Advertisement
Home » इंडस्ट्री » इ-कॉमर्सCustomer satisfaction and seller growth are the driving forces for Flipkart, says Nishant Gupta

हमारा कॉम्पीटिशन खुद से है, कस्टमर्स की खुशी और सेलर्स की ग्रोथ हमारा लक्ष्य: निशांत गुप्ता

कंपनी का फोकस सिर्फ बेहतर काम करने पर है

1 of

नई दिल्लीदेश की ई-कॉमर्स कंपनी फ्लिपकार्ट अपनी सफलता का पूरा श्रेय अपनी टीम और सेलर्स को देती है। फ्लिपकार्ट के सेलर एंड सपोर्ट डायरेक्टर निशांत गुप्ता ने बताया कि कंपनी के लिए सेलर्स की ग्रोथ और कस्टमर्स का सेटिस्फेक्शन सबसे जय्दा जरूरी है। हाल ही में फ्लिपकार्ट के मैनेजमेंट लेवल पर जो बदलाव हुए हैं उसके बावजूद कंपनी का फोकस सिर्फ बेहतर काम करने पर है 

उन्होंने कहा, 'Flipkart देश में ई-कॉमर्स गेम को जीत रही है। हमारे पास सही लोग हैं और वे कंपनी को आगे बढ़ा रहे हैं। हमारी लीडरशिप काफी मजबूत है। फ्लिपकार्ट को आगे बढ़ाने की सारी स्ट्रैटेजी लोकल टीम बनाती है। यही टीम फ्लिपकार्ट को आगे बढ़ाने की ड्राइविंग फोर्स है। कल्याण कृष्णमूर्ति कंपनी को सही तरीके से लीड कर रहे हैं। हर संस्थान में कुछ न कुछ ऑर्गेनाइजेशनल चेंज होते रहते हैं, ठीक वैसे ही फ्लिपकार्ट में हो रहे हैं और ये पूरी तरह नॉर्मल हैं। कंपनी की पर्फोमेंस और हमारी रणनीतियों को देखते हुए हम कह सकते हैं हम सही जगह पर हैं और सही तरीके से आगे बढ़ रहे हैं।'

Advertisement

 

कंपनी का कल्चर एकजुटता व ाला है- निशांत गुप्ता

Flipkart के  निशांत गुप्ता ने बताया कि वे फ्लिपकार्ट में सात साल से हैं और इस दौरान कई बदलाव हुए हैं, लेकिन यहां के लोगों का लक्ष्य और इरादा हमेशा एक रहा है। कंपनी का कल्चर ही ऐसा है कि हमें पता है हम किस चीज पर फोकस कर रहे हैं और आगे किस चीज पर फोकस करना है। 

 

आगे पढ़ें- Walmart देगा सिर्फ बैंकएंड सपोर्ट

 

Walmart देगा सिर्फ बैंकएंड सपोर्ट

Flipkart के चीफ कॉर्पोरेट अफेयर्स ऑफिसर रजनीश कुमार ने बताया कि वॉलमार्ट उनका सबसे बड़ा इंवेस्टर है। और उनके आने से रिटेल में काफी मजबूती मिली है। वॉलमार्ट के सभी सीनियर ऑफिशियल्स का कहना है कि उन्हें यहां की टीम पर पूरा भरोसा है। उन्होंने कहा कि वॉलमार्ट बैक सब में है और आगे आने वाले समय में वह सिर्फ सहयोग की भूमिका में रहेगा। उन्होंने कहा कि वॉलमार्ट बोर्ड की तरफ से उन्हें पूरा सपोर्ट मिला हुआ है और यह आगे के लिए शुभ संकेत है।

 

आगे पढ़ेंविवाद की वजह से बिन्नी बंसल ने छोड़ा था फ्लिपकार्ट

 

 

इस वजह से छोड़ा दोनों संस्थापकों ने कंपनी को

फ्लिपकार्ट के संस्थापकों में एक बिन्नी बंसल ने 13 नवंबर को अचानक ही कंपनी से इस्तीफा दे दिया था। इसके छह महीने पहले ही वॉलमार्ट ने फ्लिपकार्ट काे खरीदा था। बिन्नी बंसल के इस्तीफे के पीछे कारण यह था कि वॉलमार्ट ने उनके खिलाफ सेक्शुअल मिसकंडक्ट की एक पुरानी कंप्लेंट पर जांच शुरू की थी। बिन्नी बंसल जांच के तरीके से खुश नहीं थे और इसलिए उन्होंने इस्तीफा दे दिया। उनके पहले सचिन बंसल ने यह कहकर इस्तीफा दिया था कि अब फ्लिपकार्ट में उनके पास करने को कुछ नहीं है। दरअसल सचिन ने वॉलमार्ट द्वारा कंपनी के अधिग्रहण में बड़ा शेयर और बेहतर जिम्मेदारी मांगी थीजिसे कंपनी के बोर्ड ने मना कर दिया। इसके बाद सचिन ने अपने 5.5 फीसदी शेयर बेच दिए और कंपनी छोड़ दी।

 
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
Advertisement