विज्ञापन
Home » Industry » CompaniesSupreme Court directs the arrest of Amrapali Group CMD, Anil Sharma and two other directors in a criminal case

Amrapali Group के CMD अनिल शर्मा और 2 डायरेक्टर होंगे गिरफ्तार, SC का आदेश

सीएमडी और दोनों डायरेक्टर्स की प्रॉपर्टी अटैच करने के भी दिए निर्देश

Supreme Court directs the arrest of Amrapali Group CMD, Anil Sharma and two other directors in a criminal case

नई दिल्ली. सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने दिल्ली पुलिस को आम्रपाली ग्रुप (Amrapali Group) के सीएमडी अनिल शर्मा (Anil Sharma) और दो डायरेक्टर्स की गिरफ्तारी का आदेश दिया है। एक आपराधिक मामले में यह कार्रवाई की गई है। इसके साथही शर्मा सहित तीनों डायरेक्टर की प्रॉपर्टीज भी जब्त करनेके आदेश दिए गए हैं। सुप्रीम कोर्ट गुरुवार को आम्रपाली के अधूरे प्रोजेक्ट्स के मामले में सुनवाई कर रहा था।

 

कोर्ट ने कहा-किसी एजेंसी को गिरफ्तार करने से नहीं रोका

कोर्ट ने कहा कि दिल्ली पुलिस की इकोनॉमिक ऑफेंस विंग (ईओडब्ल्यू) आम्रपाल के अन्य दो डायरेक्टर्स शिव प्रिया और अजय कुमार को भी इस मामले में गिरफ्तार कर सकती है। जस्टिस अरुण मिश्रा और यू यू ललित की एक बेंच ने कहा, ‘हम डायरेक्टर्स की गिरफ्तारी से किसी भी एजेंसी को नहीं रोका है, जिन्हें यूपी पुलिस ने एक होटल में रखा हुआ है।’ गौरतलब है कि सुप्रीम कोर्ट आम्रपाली ग्रुप के 42,000 फ्लैट बायर्स की संयुक्त याचिका पर सुनवाई कर रही थी।

 

अनिल शर्मा और दोनों डायरेक्टर्स की प्रॉपर्टी भी होंगी अटैच

सुप्रीम कोर्ट ने सुनवाई के बाद सीएमडी अनिल शर्मा के साउथ दिल्ली स्थिति बंगले के साथ ही उनकी पूरी पर्सनल प्रॉपर्टी अटैच करने के भी आदेश दिए हैं। इसके अलावा कोर्ट ने यह भी स्पष्ट कर दिया कि अन्य दोनों डायरेक्टर्स की प्रॉपर्टी भी अटैच की जा रही हैं।

इससे पहले सुप्रीम कोर्ट आम्रपाली के फाइव स्टार होटल, लग्जरी कारें, मॉल, FMCG कंपनी, फैक्टरी कॉरपोरेट ऑफिस और होमबॉयर्स के पैसे से खरीदी गई अन्य संपत्तियों को अटैच करने के निर्देश भी दे चुका है। सुप्रीम कोर्ट ने डेट रिकवरी ट्रिब्यूनल को आम्रपाली की एसेट्स बेचने के निर्देश दिए थे।

 

26 मार्च को होगी अगली सुनवाई

सुप्रीम कोर्ट ने फॉरेंसिक ऑडिटर्स को आम्रपाली ग्रुप के होमबायर्स के पैसे के ट्रांसफर और डायवर्जन की विस्तृत जांच 22 मार्च तक पूरे करने के निर्देश दिए। साथ ही अगली सुनवाई के लिए 26 मार्च की तारीख तय कर दी गई है।

 

कैसे पूरे होंगे अधूरे प्रोजेक्ट्स

सुप्रीम कोर्ट ने कहा था कि 2015 से 2018 तक के बीच के कागजात सोमवार तक फोरेंसिक ऑडिटर्स को दिए जाएं। साथ ही कोर्ट ने NBCC से भी पूछा था कि किस तरह आम्रपाली के अधूरे प्रोजेक्ट कैसे पूरे होंगे। दरअसल, आम्रपाली के सीएमडी अनिल शर्मा ने माना था कि होमबॉयर्स के 2900 करोड़ रुपए दूसरी कंपनियों व अफसरों को बतौर गिफ्ट व अन्य तरीके से दिए गए।
 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन