बिज़नेस न्यूज़ » Industry » Companiesमोदी के स्‍वच्‍छ भारत अभियान ने खड़ा किया नया मार्केट, बाथरूम और सैनटरीवीयर की सेल्‍स में 48% का इजाफा

मोदी के स्‍वच्‍छ भारत अभियान ने खड़ा किया नया मार्केट, बाथरूम और सैनटरीवीयर की सेल्‍स में 48% का इजाफा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के स्वच्छ भारत मिशन का लक्ष्य पांच साल में 11 करोड़ टॉयलेट्स (Toilets) बनाना है

Target of Swach Bharat abhiyan

नई दिल्‍ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के "स्वच्छ भारत" मिशन का टारगेेेट पांच साल में 11 करोड़ टॉयलेट्स  (Toilets) बनाना है। यह विश्‍व का सबसे बड़ा अभियान माना जा रहा है, इसके चलते भारत में जहां कंक्रीट बिल्डिंग कंस्‍ट्रक्‍शन मैटेरियल की बिक्री में 81 फीसदी की वृद्धि दर्ज की है। वहीं, बाथरूम और सैनटरीवियर की बिक्री में 48 फीसदी की वृद्धि हुई है। मार्केट रिसर्च फर्म यूरोमीटर इंटरनेशनल के रिसर्च में यह खुलासा किया गया है। इसका फायदा टाटा ग्रुप और रेकीट बेनकीसर ग्रुप को मिला है। 

 

अक्‍टूबर 19 तक 8 करोड़ टॉयलेट बनाने का टारगेट 
सरकार ने टारगेट रखा है कि 2 अक्‍टूबर 2019 को महात्‍मा गांधी के जन्‍म को 150 साल पूरे होंगे, उस दिन तक देश भर में लगभग 8 करोड़ टॉयलेट्स बन कर तैयार हो जाएंगे। अनुमान है कि इस अभियान की वजह से देश में 2021 तक  टॉयलेट्स से और सर्विसेज से संबंधित मार्केट का साइज दोगुना यानी लगभग 62 बिलियन डॉलर तक पहुंच जाएगा। 

 

हैरान करने वाला यह अभियान 
लंदन स्कूल ऑफ हाइजीन और ट्रॉपिकल मेडिसन इन्‍वायरमेंटल हेल्‍थ ग्रुप के निदेशक वैल कर्टिस ने भारत में कार्यक्रम पर काम किया है। उन्‍होंने कहा कि यह दुनिया का सबसे बड़ा, सबसे सफल अभियान है, जो लोगों के व्‍यवहार में परिवर्तन ला रहा है। इसे लेकर मैं खासा उत्‍साहित हूं और यह बेहद आश्‍चर्य भरा है। 

 

पिछले साल 11 फीसदी बढ़ी सेल्‍स 
बॉलीवुड सेलिब्रिटी अक्षय कुमार, जो  टॉयलेट,  एक प्रेम कथा फिल्‍म बना चुके हैं को इसी महीने हार्पिक ने ब्रांड अम्‍बेसडर बनाया है। हार्पिक, रेकीट बेनसीकर का ब्रांड है, जो टॉयलेट को साफ करने के काम आता है। इंग्‍लैंड की यह कंपनी बाउल क्‍लीनर के अलावा डिटोल भी बेचती है और भारत में टॉयलेट केयर मार्केट में सबसे ऊपर है। यूरोमीटर का दावा है कि भारत में रेकीट बेनसीकर की बिक्री में पिछले साल 11 फीसदी का इजाफा हुआ है, जो लगभग 10.57 लाख डॉलर है। 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट