बिज़नेस न्यूज़ » Industry » Companiesइस सीईओ ने रि‍ज्‍यूमे में बताई फर्जी डि‍ग्री, छोड़नी पड़ी 38 करोड़ की जॉब

इस सीईओ ने रि‍ज्‍यूमे में बताई फर्जी डि‍ग्री, छोड़नी पड़ी 38 करोड़ की जॉब

लगेज बैग बनाने वाली कंपनी सैमसोनाइट के सीईओ ने शुक्रवार को कंपनी के सीईओ पद से इस्‍तीफा दे दि‍या है।

1 of
 
नई दि‍ल्‍ली. लगेज बैग बनाने वाली कंपनी सैमसोनाइट के सीईओ ने शुक्रवार को उस समय कंपनी के सीईओ पद से इस्‍तीफा दे दि‍या जब एक सेलर की ओर से उन पर डॉक्‍टरेट की फर्जी डि‍ग्री होने का आरोप लगाया गया। वहीं, दूसरी ओर कंपनी की ओर से हांगकांग स्टॉक एक्सचेंज को दिए गए एक बयान में कहा गया है कि‍ रमेश तैनवाला ने व्यक्तिगत कारणों से कंपनी के सीईओ के पद से इस्तीफा दे दिया था।

 
क्‍या है मामला 
 
यूएस की एक कंपनी ब्‍लू ऑर्का की ओर से करीब एक हफ्ते पहले रमेश तैनवाला पर आरोप लगाया गया था कि‍ उन्‍होंने अपने रि‍ज्‍यूमे में डॉक्‍टरेट की फर्जी डि‍ग्री का जि‍क्र कि‍या है। ब्‍लू ऑर्का की ओर से यह भी बताया गया कि‍ रमेश तैनवाला ने अपने रि‍ज्‍यूमे में लि‍खा है कि‍ उन्‍होंने बि‍जनेस एडमि‍नि‍स्‍ट्रेशन में सि‍नसि‍नाटी यूनि‍वर्सि‍टी के यूनि‍यन इंस्‍टीट्यूट से डॉक्‍टरेट की डि‍ग्री ली है। 
आगे पढ़ें : अकाउंट्स में गड़बड़ का भी लगा आरोप 
अकाउंट्स में गड़बड़ करने का भी लगाया आरोप 
 
सैमसोनाइट की ओर से कहा गया है कि‍ कंपनी के बोर्ड ने इन आरोपों को गंभीरता से लिया। ऐसे में रमेश तैनवाला की ओर से सीईओ के पद को छोड़ना ही कंपनी और उसके शेयरहोल्‍डर्स के हि‍त में है। वहीं, ब्लू आॅर्का ने आरोप लगाया कि 2016 में ब्‍लू ऑर्का और टुमी के बीच हुई लग्‍‍‍‍‍जरी बैग की डील के अकाउंट्स में भी गड़बड़ की थी। 
आगे पढ़ें : 100 साल पुरानी है कंपनी 
करीब 100 साल पहले शुरू हुई थी कंपनी 
 
मूल रूप से लग्‍जमबर्ग की कंपनी सैमसोनाइट के सीईओ के पद छोड़ने की खबर के बाद हॉन्‍ग कॉन्‍ग स्‍टॉक मार्केट में लि‍स्‍टेड कंपनी के शेयर्स में 7 फीसदी से ज्‍यादा की बढ़ोतरी हुई है। बता दें कि‍, सैमसोनाइट कंपनी करीब 100 साल पहले डेनवर में शुरू हुई थी। 1910 से 1970 तक कंपनी की बागडोर परि‍वार के हाथ में थी। लेकि‍न इसके बाद कंपनी में इनवेस्‍टर्स ने पैसा लगाया और कंपनी को हॉन्‍ग कॉन्‍ग स्‍टॉक मार्केट में लि‍स्‍ट कि‍या गया। ताकि‍ चाइनीज मार्केट में पकड़ बनाई जा सके। 
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट