विज्ञापन
Home » Industry » CompaniesJet Airways 15 more planes grounded due to non payment of lease rentals

जेट एयरवेज के 15 और विमान ग्राउंडेड, अब ऑपरेशन में बचे सिर्फ 20 एयरक्राफ्ट

वित्तीय संकट से जूझ रही जेट एयरवेज (Jet Airways) के 15 और विमान किराया नहीं चुकाने के कारण खड़े कर दिए गए हैं।

Jet Airways 15 more planes grounded due to non payment of lease rentals

वित्तीय संकट से जूझ रही जेट एयरवेज (Jet Airways) के 15 और विमान किराया नहीं चुकाने के कारण खड़े कर दिये गये हैं और अब उसके मात्र 20 विमान ही परिचालन में बचे हैं।

मुंबई. वित्तीय संकट से जूझ रही जेट एयरवेज (Jet Airways) के 15 और विमान किराया नहीं चुकाने के कारण खड़े कर दिये गये हैं और अब उसके मात्र 20 विमान ही परिचालन में बचे हैं। कंपनी ने मंगलवार को स्टॉक एक्सचेंज फाइलिंग के माध्यम से यह जानकारी दी। कुछ महीने पहले तक जेट एयरवेज (Jet Airways) कुल 120 विमानों के बेड़े का परिचालन कर रही थी।

 

पिछले सप्ताह तक परिचालन में थे 35 विमान

पिछले सप्ताह के आरंभ में नागर विमानन महानिदेशालय (DGCA) ने बताया था कि कंपनी के मात्र 35 विमान परिचालन में हैं। इस प्रकार कुछ महीने पहले तक 120 विमानों का बेड़ा रखने वाली कंपनी के विमानों की संख्या घटकर अब 20 रह गई है। 
एयरलाइंस ने कहा है कि नकदी संकट के कारण वह किराये की राशि नहीं चुका पा रही है। उसने कहा है कि नकदी संकट हल करने के लिए किए गए उपायों के बारे में उसने विमान पट्टे पर देने वाली कंपनियों को बताया गया है। 

 

लेंडर्स को भुगतान में भी नाकाम रही है कंपनी

उल्लेखनीय है कि जेट एयरवेज (Jet Airways) लेंडर्स को भी भुगतान करने में विफल रही है। दिवालिया प्रक्रिया के तहत भारतीय स्टेट बैंक (SBI) के नेतृत्व वाले कंसोर्टियम ने उसके ऋण के बदले इक्विटी के माध्यम से हिस्सेदारी लेने का फैसला किया है, जिसे एयरलाइंस के बोर्ड ने भी मंजूरी दे दी है। 

 

एसबीआई 1500 करोड़ रु देने को राजी

एसबीआई (SBI) तत्काल 1,500 करोड़ रुपए की नकदी उपलब्ध कराने पर भी सहमत हुआ है, लेकिन कर्मचारियों के बकाये, विमान ईंधन के लिए भुगतान, हवाई अड्डा शुल्क और विमानों के किराये के मदद में भारी बकाए को देखते हुये यह धनराशि काफी कम है। 
नागर विमानन मंत्रालय में पिछले सप्ताह के आरंभ में जेट एयरवेज को लेकर हुई बैठक के बाद नागर विमानन सचिव प्रदीप सिंह खरोला ने बताया था कि एसबीआई (SBI) की नकदी उपलब्ध कराने और प्रबंधन में बदलाव के मद्देनजर विमानों के पट्टेदारों से बात की जाएगी। साथ ही यह सुनिश्चित किया जाएगा कि कोई और विमान ग्राउंडेड न हो। मंगलवार को 15 और विमानों के ग्राउंडेड होने से साफ है कि बात बन नहीं सकी है। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन