बिज़नेस न्यूज़ » Industry » Companiesपेट दर्द के देसी नुस्‍खे से आया आइडि‍या, बना दि‍या दुनि‍या का सबसे बड़ा Bar

पेट दर्द के देसी नुस्‍खे से आया आइडि‍या, बना दि‍या दुनि‍या का सबसे बड़ा Bar

स्विट्जरलैंड के सेंट मॉरिट्ज शहर में है दुनिया का सबसे बड़ा विस्की बार है। डेवि‍ल्स प्लेस नाम के इस बार को सैंड्रो चलाते

1 of
नई दिल्ली. स्विट्जरलैंड के सेंट मॉरिट्ज शहर में है दुनिया का सबसे बड़ा विस्की बार है। डेवि‍ल्स प्लेस नाम के इस बार को सैंड्रो चलाते हैं। 22 साल पुराने इस विस्की बार में 25,00 से ज्यादा प्रकार की विस्की का कलेक्शन है। इस बार में मौजूद कलेक्शन में कई विस्की की बोतलें इतनी पुरानी है कि इनकी कीमत 21 लाख रुपये तक है। लेकि‍न हम जो खास बात आपको बता रहे हैं वह है इस बार का इंडि‍या कनेक्‍शन। 

आगे पढ़ें : देसी नुस्‍खे ने बना दि‍या सबसे बड़ा वि‍स्‍की बार 
एक भारतीय ने दि‍या था पेट दर्द का देसी नुस्‍खा 
 
इस बार को सैंड्रो के पिता क्लॉडियो बेर्नास्कोनी ने शुरू किया था। दरअसल 80 के दशक में स्विट्जरलैंड के बैंकों से बिजनस शुरू करने के लिए लोन नहीं मिलने पर क्लॉडियो भारत आए। मुंबई में रहने के दौरान एकबार उन्हें पेट में दर्द की शिकायत हुई। इसके बारे में जब उन्होंने अपने एक भारतीय मित्र को बताया तो उसने उन्हें सलाह दी कि रोज सुबह विस्की से ब्रश करें। सैंड्रो हंसते हुए बताते हैं, 'शायद उस आदमी ने मेर पिता को यह सलाह मजाक में दी होगी, लेकिन उन्होंने इसे बहुत ही गंभीरता से लिया'।  
आगे पढ़ें : पसंद आया वि‍स्‍की का टेस्‍ट तो खोला बार 
पसंद आया भारतीय वि‍स्‍की का टेस्‍ट और खोल दि‍या बार 
 
क्लॉडियो ने इस तरीके को आजमाया तो उन्‍हें भारतीय विस्की का टेस्ट अच्छा लगने लगा। सैंड्रो अपने पिता के बारे में आगे कहते हैं, 'भारतीय विस्की का फैन बनने के बाद उन्होंने निश्चय किया कि वह एक विस्की बार खोलेंगे।' बार खोलने के अपने सपने को पूरा करने के लिए क्लॉडियो ने कई तरह के काम किए और पैसे इकट्ठा करने लगे। सैंड्रो कहते हैं कि‍ उनके पि‍ता अब दुनियाभर में घूमकर अलग-अलग तरह की शराब के बेहतरीन ब्रैंड्स को अपने बार के कलेक्शन के लिए इकट्ठा करते हैं। 
आगे पढ़ें : 1940 में बनी वि‍स्‍की भी मि‍लती है यहां 
आराम से मि‍लती है वर्ल्‍ड वॉर वाली वि‍स्‍की 
 
इस बार का कलेक्शन कितना पुराना है इसका अंदाजा आप इस बात से लगा सकते हैं कि इसमें आपको यहां साल 1940 के आसपास बनी विस्की भी आसानी से मिल जाएगी।इस बार का नाम अपने विस्की, स्कॉच और सिंगल माल्ट के बड़े कलेक्शन की वजह से गिनेस बुक ऑफ वर्ल्ड रेकॉर्ड्स में भी दर्ज है। 
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट