बिज़नेस न्यूज़ » Industry » Companiesछठी पास कर्नल ने KFC को बनाया इंटरनेशनल ब्रांड, 770 पौंड की तिजौरी में बंद है फार्मूला

छठी पास कर्नल ने KFC को बनाया इंटरनेशनल ब्रांड, 770 पौंड की तिजौरी में बंद है फार्मूला

20 तरह के बिजनेस में फेल हो चुके थे KFC के कर्नल

1 of

नई दिल्‍ली. आज केंटकी फ्राइड चिकन (KFC) को कौन नहीं जानता। 125 देशों में 20 हजार से अधिक KFC रेस्‍टोरेंट हैं, लेकिन KFC की स्‍थापना करने वाले कर्नल हार्लेंड सैंडर्स की कहानी बहुत कम लोग जानते होंगे। अगर आप कर्नल हार्लेंड सैंडर्स की कहानी पढ़ लें तो हैरान रह जाएंगे। छठी पास होने के बाद सैंडर्स ने स्‍कूल छोड़ दिया और 16 साल की उम्र में बाद यूएस आर्मी में शामिल हो गए। लेकिन अपना बिजनेस शुरू करने के लिए उन्‍होंने फौज छोड़ दी और 20 तरह के बिजनेस में फेल रहने के बाद KFC की स्‍थापना की। सात सितंबर को सैंडर्स का 128वां जन्‍मदिन था। आइए जानते हैं, अपनी धुन के पक्‍के सैंडर्स की पूरी कहानी :

 

कभी किया था लौहार का काम

दुनिया के सबसे बड़े चिकन - सेल्समैन बनने से पहले, सैंडर्स ने 20 से ज्यादा व्यवसाय किए। सैंडर्स का रिज्यूमे काफी विविधता भरा था, 60 के दषक में फ्राइड चिकन कारोबार में सफलता हासिल करने से पहले उन्होंने लौहार का काम करने से लेकर फायरमैन तक का रोजगार किया था। लेकिन वह सफल नहीं रहे।

 

1930 में खोला पहला रेस्‍टोरेंट

कर्नल सैंडर्स को खाना बनाना पसंद था, और 1930 में उन्होंने एक गैस स्टेन पर अपना पहला रेस्टोरेंट खोला और उसके मेन्यू में फ्राइड चिकन को षामिल किया था। उस इलाके के गर्वनर सैंडर्स के चिकन को बहुत पसंद करते थे और उन्होंने सैंडर्स को केंटकी कर्नल बना दिया।

 

ऐसे तैयार किया मसाला

उन्होंने 11 हर्ब्स और मसालों का एक गुप्त मिश्रण खोजा, जो अब तक अज्ञात है। यह रहस्य अमेरिका के सबसे मूल्यवान व्यापार रहस्यों में से एक है। एक बार कर्नल हार्लेंड सैंडर्स ने कहा था कि मेरे 11 हर्ब्स एवं मसाले आपके कानों के लिए राज़ और लजीज स्वाद आपके टेस्ट बड्स के लिए रहस्य बने रहेंगे।

 

ऐसे बंद है फार्मूला

यह इतना मूल्यवान है कि 1940 में कर्नल की हस्तलिखित मूल रेसिपी को सुरक्षित रखने के लिए केएफसी ने हाल ही में एक नया हाईटेक घर बनाया है। इसे 770 पौंड से अधिक वज़न वाले एक डिजिटल सेफ में रखा गया है, जिसके चारों ओर 2 फुट की कंक्रीट की दीवार बनाई गई है और उसकी 24 घंटे वीडियो एवं मोषन डिटेक्षन सर्विलैंस सिस्टम से निगरानी की जाती है।

 

आगे पढ़ें : 1009 बार सुन चुके थे ''

1955 में दी पहली फ्रेंचाइजी

वर्श 1955 में सैंडर्स ने पहली बार अपनी गुप्त रेसिपी ‘‘केंटकी फ्राइड चिकन’’ की फ्रैंचाइजी उटाह हर के सबसे बड़े रेस्टोरेंट के एक ऑपरेटर को दी।

 

आगे पढ़ें :  1009 बार सुन चुके थे ''

1009 बार सुन चुके थे नहीं

कहा जाता है कि कर्नल सैंडर्स ने अपने लिए पहली बार ‘‘हां’’ सुनने से पहले 1009 बार ‘‘नहीं’’ सुना था। दरअसलकर्नल होटल और रेस्‍टोरेंट्स में जाते थे और मालिक से कहते थे कि वह फ्राइड चिकन बनाएंगेअगर पसंद आया तो वह अपना फ्राइड चिकन सप्‍लाई करेंगे। लेकिन उन्‍हें पहले 1009 बार नहीं सुनने को मिलेगा। 1010 वीं जगह उनके द्वारा तैयार किए गए चिकन को पसंद किया गयाजिसके बाद उन्‍होंने पीछे मुड़कर नहीं देखा।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट