Trending News Alerts

ट्रेंडिंग न्यूज़ अलर्ट

    Home »Industry »Companies» Gems & Jewellery Sector Is A Prime Example Of Potential Of Make In India Says PM

    इंटरनेशनल डायमंड कांफ्रेंस में बोले पीएम मोदी, जेम्‍स एंड ज्‍वैलरी मेक इन इंडिया का सबसे बेहतर उदाहरण

    इंटरनेशनल डायमंड कांफ्रेंस में बोले पीएम मोदी, जेम्‍स एंड ज्‍वैलरी मेक इन इंडिया का सबसे बेहतर उदाहरण
    नई दिल्‍ली।प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इंटरनेशनल डायमंड कांफ्रेंस में मेक इन इंडिया पर जोर दिया। उन्‍होंने कहा कि जेम्‍स एंड ज्‍वैलरी सेक्‍टर मेक इन इंडिया और स्किल इंडिया का सबसे बेहतर उदाहरण है। उन्‍होंने कांफ्रेंस में पहुंचे  अफ्रीकी देशों के प्रतिनिधियों को भरोसा दिलाया कि भारत उनके जेम्‍स एंड ज्‍वैलरी सेक्‍टर को डेवलप करने में मदद करेगा।
     
    स्‍टार्टअप्‍स को सपोर्ट करे इंडस्‍ट्री
     
    मुंबई में आयोजित इंटरनेशनल डायमंड कांफ्रेंस में पीएम मोदी ने कहा कि इंडस्‍ट्री को भारतीय ज्‍वैलरी को बढ़ावा देने के लिए स्‍टार्टअप्‍स को सपोर्ट मुहैया करना चाहिए। इससे इसके लिए मार्केट तैयार करने में मदद मिलेगी। इससे पहले कांफ्रेंस में जिम्‍बाब्‍वे ने कहा कि वह भारत के साथ हीरों का व्‍यापार किसी थर्ड पार्टी के जरिए नहीं, बल्कि सीधे तौर पर करना चाहता है।
     
    भारत-जिम्‍बाब्‍वे के बीच डायरेक्‍ट हो हीरों का व्‍यापार
    फिलहाल जिम्‍बाब्‍वे भारत के साथ थर्ड पार्टी के जरिए हीरों का व्‍यापार करता है। जिम्‍बाब्‍वे के माइन डेवलपमेंट मंत्री वॉल्‍टर चिडाकवा का कहना है कि भारत और उनके देश के बीच हीरों का कारोबार सीधा होना चाहिए। इससे दोनों देशों को फायदा होगा। डायरेक्‍ट लिंक बनने से हीरों की आपूर्ति आसान हो जाएगी। उन्‍होंने कहा कि इससे व्‍यापार में भी बढ़ोत्‍तरी होगी।
     
    भारत ने दिया आश्‍वासन
    वॉल्‍टर चिडाकवा ने इस दौरान केंद्रीय राज्‍यमंत्री पियुष गोयल से भी मुलाकात की। गोयल ने उन्‍हें आश्‍वस्‍त करते हुए इस मामले में पूरा सहयोग देने का वादा किया। उन्‍होंने इस मौके पर इंडियन कंपनियों से ये भी कहा कि हमारे देश से हीरों की आपूर्ति में जो कमी आई है, वह जल्‍द ही खत्‍म हो जाएगी और हम मार्केट में वापसी करेंगे। 

    Recommendation

      Don't Miss

      NEXT STORY