Home » Industry » CompaniesVolkswagen India announces a price hike of up to 3% from January 2019

महंगी होने लगी कारें, फॉक्सवैगन ने बढ़ाई कीमत

2019 से अपनी गाड़ियों के दाम में 3 फीसदी तक की बढ़ोतरी करेगी ये कार कंपनी

1 of

नई दिल्ली। यूरोप की कार निर्माता कंपनी फॉक्स वैगन ने हाल ही में घोषणा की है कि वह जनवरी 2019 से अपनी गाड़ियों के दाम में 3 फीसदी तक की बढ़ोतरी करेगा। इससे पहले मारुति सुजुकी, BMW, हुंडई, महिंद्रा ने भी घोषणा की है कि वह जनवरी 2019 से अपनी कारों की कीमतों में वृद्धि करने जा रही है। कंपनी ने ऐसा करने के पीछे कारण बताया है कि अर्थव्यवस्था के भीतर गतिशील परिवर्तनों और रुपये की गिरावट के चलते इनपुट लागत में बढ़ोतरी हो रही है। जिसके चलते उन्हें पैसेंजर व्हीकल सेगमेंट में कीमतों में बढ़ोतरी करना जरूरी लग रहा है। फॉक्सवैगन के डारेक्टर स्टेफेन नैप ने कहा कि पिछले कुछ समय से हम अअर्थव्यवस्था के भीतर विशेष रूप से इनपुट लागत की वृद्धि में कई उतार-चढ़ाव देख रहे हैं। 

 

BMW और Ford ने बढ़ाई कीमतें 
गौरतलब है  कि कई कंपनियों ने कार की बढ़ी कीमतों का ऐलान कर दिया, जबकि बाकी कंपनियां फिलहाल इस पर काम कर रही हैं। कारों की कीमतों में होने वाली ये बढ़ोतरी एक लाख रुपए तक हो सकती है। Maruti Suzuki ने एक जनवरी से अपने सभी मॉडल की कीमतों में इजाफे की बात कही है। हर एक मॉडल की कीमतों में इजाफा अलग-अलग होगा। कंपनी जल्द बढ़ी कीमतों का खुलासा करेगी। पिछले हफ्ते Toyota kirloskar मोटर्स और फोर्ड ने 1 जनवरी से अपनी कारों कीमत बढ़ाने का ऐलान किया था। टोयोटा ने 4 फीसदी जबकि फोर्ड ने 1-3 फीसदी की बढ़ोतरी की है। वहीं महिंद्रा ने हाल ही में अपनी मल्टी पर्पज व्हीकल माराजो की कीमत में 30 से 40 हजार रुपए की बढ़ोतरी की है। इसके अलावा जर्मन लग्जरी कार मेकर कंपनी बीएमडब्ल्यू ने एक जनवरी से अपनी सभी कार की कीमतों में 4 फीसदी की बढ़ोतरी की है। Isuzu मोटर इंडिया ने अपनी कार की कीमत 1 लाख रुपए तक बढ़ाने के संकेत दिए हैं। 

 

आगे पढ़ें-कारों की कीमतों में इजाफे की क्या है वजह

 

दाम बढ़ने की क्या रही वजह

कार कंपनियों ने कीमतें बढ़ाने की कई वजह बताई हैं। इनमें से डॉलर के मुकाबले रुपए का कमजोर होना एक वजह है। इसकी वजह से कंपनियों की लागत में बढ़ोतरी हुई है। इसके अलावा फ्यूल की कीमतें बढ़ने की वजह से भी कंपनियों की ट्रांसपोर्टेशन कॉस्ट में इजाफा हुआ है। वहीं इंटरेस्ट रेट और इंश्योरेंस कॉस्ट भी कंपनियों की मुसीबत बढ़ी रही हैं। साथ ही कॉमोडिटी कॉस्ट का बढ़ने को भी कार की कीमतों में इजाफे को एक वजह माना जा रहा है।  

 

आगे पढ़ें- इन कार कंपनियों ने नहीं बढ़ाई कीमतें

टाटा मोटर्स और Hyundai ने नहीं बढ़ाई कीमतें

Tata Motors और Hyundai ने फिलहाज कार की कीमतों में बढ़ोतरी का ऐलान नहीं किया है। लेकिन इतना जरुर कहा गया कि वो पूरी स्थिति का आंकलन कर रहे हैं। ऐसे में अगर जरूरी महसूस हुआ तो कार की कीमतों में बढोतरी करेंगे।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट