बिज़नेस न्यूज़ » Industry » Companiesसबसे ज्‍यादा सैलरी लेने वालों में शामि‍ल हुए निकेश अरोड़ा, 857 करोड़ है पैकेज

सबसे ज्‍यादा सैलरी लेने वालों में शामि‍ल हुए निकेश अरोड़ा, 857 करोड़ है पैकेज

पालो अल्टो के सीईओ बनने के बाद निकेश अरोड़ा टेक्नोलॉज़ी की दुनिया में सबसे ज़्यादा सेलरी पाने वालों में शुमार हो गए हैं।

Nikesh Arora join Palo Alto and get highest salary takers in Tech World, टेक वर्ल्‍ड में सबसे ज्‍यादा सैलरी लेने वालों में शामि‍ल हुए निकेश अरोड़ा, बने पालो अल्टो नेटवर्क के CEO
 
नई दि‍ल्‍ली. पालो अल्टो नेटवर्क के सीईओ बनने के बाद भारत के निकेश अरोड़ा टेक्नोलॉज़ी की दुनिया में सबसे ज़्यादा सेलरी पाने वाले लोगों शामि‍ल हो गए हैं। टेक्नोलॉज़ी सेक्टर में निकेश अरोड़ा का लंबा करियर रहा है। पालो अल्टो नेटवर्क से पहले वह सॉफ्ट बैंक और गूगल में भी काम कर चुके हैं। अब वह पालो अल्टो नेटवर्क के नए सीईओ बने हैं और उनकी 7 साल की सैलरी लगभग 857 करोड़ रुपए होगी। बता दें कि‍ पालो अल्टो नेटवर्क एक साइबर सिक्योरिटी कंपनी है।
 
क्‍या है सैलरी पैकेज 
 
निकेश का सालाना वेतन 6.7 करोड़ रुपए होगा। वहीं, इतना ही बोनस उन्‍हें मि‍लेगा। इसके अलावा उन्हें कंपनी की ओर से 268 करोड़ रुपए के शेयर मिलेंगे जिन्हें वो 7 साल तक नहीं बेच सकते। ऐसे में अगर निकेश अरोड़ा पालो अल्टो नेटवर्क के शेयर की कीमत 7 सालों के अंदर 300 फ़ीसदी बढ़ाने में कामयाब रहे तो उन्‍हें 442 करोड़ रुपए और मिलेंगे। 
 
इसके साथ ही निकेश अपने पैसे से पालो अल्टो नेटवर्क के 134 करोड़ रुपए के शेयर खरीद सकते हैं और इतनी ही कीमत के शेयर उन्हें कंपनी की ओर से दिए जाएंगे जि‍न्‍हें वे सात साल तक बेच नहीं पाएंगे। 
 
बोर्ड में भी होंगे चेयरमैन 
 
निकेश अरोड़ा ने कंपनी में मार्क मिकलॉकलीन की जगह ली है। मार्क 2011 से पालो अल्टो नेटवर्क के सीईओ थे। हालांकि‍ मार्क अब भी कंपनी के बोर्ड वाइस चेयरमैन बने रहेंगे। वहीं, निकेश अरोड़ा बोर्ड के चेयरमैन भी होंगे। 
 
कई लोग हैं हैरान 
 
कई लोगों के लिए यह फ़ैसला हैरान करने वाला है। क्रेडिट स्विस के एनलिस्ट ब्रैड जेलनिक ने फाइनेंशियल टाइम्स से कहा कि अरोड़ा के पास साइबर सिक्योरिटी का कोई अनुभव नहीं है। 
 
हालांकि यह भी कहा जा रहा है कि निकेश के पास क्लाउड और डाटा डीलिंग का व्यापक अनुभव है और साइबर सिक्योरिटी डाटा एनालिसिस समस्या में बुरी तरह जकड़ी हुई है। 
 
गूगल और सॉफ्ट बैंक में भी कि‍या काम 
 
निकेश ने करियर में उस वक़्त छलांग आई जब उन्हें गूगल में नौकरी मिली। निकेश 2004 से 2007 सात तक गूगल के यूरोप ऑपरेशन के प्रमुख रहे थे। 2011 में वो गूगल में चीफ बिजनेस ऑफिसर बन गए और इसके साथ ही उस श्रेणी में आ गए जिन्हें गूगल सबसे ऊंची पगार देती है। 
 
2014 में अरोड़ा ने सॉफ्ट बैंक जॉइन किया। सॉफ्ट बैंक में उन्हें ग्लोबल इंटरनेट इन्वेस्टमेंट प्रमुख की जि‍म्मेदारी मिली थी। निकेश को भारत और इंडोनेशिया में इंटरनेशनल इंटरनेट में निवेश का श्रेय दिया जाता है। उनके बढ़ते कद का ही यह प्रमाण है कि उन्हें सॉफ्ट बैंक के बोर्ड में शामिल कर लिया गया।
 
कौन हैं नीकेश अरोड़ा 
 
50 साल के निकेश अरोड़ा का जन्म 6 फरवरी 1968 को उत्तर प्रदेश के गाजि‍याबाद में हुआ था। निकेश के पिता इंडियन एयरफ़ोर्स में ऑफिसर थे। निकेश ने स्कूल की पढ़ाई दिल्ली में एयरफ़ोर्स के स्कूल से की थी।  
 
इसके बाद उन्होंने ग्रैजुएशन बीएचयू आईटी से इलेक्ट्रॉनिक इंजीनियरिंग में 1989 में किया था। ग्रैजुएशन के ठीक बाद विप्रो में नौकरी शुरू की, लेकिन उन्होंने जल्द ही नौकरी छोड़ दी। नौकरी छोड़ने के बाद निकेश आगे की पढ़ाई करने अमरीका चले गए। निकेश ने बोस्टन की नॉर्थ-ईस्टर्न यूनिवर्सिटी से एमबीए किया। 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट