बिज़नेस न्यूज़ » Industry » Companiesबाबा रामदेव के नाम पर घूम रहे हैं जालसाज, पतंजलि ने किया अलर्ट

बाबा रामदेव के नाम पर घूम रहे हैं जालसाज, पतंजलि ने किया अलर्ट

हाल में पतंजलि में जॉब दिलाने और डिस्‍ट्रीब्‍यूटर बनाने के नाम पर ठगी के कई मामले सामने आए हैं....

1 of
 
नई दिल्‍ली. देखते-देखते करीब 10 हजार करोड़ की कंपनी बनने वाली बाबा रामदेव की पतंजलि में के नाम पर कई तरह की धोखाधड़ी सामने आ रही है। कई तरह की फर्जी वेबसाइट और कॉल सेंटर भी पतंजली के नाम पर सामने आ रहे हैं।
हाल में दिल्‍ली से सटे नोएडा में ऐसे ही कुछ लोगों को हिरासत में लिया गया है। ये लोग पतंजलि की फर्जी वेबसाइट बनाकर लोगों के साथ लाखों की ठगी को अंजाम दे रहे थे। साइबर सेल की जांच के बाद इन लोगों को गिरफ्तार किया गया। इससे पहले भी दिल्‍ली से ही कुछ लोगों को पतंजली में जॉब दिलाने के नाम पर धोखाधड़ी करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। आइए जानते हैं कुछ बाबा राम देव की पतंजलि के नाम पर होने वाले फ्रॉड के बारे में और आप इससे कैसे बचे। 
 
आगे पढ़ें- पहले फ्रॉड के बारे में....
 
डिस्‍ट्रीब्‍यूटर बनाने के नाम पर हो रहा फ्रॉड 
हाल में पतंजलि का डिस्‍ट्रीब्‍यूटर बनाने के नाम पर फ्रॉड करने  का मामला सामने आया है। यह मामला नोएडा में सामने आया। यहां पहले पतंजलि के नाम पर पहले तो फर्जी वेबसाइट बनाई गई और उसके बाद  लोगों से डिस्ट्रीब्यूटरशिप देने के नाम पर लाखों लिए गए थे। जिन अकाउंट में पैसों का ट्रांसफर हुआ वो कंपनी की जगह निजी लोगों के थे। ए क मामले में 10 लाख रुपए तक की ठगी की गई। 

 
जॉब के नाम पर ऐसा हुआ धोखा 
जॉब के नाम परधोखाधड़ी का मामला दिल्‍ली में सामने आया। यहां कॉल सेंटर बनाकर जॉब के नाम पर लोगों को ठगा गया। पतंजलि में नौकरी दिलाने के नाम पर लोगों से हजारों रुपए की ठगी की गई। पतंजलि की ओर से बाद में स्‍पष्‍ट्रीकरण देने के बाद मामला सामने आया और ये लोग गिरफ्तार हुए। मामला इसी साल जून को है। 

 
पतंजलि में 8 हजार जॉब की अफवाह 
पतंजलि में 8 हजार से ज्‍यादा जॉब को लेकर पिछले एक साल से अफवाह चल रही है। इटरनेट पर कई वेबसाइट भी इसे प्रमोट कर रही हैं। हलांकि पतंजलि ने ऐसी किसी जॉब से इनकार किया है। हलांकि अब भी इस तरह के कई जॉब के एड आ रहे हैं। 
 
 
पतंजली ने अपनी वेबसाइट पर लोगों को आगाह किया 
पतंजलि के अधिकारियों ने इस तरह के फ्रॉड पर आम लोगों को आगाह किया है। अपनी बेसाइट पर पतंजलि ने कहा कि वह इस तरह की घटनाओं से चिंतित है। ऐसे लोग पतंजलि आयुर्वेट लिमिटेड का हिस्‍सा नहीं हैं। पतंजलि के प्रवक्‍ता एसके तिजारवाला ने मनी भास्‍कर से बातचीत में साफ कहा कि कंपनी ने किसी को भी डिस्‍ट्रीब्‍यूटरशिप देने या जॉब देने के लिए ऑथराइज नहीं किया है। 
 
 
किसी भी तरह की एक्टिवटी पतंजलि की वेबसाइट पर
तिजारवाला ने बताया कि जॉब और डिस्‍ट्रीब्‍यूशन शिप से जुड़ी किसी भी एक्टिवटी किसी भी चीज की जानकारी कंपनी अपनी दोनों आधिकारिक वेबसाइट patanjaliayurved.net और  patanjaliayurved.org पर देती हैं।    
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट