भुगतान

2019 के अंत तक 30 लाख ट्रांज़ेक्शन प्रोसैस करने का लक्ष्य

Now people will be able to pay invoices through PAYTM

नई दिल्ली। भारत की सबसे बड़ी डिजिटल पेमेंट्स कंपनी वन97 कम्यूनिकेशंस के ब्रांड पेटीएम ने आज घोषणा की कि अपने प्लैटफॉर्म पर डिजिटल चालान भुगतान के लिए उसने नोएडा ट्रैफिक पुलिस के साथ रणनीतिक सहभागिता की है। इस सहभागिता से नोएडा में यातायात नियमों को उल्लंघन करने वाले लोग पेटीएम वेब और मोबाइल ऐप के जरिए आसानी से ई-चालान भुगतान कर पाएंगे। पेटीएम उपभोक्ताओं और संबंधित विभागों के लिए यह बहुत राहत भरा कदम है। इस प्रकार बहुत सा समय और प्रयास बचेगा अन्यथा चालान भुगतान करने के लिए तयशुदा यातायात विभाग केन्द्रों तक सफर करना पड़ता है। दूसरी ओर इससे यातायात पुलिस के संसाधन चालान एकत्रित करने की गतिविधियों से मुक्त हो जाएंगे। इसके अलावा इससे चालान संग्रहण ज्यादा पारदर्शी बनेगा और यातायात विभाग को अपनी प्रक्रियाएं व्यवस्थित करने में भी मदद मिलेगी।

 

2017 में लॉन्च किया गया था डिजिटल यातायात चालान भुगतान फीचर लांच


पेटीएम के COO किरन वासिरेड्डी ने कहा, ''हमने 2017 में डिजिटल यातायात चालान भुगतान फीचर लांच किया था और तब से हमें अपने उपभोक्ताओं से सकारात्मक प्रतिक्रिया मिली है। अब तक हम सभी सूचीबद्ध यातायात निकायों के लिए 20 लाख से ज्यादा ट्रांज़ेक्शन प्रोसैस कर चुके हैं। खास तौर पर नोएडा यातायात विभाग के साथ हमारी सहभागिता से दिल्ली एनसीआर में हमारी शुरुआत हो चुकी है और हमारी इस पहल को महत्वपूर्ण बल मिला है। इस क्षेत्र में इस सेवा के विस्तार के लिए हम यातायात विभाग को धन्यवाद देते हैं।''

 

देश के 5 राज्यों में उपयोग किया जा रहा है पेटीएम का यातायात चालान फीचर


वर्तमान में पांच राज्यों में पेटीएम का यातायात चालान फीचर उपयोग किया जा रहा है, जो हैं- महाराष्ट्र, तमिलनाडु, तेलंगाना, आंध्र प्रदेश और पश्चिम बंगाल। अब इस सहभागिता में उत्तर प्रदेश भी जुड़ गया है और यह संख्या 6 हो चुकी है। पेटीएम अब तक तकरीबन 20 लाख चालानों का भुगतान अपने प्लैटफॉर्म पर प्रोसैस कर चुका है। अपनी इस नई सहभागिता के साथ पेटीएम का लक्ष्य इस कैलेंडर वर्ष के अंत तक 30 लाख से अधिक चालान भुगतानों को प्रोसैस करना है।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन