बिज़नेस न्यूज़ » Industry » E-Commerceफ्लिपकार्ट के पहले इम्‍प्‍लाई और उस पर बिकी पहली किताब, 10 रोचक बातें

फ्लिपकार्ट के पहले इम्‍प्‍लाई और उस पर बिकी पहली किताब, 10 रोचक बातें

अमेरिकी कंपनी वॉलमार्ट ने 16 अरब डॉलर में भारतीय ई-कॉमर्स कंपनी फ्लिपकार्ट में 77 फीसदी हिस्‍सेदारी खरीद ली।

1 of

नई दिल्‍ली. अमेरिकी कंपनी वॉलमार्ट ने 16 अरब डॉलर (करीब 1 लाख करोड़ रुपए) में भारतीय ई-कॉमर्स कंपनी फ्लिपकार्ट में 77 फीसदी हिस्‍सेदारी खरीद ली। यह दुनिया की सबसे बड़ी ई-कॉमर्स डील है। बैंक ऑफ अमेरिका मेरिल लिंच की रि‍पोर्ट में कहा गया है कि 43 फीसदी से ज्‍यादा मार्केट शेयर के साथ फ्लि‍पकार्ट मार्केट लीडर है। उन्‍होंने अनुमान लगाया है कि 2019 में फ्लि‍पकार्ट 44 फीसदी शेयर कायम रखने में सफल रहेगी। वहीं, अमेजन का मार्केट शेयर 37 फीसदी और स्‍नैपडील का मार्केट शेयर मात्र 9 फीसदी रह जाएगा। आइए जानते हैं फ्लिपकार्ट से जुड़े 10 रोचक बातें... 

 


1. सचिन बंसल और बिन्‍नी बंसल ने 2007 में बेंगलुरु में फ्लिपकार्ट की स्‍थापना की। इन दोनों की मुलाकात आईआईटी-दिल्‍ली में 2005 में हुई और इन्‍होंने अमेजन में भी काम किया। फ्लिपकार्ट की शुरुआत ऑनलाइन किताब बेचने वाले एक प्‍लेटफॉर्म के रूप में हुई। 
2. फ्लिपकार्ट के प्‍लेटफॉर्म पर बिकने वाली पहली किताब जॉन वुड्स की 'लिविंग माइक्रोसॉफ्ट टू चेंज द वर्ल्‍ड' थी। अपनी शुरुआत के एक साल में फ्लिपकार्ट ने 20 किताबे बेचीं।  
3. फ्लिपकार्ट ने अंबर अयप्‍पा को पहला फुलटाइम इम्‍प्‍लाई नियुक्‍त किया। 
4. अक्‍टूबर 2009 में एसेल पार्टनर्स बतौर इन्‍वेस्‍टर कंपनी के बोर्ड में आया और उसने 10 लाख डॉलर निवेश किए। कुछ महीनों के बाद अमेरिकी हेज फंड टाइगर ग्‍लोबल ने एसेल के साथ मिलकर 1 करोड़ डॉलर का निवेश किया। फ्लिपकार्ट को 1.4 अरब डॉलर टेंसेंट, ईबे और माइक्रोसॉफ्ट से जुटाए। जबकि, सॉफ्टबैंक विजन फंड ने पिछले साल उसकी खाते में 2.5 अरब डॉलर डाले। 
5. फ्लिपकार्ट 2011 में सिंगापुर में रजिस्‍टर हुई। 

 

 

आगे पढ़ें... कुछ और रोचक बातें- भारत में कब शुरू हुई कैश ऑन डिलिवरी सर्विस 


 

भारत में 'कैश ऑन डिलिवरी' मॉडल लेकर आई फ्लिपकार्ट

 

6.  2010 में फ्लिपकार्ट भारत में 'कैश ऑन डिलिवरी' मॉडल लेकर आई। इससे भारत के ऑनलाइन शॉपिंग में बड़ा बदलाव आया। 
7. फ्लिपकार्ट ने वीरीड, लेट्सबाय, एफएक्‍स मार्ट, मिंत्रा और यूपीआई पेमेंट स्‍टार्टअप फोन पे जैसी कंपनियों को खरीदा। 
8. 2017 फ्लिपकार्ट के लिए अहम साल रहा क्‍योंकि कंपनी ने इस साल 10 करोड़ रजिस्‍टर्ड यूजर्स का आंकड़ा पार किया। अभी फ्लिपकार्ट के एक लाख से अधिक रजिस्‍टर्ड सेलर्स और 21 वेयरहाउसेस हैं। 
9. फ्लिपकार्ट के मैनेजमेंट में फेरबदल हुआ। पूर्व टाइगर ग्‍लोबल एग्‍जीक्‍यूटिव कल्‍याण कृष्‍णमूर्ति फ्लिपकार्ट के सीईओ बने। कोफाउंडर बिन्‍नी बंसल ग्रुप सीईओ है जबकि सचिन बंसल बतौर चेयरमैन बने हुए हैं। 
10. फ्लिपकार्ट ने स्‍नैपडील को खरीदने की पेशकश की लेकिन यह डील नहीं हो पाई। इसके बाद, वॉलमार्ट के साथ मेगा डील के लिए फ्लिपकार्ट ने निवेशकों से 35 करोड़ डॉलर मूल्‍य के शेयर बायबैक किए। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट