Home » Industry » CompaniesLocomotive Rail Engine: Railways convert diesel engine into electric engine

कबाड़ में तब्दील हो रहे डीजल इंजन को इलेक्ट्रिक इंजन में बदल डाला

रेलवे ने बताया कि डीजल लोकोमोटिव को इलेक्ट्रिक इंजन में बदलने का काम मात्र 69 दिनों में पूरा किया गया।

1 of

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के चुनाव क्षेत्र वाराणसी में लोकोमोटिव रेल इंजन कारखाना के इंजीनियरों ने खराब हो रहे डीजल इंजन को इलेक्ट्रिक इंजन में बदलकर एक नया इतिहास रच दिया है। मेक इन इंडिया के चलते  स्वदेशी तकनीक को अपनाते हुए डीजल रेल कारखाने ने डब्लूएजीसी 3 श्रेणी के रेल इंजन से शुरुआत की है। गुरुवार को रेलवे ने बताया कि डीजल लोकोमोटिव को इलेक्ट्रिक इंजन में बदलने का काम मात्र 69 दिनों में पूरा किया गया।  यह इंजन प्रदूषण मुक्त है और डीज़ल इंजन के मुक़ाबले बेहतर स्पीड और 10 हजार होर्स पावर की क्षमता देने में कारगर हैं। इससे लोकोमोटिव की क्षमता 2600 एचपी से बढ़कर 5000 एचपी हो गयी है। 

महज 69 दिन में पूरा किया गया काम

इस परियोजना पर काम 22 दिसंबर, 2017 को शुरू हुआ था और नया लोकोमोटिव 28 फरवरी, 2018 को तैयार करके भेजा गया। रेलवे ने बृहस्पतिवार को बताया कि अवधारणा से लेकर डीजल लोकोमोटिव को विद्युत इंजन में बदलने तक का काम महज 69 दिन में पूरा किया गया। रेलवे ने कहा, ‘‘भारतीय रेलवे के मिशन शत प्रतिशत विद्युतीकरण और गैर-कार्बनीकरण एजेंडा के मद्देनजर डीजल लोकोमोटिव वर्क्स, वाराणसी ने एक नया प्रोटोटाइप विद्युत लोकोमोटिव तैयार किया है जिसे डीजल लोकोमोटिव से बदलकर विकसित किया गया है। अनिवार्य परीक्षण के बाद लोकोमोटिव को वाराणसी से लुधियाना के लिए भेजा गया।’’

 

अगली स्लाइड में पढ़ें किस काम आएगा यह इंजन

इसका इस्तेमाल अब अगले 35 वर्ष तक माल ढ़ोने के लिए किया जाएगा

इस इंजन का इस्तेमाल अब अगले 35 वर्ष तक माल ढ़ोने के लिए किया जाएगा। इसके साथ ही यह इंजन पर्यावरण को बहाल करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा।

 

अगली स्लाइड में पढ़ें और...

प्रतिघंटे 80 किलोमीटर की स्पीड से दौड़ सकती है यह ट्रेन

यह इंजन मौजूदा माल ट्रेन का इंजन के 75 किलोमीटर प्रति घंटे के मुकाबले लोड माल ट्रेन को लेकर प्रतिघंटे 80 किलोमीटर की स्पीड से दौड़ सकती है। इससे ट्रैक और स्टेशन दोनों का स्थान रिक्त होगा। और बचे समय में नई ट्रेन चलाई जा सकती है। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट