• Home
  • meet FMCG highest paid CEO 94 year old Dharampal Gulati

94 साल के ये महाशय लेते हैं 21 करोड़ सालाना सैलरी, गोदरेज को भी छोड़ा पीछे

Moneybhaskar

Jan 19,2017 04:17:00 PM IST
नई दिल्‍ली। 94 साल की उम्र बहुत होती है। इस उम्र में लोगों के हाथ-पांव काम करना बंद कर देते हैं। हांलाकि भारत में एक ऐसा सीईओ है, जो इस उम्र में भी कंपनी चला रहा है। कंपनियां अपने ब्रांड के प्रमोशन के लिए पोस्‍टर ब्‍वाय ढूंढती हैं, लेकिन वह कंपनी के प्रमोशन और एडवर्टीजमेंट में खुद ही दिखाई देते हैं। उनकी कहानी जीरो से हीरो बनने वाले आम भारतीय की कहानी है। उन्‍हें पिछले साल कंपनी की ओर से 21 करोड़ रुपए की सैलरी मिली। ये हैं एमडीएच के सीईओ धर्मपाल गुलाटी। गोदरेज से भी ज्‍यादा सैलरी....
- भारत में कंन्‍यूमर गुड्स कंपनियों की बात की जाए तो सबसे पहला नाम गोदरेज, हिंदुस्‍तान यूनीलीवर और आईटीसी का नाम आता है।
- हालांकि धर्मपाल गुलाटी को जो सैलरी मिली वह गोदरेज के आदि गोदरेज और विवेक गंभीर, हिंदुस्‍तान यूनीलीवर के संजीव मेहता और आईटीसी के वाईसी देवेश्‍वर से भी ज्‍यादा है।
आगे पढ़ें- बढ़ रहा कंपनी का रेवेन्‍युु और प्रॉफिट
बढ़ रहा कंपनी का रेवेन्युु और प्रॉफिट - यही नहीं उनकी कंपनी महाशियां दी हट्टी या एमडीएच ने रेवेन्यु के मामले में पिछले साल 15 फीसदी की ग्रोथ दर्ज की और यह 924 करोड़ रुपए पहुंच गया। - नेट प्रॉफिट की बात की जाए तो इसमें करीब 24 फीसदी की ग्रोथ रही और यह 213 करोड़ रुपए पहुंच गया। आगे पढ़ें-रविवार को भी काम करते हैं दादाजीरविवार को भी काम करते हैं दादाजी - दादा जी और महाशयजी के नाम से मशहूर गुलाटी अब भी मार्केट में निकलते हैं। - वह डीलर्स से मिलते हैं, फक्ट्रियों का दौरा करते हैं और रविवार को भी आराम नहीं करते हैं। - फिलहाल धर्मपाल गुलाटी के पास कंपनी के 80 फीसदी शेयर हैं और कंपनी की हर गतिविधी पर उनकी नजर रहती है - धर्ममाल की 90 फीसदी सैलरी धार्मिक कामों में खर्च करते हैं। आगे पढ़ें- सौ साल पहले पिता ने रखी थी नींवसौ साल पहले पिता ने रखी थी नींव - धर्मपाल की महाशियां दी हट्टी की नींव उनके पिता ने करीब 100 साल पहले पाकिस्तान के सियालकोट शहर में रखी थी। - वह कंपनी के साथ करीब 60 साल से काम कर रहे हैं। - करीब सौ साल पहले 1919 में उनके पिता चुन्नी लाल ने पाकिस्तान के सियालकोट शहर में मसालों की एक छोटी सी दुकान खोली थी। आगे पढ़ें- कंपनी का 1500 करोड़ का एम्पायरकंपनी का 1500 करोड़ का एम्पायर - मौजूदा समय में एमडीएच का करोबार करीब 1500 करोड़ रुपए का है। - एमडीएच मसाना कंपनी के अलावा करीब 20 स्कूल और अस्पताल भी चलती है। आगे पढ़ें- बंटवारे के बाद भारत आए, आज लंदन में भी ऑफिसबंटवारे के बाद भारत आए, आज लंदन में भी ऑफिस - बंटवारे के बाद गुलाटी अपनी दुकान दिल्ली के करोलबाग इलाके में लेकर आए थे। - तब से वह 15 फैक्ट्रियां खोल चुके हैं। कंपनी के पास देश भर में करीब 1000 डीलर हैं। आज एमडीएय के लंदन और दुबई में भी ऑफिस हैं। साथ ही कंपनी सौ देशों में अपने प्रोडक्ट एक्सपोर्ट करती है। आगे पढ़ें- बंटवारे के बाद भारत आए, आज लंदन में भी ऑफिस बेटे और बेटियां देखते हैं पूरा बिजनेस - मौजूदा समय में कंपनी का ऑपरेशनल काम उनके बेटे देखते हैं, जबकि 6 बेटियां कंपनी के डिस्ट्रीब्यूशन का काम देखती हैं। - कंपनी अपने मसालों के लिए भारत के राजस्थान और कर्नाटक के अलावा ईरान और अफगानिस्तान में कॉन्ट्रैक्स फॉर्मिग कराती है।
X

Money Bhaskar में आपका स्वागत है |

दिनभर की बड़ी खबरें जानने के लिए Allow करे..

Disclaimer:- Money Bhaskar has taken full care in researching and producing content for the portal. However, views expressed here are that of individual analysts. Money Bhaskar does not take responsibility for any gain or loss made on recommendations of analysts. Please consult your financial advisers before investing.