Home » Industry » E-CommerceWalmart to add 50 new stores in its wholesale cash-and-carry business

फ्लिपकार्ट डील के बाद वॉलमार्ट का बड़ा एलान, 4-5 साल में खोलेगी 50 नए स्‍टोर

वॉलमार्ट ने करीब 1 लाख करोड़ रुपए में फ्लिपकार्ट की 77 फीसदी हिस्‍सेदारी खरीदने के एक दिन ही एक बड़ा एलान किया है।

1 of

नई दिल्‍ली. अमेरिकी कंपनी वॉलमार्ट ने करीब 1 लाख करोड़ रुपए में फ्लिपकार्ट की 77 फीसदी हिस्‍सेदारी खरीदने के एक दिन बाद ही एक बड़ा एलान किया है। वॉलमार्ट इंक ने गुरुवार को कहा कि वह होलसेल कैश एंड कैरी बिजनेस की ग्रोथ जारी रखेगी और अगले 4-5 साल में भारत में 50 नए स्‍टोर खोलेगी। 

 

 

वॉलमार्ट इंडिया के प्रेसिडेंट एंड सीईओ कृष अय्यर ने एक राउंडटेबल बातचीत में बताया कि अभी हमारे पास 21 स्‍टोर्स हैं। हमारा प्‍लान 4 से 5 साल में 50 स्‍टोर खोलने का है। हमारी यह योजना ट्रैक पर है। बता दें, अय्यर ने यह राउंडटेबल मीटिंग फ्लिपकार्ट डील के बारे में विस्‍तार से बातचीत करने के लिए बुलाई थी। 

 

बनी रहेगी फ्लिपकार्ट की अपनी पहचान 
वॉलमार्ट के चीफ एग्‍जीक्‍यूटिव डाउग मैकमिलन ने बताया कि फ्लिपकार्ट एक अलग बोर्ड से मैनेज होने वाली कंपनी के रूप में कारोबार करती रहेगी। इसके कोफाउंडर बिन्‍नी बंसल बतौर सीईओ जुड़े रहेंगे। दरअसल, फ्लिपकार्ट के जरिए वॉलमार्ट को भारत के ऑनलाइन मार्केट में एंट्री मिल गई। अबतक वॉलमार्ट भारत की रिटेल पॉलिसी के चलते खुदरा कारोबार नहीं कर पा रही थी। पॉलिसी के तहत देश में किसी भी विदेशी कंपनी को सीधे कंज्‍यूमर को सामान बेचने की अनुमति नहीं है। विदेशी कंपनी सिर्फ होलसेल कैश एंड कैरी सेगमेंट ही में कारोबार कर सकती है। दूसरी ओर सरकार ने फ्लिपकार्ट और अमेजन जैसी ई-कॉमर्स कंपनियों के लिए 100 फीसदी एफडीआई की अनुमति दे दी।  

 

एक साल में 12-15 स्‍टोर खोलने की योजना 
अय्यर ने बताया कि 20 स्‍टोर शुरू करने की प्रक्रिया चल रही है और हम उम्‍मीद करते हैं इस साल 5 स्‍टोर शुरू हो जाएंगे। इसके बाद हम धीरे-धीरे रफ्तार बढ़ाएंगे और एक साल में 12-15 स्‍टोर खोलना शुरू करेंगे। कैश एंड कैरी बिजनेस को वॉलमार्ट फिलहाल 9 राज्‍यों और 19 शहरों में ऑपरेट करती है। आगे हमारा फोकस पंजाब, हरियाणा, उत्‍तर प्रदेश, उत्‍तराखंड, महाराष्‍ट्र, आंध्र प्रदेश और तेलंगाना पर है। 

 

फ्लिपकार्ट के लिए हो सकता है होलसेल स्‍टोर्स का इस्‍तेमाल 
अपने 21 बेस्‍ट प्राइस होलसेल स्‍टोर्स के जरिए वॉलमार्ट एफएमसीजी प्रोडक्‍ट्स से लेकर फर्नीचर तक हरेक सामान दूसरे रिटेलर्स और इंस्‍टीट्यूशंस को बेचती है। माना जा रहा है कि फ्लिपकार्ट पर ऑनलाइन बिक्री सर्विस के लिए बेस्‍ट प्राइस स्‍टोर्स का इस्‍तेमाल पिकअप एंड डिलिवरी प्‍वाइंट के रूप में हो सकता है। विश्‍लेषकों का कहना है कि फ्लिपकार्ट में वॉलमार्ट के निवेश से भारतीय ईकॉमर्स कंपनी के लॉजिस्टिकल ऑपेशनंस को बूस्‍ट मिलेगा और कई दूसरे क्षेत्रों में भी ऑनलाइन ग्रॉसरी पहुंचाने में मदद मिलेगी। भारत के ऑनलाइन सेल्‍स में फ्लिपकार्ट की हिस्‍सेदारी 34 फीसदी है जबकि उसकी कॉम्पिटिटर अमेजन की भागीदारी 27 फीसदी है।  

 

कुल 16 अरब डॉलर की है डील 
फ्लिपकार्ट की 77 फीसदी हिस्‍सेदारी वॉलमार्ट उसके मौजूदा शेयरधारकों से खरीद रही है, जिनमें जापान का सॉफ्टबैंक भी शामिल है। शेयर खरीदने पर वॉलमार्ट 14 अरब डॉलर खर्च करेगी जबकि 2 अरब डॉलर फ्रेश इक्विटी का निवेश होगा। वॉलमार्ट इंडिया वॉलमार्ट स्‍टोर्स इंक के पूर्ण स्‍वामित्‍व वाली सहायक कंपनी है। वह अपने कैश एंड कैरी होलसेल फॉर्मेट के जरिए 5000 सामानों की बिक्री करती है। 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट