Home » Industry » CompaniesWorld most expensive vegetable price 82 thousand per kg

दुनिया की सबसे महंगी सब्जी, कीमत 82 हजार रुपए किलो

ऊंची कीमतों के बावजूद दुनिया भर में है खासी डिमांड

1 of

नई दिल्ली. महंगाई दिन-प्रतिदिन आसमान छू रही है। पेट्रोल-डीजल से लेकर सब्जियों और बाकी चीजों के दाम बढ़ते जा रहे हैं। ऐसे में लोगों के लिए घर चलाना काफी मुश्किल होता जा रहा है। अगर सब्जियों और फलों की बात की जाए तो आलू-प्याज और टमाटर की कीमतें लोगों की जेब पर भारी पड़ने लगी हैं। लेकिन आज हम आपको एक ऐसी चीज के बारे में बताने जा रहे हैं जिसकी कीमत सुनकर आपको बाकी चीजों की कीमतें काफी कम लगेंगी। 

 

82,000 रुपए प्रति किलो बिकती है यह सब्जी
भले ही इस सब्जी की कीमतें होश उड़ाने वाली हैं, लेकिन इसकी दुनियाभर में काफी डिमांड है। जी हां, इस सब्जी की कीमत 1000 यूरो यानी तकरीबन 82,000 रुपए प्रति किलो है। इस सब्जी का नाम हॉप शूट्स है। ब्रिटेन,जर्मनी समेत कई यूरोपीय देशों में इसकी खेती होती है। इसकी टहनियां शतावरी (एस्पैरेगस) पौधे की तरह दिखाई देती हैं।  इस सब्जी को सिर्फ बसंत के मौसम में ही उगाया जाता है। यह सब्जी जंगलों में उगाई जाती है। इस सब्जी को काटने के वक्त यह ध्यान रखना पड़ता है कि अगर इसे जल्दी नहीं काटा जाए तो इसकी टहनियां मोटी हो जाती हैं। इसके बाद इन्हें खाया नहीं जाता। इस सब्जी में फूल भी होते हैं जो की खाने में काफी तीखे होते हैं लेकिन इसकी टहनियों को सब्जी बनाकर खाया जाता है। इसकी सब्जी बनाने के अलावा लोग इसका अचार भी बनाते हैं। इस सब्जी का रंग बैंगनी होता है। इस सब्जी को बढ़ने के लिए थोड़ी सी धूप और नमी की जरूरत होती है। इसकी खासियत यह है  कि यह एक दिन में 6 इंच तक बढ़ जाती है।

 

आगे भी पढ़ें,

भारत में पाई जाती है दुर्लभ औषधीय गुणों से भरपूर गुच्छी

 

भारत के हिमाचल में भी हॉप शूट्स की ही तरह की एक सब्जी उगाई जाती है। यह भारत से बाहर 30-40 हजार रुपए प्रति किलो में आसानी से बिक जाती है। इस सब्जी का नाम गुच्छी है। इसका वैज्ञानिक नाम मार्कुला एस्क्यूपलेटा है। इसे स्पंज मशरूम के नाम से भी जाना जाता है। इसमें विटामिन बी, सी, डी और के प्रचुर मात्रा में पाया जाता है। दुर्लभ औषधीय गुणों से भरपूर गुच्छी को सर्दियों के मौसम में उगाया जाता है। 

 

आगे भी पढ़ें...

बड़े-बड़े रेस्टोरेंट में गुच्छी की मांग
गुच्छी फरवरी से अप्रैल की बीच में उगती है। यह इतनी दुर्लभ है कि इसे बड़े-बड़े रेस्टोरेंट हाथोंहाथ खरीद लेते हैं इस सब्जी की मांग भारत के अलावा बाहर के देशों में भी है। ऊंचे पहाड़ों में रहने वाले लोग गुच्छी इकठ्ठा कर लेते हैं जिनसे ये कंपनियां और होटल 10 से 15 हजार रुपए प्रतिकिलो के भाव से खरीदती हैं। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट