Home » Industry » Companiesget cash from atms using upi app and qr code

डेबिट कार्ड की जगह QR Code से एटीएम से निकाल सकेंगे रुपए

इसके जरिए पैसे निकालने के लिए खाताधारकों को मोबाइल एप्लीकेशन को सब्सक्राइब करना पड़ेगा।

1 of

नई दिल्ली: अभी तक एटीएम से पैसा निकालने के लिए ग्राहकों को पिन की डालने की जरूरत पड़ती है लेकिन अब यूजर्स को एक नई सुविधा मिलने वाली है। जल्द ही यूजर्स क्यूआर कोड स्कैन करके एटीएम से कैश निकाल सकते हैं।  बैंकों को एटीएम की सर्विस देने वाली कंपनी AGS ने बताया कि वह UPI प्लेटफॉर्म पर काम कर रही है। जिससे मात्र क्यूआर कोड के जरिए एटीएम से पैसे निकाले जा सकते हैं।  UPI payment सर्विस को इस्तेमाल करने के लिए यूजर्स को किसी नई सर्विस में साइन इन करने या फिर नए ऐप को डाउनलोड करने की कोई जरूरत नहीं होगी। इसके जरिए पैसे निकालने के लिए खाताधारकों को मोबाइल एप्लीकेशन को सब्सक्राइब करना पड़ेगा। 

 

UPI payment  करते  वक्त यूजर्स को  QR code की जरूरत होगी। अभी तक UPI payment से पेमेंट करने के लिए QR code का इस्तेमाल किया जाता है। यदि आपने अपने अकाउंट को UPI अकाउंट से लिंक किया है तो आप QR code का इस्तेमाल कर पैसे निकाल सकते हैं। एक अंग्रेजी अखबार की खबर के मुताबिक AGS Transact Technologies के सीएमडी रवि बी गोयल ने बताया कि इसपर काम पूरा हो चुका है। हमने काफी बैंकों से इसके बारे में बात की है और वह सभी इस सुविधा को लेकर काफी उत्सुक हैं। AGS ने कहा कि इस सुविधा पर अभी नेशनल पेमेंट कॉरपोरेश ऑफ इंडिया (NPCI) से मंजूरी मिलने का इंतेजार है। 

 

अगली स्लाइड में जाने क्या है  UPI payment की खासियत

UPI payment की खास बात
आपको बता दें कि (NPCI) एटीएम नेटवर्क और यूपीआई प्लेटफॉर्म को कंट्रोल करती है. एटीएम और यूपीआई नेटवर्क दोनों एक ही फाइनेंसियल प्लेटफॉर्म पर काम करते हैं। वहीं यदि बात की जाए SBI या बाकी बैंकों की तो यह 2019 से एटीएम को लेकर कुछ बदलाव करने की सोच रहे हैं। UPI payment की खास बात यह है कि यह सुविधा लॉन्च करने के लिए बैंकों को अपने मौजूदा एटीएम में बदलाव पर बड़ी रकम खर्च करने की जरूरत नहीं पड़ेगी।

 

आगे पढ़ें कैसे UPI payment कार्डलेस एटीएम से है बेहतर

यह मौजूदा कार्डलेस एटीएम से बेहतर
कंपनी के ग्रुप चीफ टेक्नॉलजी ऑफिसर महेश पटेल ने कहा, 'यह मौजूदा कार्डलेस एटीएम निकासी से बेहतर है क्योंकि यह बिल्कुल आसान और तेज है।' वहीं, दूसरी तरफ कंपनी के सीएमडी ने कहा, 'यूपीआई और एटीएम, दोनों एक ही प्लैटफॉर्म से संचालित होते हैं और यूपीआई सुरक्षित ट्रांजैक्शन सिस्टम साबित हो चुका है।' 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट