बिज़नेस न्यूज़ » Industry » Companiesचीन भी नहीं कर पाया मुकाबला, तेजी से अमीर बन रहे हैं भारतीय

चीन भी नहीं कर पाया मुकाबला, तेजी से अमीर बन रहे हैं भारतीय

भारत में वेल्‍थ के मोर्चे पर सन 2000 के बाद से 9.2 फीसदी सालाना की दर से इजाफा हुआ है।

1 of
नई दिल्‍ली. भारत में बड़ी ही तेजी से अमीरों की संख्‍या में इजाफा हो रहा है। हाल ही में ग्‍लोबल फाइनेंशियल सर्विसेज कंपनी क्रेडिट सुइस की एक रिपोर्ट में खुलासा हुआ है कि भारत में वेल्‍थ के मोर्चे पर सन 2000 के बाद से 9.2 फीसदी सालाना की दर से इजाफा हुआ है। वेल्‍थ में बढ़ोत्‍तरी के मामले में भारत चीन और यूरोप से भी आगे निकल गया है। चीन की वेल्‍थ ग्रोथ रेट 6.3 फीसदी सालाना रही, जबकि यूरोप में यह आंकड़ा 6.4 फीसदी सालाना का है। अमीरों की संख्‍या की बात करें तो भारत में अभी कुल 2.45 लाख अमीर हैं।
 
आगे पढ़ें- 2022 तक कितने होंगे अमीर  

2022 तक भारत में होंगे 3.72 लाख अमीर 


- क्रेडिट सुइस की रिपोर्ट के मुताबिक, अभी भारत की कुल हाउसहोल्‍ड वेल्‍थ 326 लाख करोड़ रुपए है। 
- इसके सालाना 7.5 फीसदी की बढ़ोत्‍तरी के हिसाब से 2022 तक 463 लाख करोड़ हो जाने का अनुमान जताया गया है।
- वहीं भारत के अमीरों की संख्‍या 2022 तक बढ़कर 3.72 लाख पर पहुंचने की उम्‍मीद है।  
 
आगे पढ़ें- दुनिया की एवरेज वेल्‍थ ग्रोथ भी रह गई पीछे 

ग्‍लोबल एवरेज वृद्धि दर भी भारत से कम 


- भारत में दौलत बढ़ने की दर 9.2 फीसदी (29.39 लाख करोड़ रुपए) रही, जो ग्‍लोबल एवरेज से भी ज्‍यादा है। 
- पूरी दुनिया में वेल्‍थ बढ़ने की औसत दर 6 फीसदी है। 
- दौलत में बढ़ोत्‍तरी के मामले में भारत का स्‍थान पूरी दुनिया में 8वां है। 
 
आगे पढ़ें- वयस्‍कों में कितने हैं अमीर

0.5% वयस्‍कों की दौलत 65.19 लाख से ज्‍यादा 


- 0.5 फीसदी वयस्‍कों (42 लाख लोग ) की दौलत 65.19 लाख रुपए से भी ज्‍यादा है। 
-  92 फीसदी से ज्‍यादा वयस्‍कों की दौलत 6.5 लाख रुपए से भी कम है। 
- दुनिया के टॉप 1 फीसदी ग्‍लोबल वेल्‍थ होल्‍डर्स में 3.4 लाख वयस्‍क भारत के हैं।  
 
आगे पढ़ें- स्विट्जरलैंड रहा अव्‍वल

प्रति वयस्‍क वेल्‍थ में स्विट्जरलैंड अव्‍वल 


- प्रति वयस्‍क वेल्‍थ के मामले में 3.5 करोड़ रुपए के साथ नंबर वन देश स्विट्जरलैंड रहा। 
- दूसरे व तीसरे स्‍थान पर ऑस्‍ट्रेलिया (2.62 करोड़ रुपए) और अमेरिका (2.5 करोड़ रुपए) रहे।  
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट