Trending News Alerts

ट्रेंडिंग न्यूज़ अलर्ट

    Home »Industry »Companies» Idea And Vodafone Mega Merger: Know The 10 Things About New Entity

    Idea-Vodafone मेगा मर्जर: बनेगी नई कंपनी, आपके लिए ये 10 बातें जानना है जरूरी

     
    नई दि‍ल्‍ली। वोडाफोन इंडि‍या और आइडि‍या सेल्‍युलर ने मेगा मर्जर डील को फाइनल कर दि‍या है। इस डील के बाद दोनों मि‍लकर भारत की सबसे बड़ी टेलिकॉम कंपनी बनाएंगी। रि‍लायंस जि‍यो की मार्केट में एंट्री के बाद कॉम्‍पीटि‍शन बढ़ गया है। इसी का नतीजा है कि‍ वोडाफोन इंडि‍या और आदि‍त्‍य बि‍ड़ला ग्रुप की कंपनी आइडि‍या सेल्‍युलर जैसी बड़ी कंपनि‍यों को हाथ मि‍लाना पड़ा है। इस कदम को ‘एकीकरण की योजना’ का नाम दि‍या गया है। इस डील को पूरा करने से पहले संबंधित अथॉरि‍टीज जैसे आरबीआई, सेबी, डि‍पॉर्टमेंट ऑफ टेलि‍कॉम और अन्‍य से अप्रूवल लेना होगा। डील पूरी होने के बाद इन दोनों के पास करीब 40 करोड़ सब्‍सक्राइबर्स हो जाएंगे। ऐसे में अगर आप आइडि‍या या वोडाफोन या फि‍र कि‍सी दूसरे नेटवर्क के यूजर हैं तो आपके लि‍ए नई कंपनी के बारे ये 10 चीजें जाननी जरूरी हैं।  
     
    1.आइडि‍या और वोडाफोन दोनों के मर्जर के बाद नई कंपनी भारत की सबसे बड़ी टेलि‍कॉम सर्वि‍सेज प्रोवाइडर बन जाएगी। इसका कस्‍टमर बेस करीब 40 करोड़ होगा।
     
    2. एकीकरण के पूरा होने के बाद वोडाफोन इंडि‍या लि‍मि‍टेड (वीआईएल) का पूरा बि‍जनेस और वोडाफोन मोबाइल सर्वि‍सेज लि‍मि‍टेड (वीएमएसएल) आइडि‍या के साथ जुड़ जाएगा।
     
    3. वोडाफोन इंडि‍या का टर्नओवर 5,025 करोड़ रुपए है और वीएमएसएल का टर्नओवर 40,378 करोड़ रुपए। वहीं, आइडि‍या सेलुलर का टर्नओवर 36,000 करोड़ रुपए है। वोडाफोन इंडि‍या लि‍. की नेटवर्थ 12,855 करोड़ रुपए, वीएमएसएल की 3,737 करोड़ रुपए और आइडि‍या सेल्‍युलर की नेटवर्थ 24,296 करोड़ रुपए है।
     
    4. ट्राई डाटा के मुताबि‍क, दि‍संबर 2016 में 20.46 करोड़ कस्‍टमर्स के साथ वोडाफोन का मार्केट शेयर 18.16 फीसदी है। वहीं, 19.051 करोड़ कस्‍टमर्स के साथ आइडि‍या का मार्केट शेयर 16.9 फीसदी है। मौजूदा समय में, एयरटेल 26.34 करोड़ कस्टमर्स के साथ देश की सबसे बड़ी टेलिकॉम सर्विस प्रोवाइडर है। इसका मार्केट शेयर 23.58 फीसदी है।
     
    5. वोडाफोन की इम्‍पयाइड इंटरप्राइजेज वैल्‍यू 82,800 करोड़ रुपए और आइडि‍या की 72,200 करोड़ रुपए हो जाएगी।
     
    6. आइडि‍या और वोडाफोन ने ज्‍वाइंट स्‍टेटमेंट में कहा है कि‍ शेयरहोल्‍डर्स एग्रीमेंट के तहत नई कंपनी पर वोडाफोन और आदि‍त्‍य बि‍ड़ला ग्रुप दोनों का ज्‍वाइंट कंट्रोल होगा। आदित्‍य बि‍ड़ला ग्रुप को 3,900 करोड़ रुपए कैश में 4.9 फीसदी हि‍स्‍सेदारी ट्रांसफर करने के बाद वोडाफोन के पास 45.1 फीसदी हि‍स्‍सेदारी होगी। वहीं, आइडि‍या के पास 26 फीसदी हि‍स्‍सेदारी होगी। बाकी हि‍स्‍सा पब्‍लि‍क शेयरहोल्‍डर्स के पास होगा।   
     
    7. बयान में कहा गया है कि‍ अगर चार साल बाद तक नई कंपनी में वोडाफोन और आदित्‍य बि‍ड़ला ग्रुप की शेयरहोल्‍डिंग बराबर नहीं होती तो वोडाफोन अगले पांच साल के दौरान आदि‍त्‍य बि‍ड़ला ग्रुप को शेयर्स बेचकर शेयहोल्‍डिंग को बराबर करेगी।
     
    8. मौजूदा स्‍पैक्‍ट्रम होल्‍डिंग के तहत दोनों कंपनि‍यों को नि‍यमों के हि‍साब से रेवेन्‍यू और सब्सक्राइबर बेस पर मि‍लकर काम करना होगा।
     
    9. वि‍लय और अधि‍ग्रहण नि‍यमों के मुताबि‍क, कोई भी कंपनी अपने पास एक टेलि‍कॉम सर्कि‍ल में आवंटि‍त स्‍पैक्‍ट्रम का 25 फीसदी और सर्वि‍स एरि‍या में चुनिंदा बैंड में आवंटि‍त स्‍पैक्‍ट्रम का 50 फीसदी से ज्‍यादा हि‍स्‍सा नहीं रख सकती। इसके अलावा, नई कंपनी के पास रेवेन्यू और सब्‍सक्राइबर मार्केट शेयर का 50 फीसदी से ज्‍यादा नहीं होना चाहि‍ए।
     
    10. सीएलएस ने अनुमान लगाया है कि‍ करीब 5,400 करोड़ रुपए के एक्‍सेस स्‍पैक्‍ट्रम को सरेंडर या बेचना होगा। वहीं, मर्जर के लि‍ए दोनों कंपनि‍यों को रेडि‍या वेव्‍स के लि‍ए 5,700 करोड़ रुपए अलग रखने होंगे।

    Recommendation

      Don't Miss

      NEXT STORY