• Home
  • Helmet manufacturers association claims industry is fully capable to fullfill helmet demand

दावा /देश के किसी हिस्से में हेलमेट्स की कोई कमी नहीं: निर्माता

  • टू-व्हीलर हेलमेट मैन्यफेक्चर्सर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष ने किया स्पष्ट, 50 लाख हेलमेट स्टॉक में
  • इंडस्ट्री पूरी तरह से हेलमेट की मांग के अनुसार कर रही है सप्लाई

Moneybhaskar.com

Oct 03,2019 05:05:00 PM IST

नई दिल्ली। विभिन्न शहरों में हेलमेट की कमी की अफवाहों का खंडन करते हुए टू व्हीलर हेलमेट मैन्यूफैक्चर्सर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष राजीव कपूर ने कहा कि भारतीय हेलमेट इंडस्ट्री तेजी से एक बड़े बदलाव के मोड पर है और उत्पादन में 3-4 गुना से अधिक की वृद्धि हुई है ताकि आ रही मांग को पूरा किया जा सके। नए मोटर वाहन अधिनियम के लागू होने के बाद इंडस्ट्री द्वारा हेलमेट की मांग में काफी तेज वृद्धि देखी जा रही है और हम मांग को पूरा करने के लिए अच्छी तरह तैयार हैं।

4 लाख से ज्यादा आईएसआई मार्का हेलमेट का निर्माण

उन्होंने आगे कहा कि इंडस्ट्री हेलमेट की बढ़ती मांग को पूरा करने में पूरी तरह सक्षम है और फिलहाल 400,000 से अधिक आईएसआई हेलमेट का निर्माण किया जा रहा है और बाजार में हर दिन इनकी आपूर्ति की जा रही है ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि खरीदारों के बीच कोई घबराहट न हो और सभी को अच्छी गुणवत्ता वाला हेलमेट उनकी जेब के लिए अनुकूल कीमतों पर मिलें। कपूर ने कहा कि हम यह सुनिश्चित कर रहे हैं कि हेलमेट को समय पर वितरित किया जाना चाहिए और विभिन्न खुदरा विक्रेताओं और वितरकों के माध्यम से लोगों के लिए हर नजर और कोने में उपलब्ध हैं। रिटेल आउटलेट्स के अलावा, हम यह भी सुनिश्चित कर रहे हैं कि हेलमेट को ग्राहकों के पास उनके घर दरवाजे पर पहुंचाया जाए क्योंकि प्रमुख ब्रांडों ने ई-कॉमर्स वेबसाइटों के साथ रियायती मूल्य पर सही उत्पाद प्रदान करने के लिए करार किया है।

नकली हेलमेट की बिक्री चिंता का विषय

कपूर ने कहा कि सबसे अधिक चिंता की बात ये है कि नकली हेलमेट की बिक्री में भी उतनी ही तेजी है। इसलिए, हम टूव्हीलर वाहन सवारों को ब्रांडेड आईएसआई प्रमाणित हेलमेट ही पहनने के लिए जागरूक कर रहे हैं, जो मोटर वाहन अधिनियम के अनुसार अनिवार्य है। हालांकि, आईएसआई हेलमेट पहनने के संबंध में आम लोगों में काफी अधिक जागरूकता है, लेकिन अभी भी समाज का एक बड़ा वर्ग स्थानीय और नकली हेलमेट को पहन कर ही वाहन चला रहा है। ये चिंता का एक बड़ा कारण है और सरकार को टू व्हीलर के जीवन की सुरक्षा के लिए कदम उठाने चाहिए ताकि वे सड़क हादसों के दौरान सुरक्षित रहें।

X

Money Bhaskar में आपका स्वागत है |

दिनभर की बड़ी खबरें जानने के लिए Allow करे..

Disclaimer:- Money Bhaskar has taken full care in researching and producing content for the portal. However, views expressed here are that of individual analysts. Money Bhaskar does not take responsibility for any gain or loss made on recommendations of analysts. Please consult your financial advisers before investing.