Advertisement
Home » इंडस्ट्री » कम्पनीजeveready is going to be sold

करोड़ों लोगों को अंधेरे से उजाले की तरफ ले जाने वाली यह कंपनी तलाश रही है खरीदार, देश की पुरानी कंपनियों में है शुमार

देश की 100 साल पुरानी यह कंपनी बेचना चाहती है अपने शेयर

eveready is going to be sold

नई दिल्ली। दशकों पहले देश के करोड़ों लोगों को अंधेरे से निजात दिलाने वाली बीएम खेतान की एवरेडी अपनी फ्लैगशिप कंपनी एवरेडी इंडस्ट्रीज को बेच रही है। ड्राइ सेल बैटरीज और फ्लैशलाइट्स सेक्टर की सबसे बड़ी इस कंपनी ने खरीदारों से आवेदन मांगे हैं। बीएम खेतान के पास इस कंपनी के 45 पर्सेंट शेयर हैं। सूत्रों  की माने तो बिक्री प्रक्रिया को अंजान देने के लिए एवरेडी ने कोटक महिंद्रा बैंक का चयन किया है। आपको बता दें कि एवरेडी दुनिया की सबसे बड़ी बल्क टी प्रॉड्यूसर मैकलियॉड रसेल, किलबर्न इंजीनियरिंग और मैकनैली भारत आदि शामिल हैं।

 

कंपनी के शेयर प्राइस पिछले साल की तुलना में काफी कम

आपको बता दें कि एवरेडी देश की लगभग 100 साल पुरानी कंपनी है। 1905 से एवरेडी पर यूनियन कार्बाइड का हक था। इस कंपनी पर अपना हक जमाने के लिए खेतान परिवार ने बॉम्बे डाइंग के नुस्ली वाडिया के साथ बड़ी लड़ाई लड़ी थी। इस लड़ाई में खेतान परिवार की जीत हुई और 300 करोड़ की एवरेडी को अपने नाम कर लिया। वर्तमान में कंपनी के शेयर प्राइस पिछले साल की तुलना में काफी कम रहे हैं। जिस कारण एवरेडी का मार्केट वैल्यू 1,350 करोड़ रुपए है। 

Advertisement

 

तलाश रही है खरीदार

फिलहाल एवरेडी इंडस्ट्रीज के एमडी अमृतांशु खेतान ने इस बार बात करने से मना कर दिया है। लेकिन पारिवारिक सूत्रों का कहना है कि कंपनी के प्रमोटर्स एक स्ट्रैटिजिक पार्टनर की तलाश कर रहे हैं। उन्हें एक ऐसा खरीदारी चाहिए जो उनसे कंपनी के शेयर खरीद लें। वहीं एक सूत्र ने बताया कि यदि सब सही रहा तो वे अपना 30 प्रतिशत शेयर बेच देंगे जबकि सिर्फ 10 से 15 प्रतिशत शेयर अपने पास रखेंगे। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
Advertisement
Don't Miss