बिज़नेस न्यूज़ » Industry » Companiesबनना चाहते हैं अमीर तो जरूर पढ़ें ये किताब, वॉरेन बफे और बिल गेट्स भी हैं मुरीद

बनना चाहते हैं अमीर तो जरूर पढ़ें ये किताब, वॉरेन बफे और बिल गेट्स भी हैं मुरीद

अमीर बनने की चाह रखने वाले लगभग हर इंसान के लिए वॉरेन बफे और बिल गेट्स प्रेरणास्‍त्रोत हैं।

1 of

नई दिल्‍ली. वॉरेन बफे और बिल गेट्स, ये दो ऐसी शख्सियत हैं जिन्‍होंने बहुत ही कम वक्‍त में बड़ी सफलता हासिल की और आज ये दोनों दुनिया के टॉप अमीरों में शामिल हैं। अमीर बनने की चाह रखने वाले लगभग हर इंसान के लिए वॉरेन बफे और बिल गेट्स प्रेरणास्‍त्रोत हैं। लेकिन क्‍या आप जानते हैं कि दुनिया के सबसे सफल बिजनेसमैन कहे जाने वाले बफे और गेट्स को बिजनेस शुरू करने की प्रेरणा कहां से मिली। आखिर कैसे ये अपने बिजनेस में लगातार सफलता की सीढियां चढ़ते गए और आज इतनी बड़ी दौलत के मालिक बन गए। नहीं, तो हम आपको बताते हैं। बफे और गेट्स के अंदर बिजनेस करने की ललक पैदा हुई एक किताब से। ये दोनों अमीर शख्‍स न केवल उस किताब के मुरीद हैं बल्कि अन्‍य लोगों को भी इसे पढ़ने की सलाह देते हैं। आइए आपको बताते हैं कि आखिर कौन सी है वह किताब और क्‍या है उसकी खासियत- 

 

आगे पढ़ें- क्‍या है किताब का नाम 

बिजनेस एडवेंचर्स है नाम 


- वॉरेन बफे और बिल गेट्स की पसंदीदा किताब का नाम बिजनेस एडवेंचर्स है। 
- इसे फाइनेंस जर्नलिस्‍ट जॉन ब्रुक्‍स ने लिखा है। 
- यह किताब 1969 में प्रकाशित हुई थी। 

 

आगे पढ़ें- आखिर क्‍या है किताब में 

क्‍या है किताब के अंदर 


- इस किताब में अमेरिकी बिजनेस और फाइनेंस के इतिहास को बयां किया गया है। 
- साथ ही इसमें अमेरिकी बिजनेस के सबसे अच्‍छे और सबसे बुरे वक्‍त का भी जिक्र है। 
- बिजनेस एडवेंचर्स में लेखक ब्रुक्‍स ने अमेरिकी बिजनेसेज द्वारा लिए गए सही फैसलों और गलतियों का गहन विश्‍लेषण किया है। 
- इस किताब को पढ़ने पर आपको यह पता रहता है कि सक्‍सेसफुल बिजनेसमैन बनने के लिए आपको किन गलतियों को करने से बचना चाहिए। 

 

आगे पढ़ें- इवेंट्स का भी है जिक्र

इवेंट्स का भी जिक्र


- बिजनेस एडवेंचर्स में कुछ महत्‍वपूर्ण इवेंट्स का भी जिक्र है, जैसे- टेक्‍सास गल्‍फ सल्‍फर केस। 
- बिल गेट्स का कहना है कि इस किताब में उल्लिखित इवेंट्स में उनके लिए सबसे महत्‍वपूर्ण रहा 1960 के दशक में जेरोक्‍स एंपायर का उत्‍थान और पतन। 
- जेरोक्‍स एंपायर के मामले में बिजनेस सफलता के शिखर पर था लेकिन इनोवेशन और टेक्‍नोलॉजी की कमी के चलते इसका पतन होने लगा और बाद में इसके प्रतिद्वंदियों ने इसे ओवरटेक कर लिया। 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट