बिज़नेस न्यूज़ » Industry » Companiesजानता हूं तेल की कीमतों से परेशान हैं लोग, जल्‍द निकालेंगे रास्ता : पेट्रोलियम मंत्री

जानता हूं तेल की कीमतों से परेशान हैं लोग, जल्‍द निकालेंगे रास्ता : पेट्रोलियम मंत्री

कर्नाटक चुनाव के बाद से पेट्रोल-डीजल की कीमतों में हर रोज बढ़ोतरी हो रही है।

1 of
 
नई दिल्ली. कर्नाटक चुनाव के बाद से पेट्रोल-डीजल की कीमतों में हर रोज बढ़ोतरी हो रही है। 12 मई को कर्नाटक में चुनाव था। इसके बाद से अब तक दिल्ली में पेट्रोल 1.62 प्रति लीटर रुपए महंगा हो चुका है। रविवार को दिल्ली में पेट्रोल के दाम 76.26 रुपए और मुंबई में 84.07 रुपए हो गए। इस बीच, पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने महंगे पेट्रोल-डीजल की वजह सेे आम जनता को हो रही परेशानियों की बात मानी। 


 
जल्द लगेगी तेल कीमतों पर लगाम 
न्यूज एजेंसी के मुताबिक, पेट्रोलियम मंत्री प्रधान ने कहा, ''मैं स्वीकार करता हूं कि तेल कीमतों में बढ़ोत्तरी से देश की जनता और खास तौर से मिडिल क्लास को काफी परेशानी हो रही है। इसके पीछे वजह तेल कंपनियों के प्रोडक्शन में कमी और अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतों में आई तेजी है। लेकि‍न भारत सरकार जल्द ही इसका हल खोज लेगी।'' 
 
 
गुजरात चुनाव के बाद भी बढ़े थे दाम 
पिछले साल गुजरात चुनाव से पहले इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन जैसी सरकारी कंपनियों ने वहां लगातार 15 दिन तक पेट्रोल के दाम में 1 से 3 पैसे की कटौती की थी। गुजरात में 14 दिसंबर को विधानसभा चुनाव हुए थे। वहां भी वोटिंग के बाद तेल कंपनियों ने दाम बढ़ाने शुरू कर दिए। 
 
बढ़े दाम
दिल्ली - पेट्रोल के दाम 33 पैसे बढ़कर 76.26 रुपए प्रति लीटर पर पहुंच गए। 
 
 
दो साल में 90 डॉलर/बैरल हो सकता है कच्चे तेल का दाम
मॉर्गन स्टेनली के मुताबिक, कच्चे तेल की कीमतों में दो साल तक उछाल आने का अनुमान है। 2020 तक यह 90 डॉलर प्रति बैरल तक पहुंच सकता है। इससे पहले अक्टूबर 2014 में यह 90 डॉलर प्रति बैरल के पार पहुंचा था।
 
 
दाम स्थिर रखने से कंपनियों को 500 करोड़ के नुकसान का अनुमान
कर्नाटक चुनाव से पहले तेल कंपनियों ने पेट्रोल-डीजल के दाम स्थिर रखे। इससे उन्हें करीब 500 करोड़ रुपए के नुकसान का अनुमान है। इसकी भरपाई के लिए अब कंपनियां तेल के दाम में हर दिन इजाफा कर रही हैं।
 
 

8 रुपए लीटर तक बढ़ सकते हैं दाम 

- मॉर्गन स्टेनली के मुताबिक, विदेशी बाजार में कच्चे तेल की कीमत में उछाल आने से घरेलू बाजार में भी पेट्रोल-डीजल की कीमतों में तेजी रहने की संभावना है। पेट्रोल-डीजल के दाम अभी 6 से 8 रुपए तक बढ़ सकते हैं।

- कोटक इंस्टीट्यूशनल इक्विटी ने भी पेट्रोल के दाम में 4 रुपए प्रति लीटर तक उछाल आने की संभावना जताई है।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट