बिज़नेस न्यूज़ » Industry » Companiesरुचि सोया के लिए पतंजलि ने लगाई 4 हजार Cr की बोली, 4 कंपनियां दौड़ में

रुचि सोया के लिए पतंजलि ने लगाई 4 हजार Cr की बोली, 4 कंपनियां दौड़ में

पतंजलि आयुर्वेद ने बैंकरप्ट हो चुकी इडिबल ऑयल कंपनी रुचि सोया को खरीदने के लिए 4,000 करोड़ रुपए की बोली लगाई है।

1 of

 

नई दिल्ली. एफएमसीजी कंपनी पतंजलि आयुर्वेद ने बैंकरप्ट हो चुकी इडिबल ऑयल कंपनीरुचि सोया को खरीदने के लिए 4,000 करोड़ रुपए की बोली लगाई है। सूत्रों के मुताबिक रुचि सोया को खरीदने के लिए बाबा रामदेव की अगुआई वाली कंपनी की बोली सबसे ऊंची है। कर्ज के बोझ से दबी कंपनी को खरीदने के लिए बोली लगाने वालों में पतंजलि के अलावा अडानी विलमर, इमामी एग्रोटेक और गोदरेज एग्रोटेक भी शामिल हैं।

 

 

रुचि सोया पर है 12 हजार करोड़ रुपए का कर्ज

पतंजलि आयुर्वेद का इडिबल ऑयल रिफाइनिंग और पैकेजिंग के लिए रुचि सोया के साथ पहले से ही टाई-अप है। इन्सॉल्वेंसी प्रोसीडिंग्स का सामना कर रही इंदौर की रुचि सोया पर लगभग 12 हजार करोड़ रुपए का कर्ज है। कंपनी के कई मैन्युफैक्चरिंग प्लांट्स और न्यूट्रिला, महाकोष, सनरिच, रुचि स्टार और रुचि गोल्ड सहित कई लीडिंग ब्रांड हैं।

 

 

पतंजलि ने लगाई 4 हजार करोड़ की बिड

एक सूत्र ने कहा, ‘पतंजलि ने रुचि सोया के लिए 4,000 करोड़ रुपए से ज्यादा की बिड लगाई है।’ पिछले सप्ताह पतंजलि के एक स्पोक्सपर्सन ने कहा था कि कंपनी ने रुचि सोया के लिए बिड लगाई है, क्योंकि वह इडिबल ऑयल सेगमेंट खासकर सोयाबीन ऑयल की बड़ी कंपनी बनना चाहती है। कंपनी इसके माध्यम से किसानों को फायदा पहुंचाने की दिशा में काम करना चाहती है।

 

 

गोदरेज, इमामी और अडानी भी दौड़ में

गोदरेज एग्रोवेट और इमामी एग्रोटेक ने भी पुष्टि की है कि उन्होंने रुचि सोया के लिए बिड लगाई है। हालांकि उन्होंने वैल्यु का खुलासा नहीं किया है। सूत्रों ने कहा कि अडानी विलमर ने भी बिड लगाई है, जो फॉर्च्यून ब्रांड के अंतर्गत कुकिंग ऑयल की बिक्री करती है।

 

 

एंटरिम रिजॉल्युशन प्रोफेशनल की हो चुकी है नियुक्ति

दिसंबर, 2017 में रुचि सोया इंडस्ट्रीज पर कॉरपोरेट इन्सॉल्वेंसी रिजॉल्युशन प्रॉसेस (सीआईआरपी) शुरू हुआ था और शैलेंद्र अजमेरा को एंटरिम रिजॉल्युशन प्रोफेशनल (आईआरबी) अप्वाइंट किया गया था।   

क्रेडिटर्स स्टैंडर्ड चार्टर्ड बैंक और डीबीएस बैंक द्वारा इन्सॉल्वेंसी एंड बैंकरप्सी कोड के तहत फाइल की गई एप्लीकेशन पर नेशनल कंपनी लॉ ट्रिब्यूनल (एनसीएलटी) द्वारा यह अप्वाइंटमेंट किया गया था।

इमामी एग्रोटेक, कोलकाता के 100 अरब रुपए के बिजनेस ग्रुप इमामी ग्रुप ऑफ कंपनीज की इडिबिल ऑयल एंड बायो डीजल आर्म है। इमामी ग्रुप इडिबिल ऑयल, स्पेशियल्टी फैट्स और बायो डीजल के प्रोडक्शन और डिस्ट्रीब्यूशन जैसे सेगमेंट्स में भी कारोबार कर रही है।

गोदरेज ग्रुप का हिस्सा गोदरेज एग्रोवेट एनीमल फीड्स, क्रॉप प्रोटेक्शन, ऑयल पाम, डेयरी, पोल्ट्री और प्रोसेस्स्ड फूड्स आदि कारोबार से जुड़ी है।


 
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट