Home » Industry » Companieshow ril market valuation decrease 30000 cr rs in few hours, know about mukesh ambani

2 दिन पहले खुद अपनी पीठ ठोक रहे थे अंबानी, अब डूब गए 30 हजार करोड़ रु

रिकॉर्ड कमाई के बाद भी मुकेश अंबानी को लगा बड़ा झटका

1 of

 

नई दिल्ली. दो दिन पहले तक रिलायंस इंडस्ट्रीज (RIL) चेयरमैन मुकेश अंबानी अपनी पीठ ठोक रहे थे। हालांकि इसकी वजह भी थी, उनकी कंपनी ने जुलाई-सितंबर तिमाही के दौरान 9,516 करोड़ रुपए का प्रॉफिट दर्ज किया था। हालांकि 48 घंटों में हालात ऐसे बदले कि उनकी कंपनी की मार्केट वैल्युएशन में लगभग 30 हजार करोड़ रुपए की कमी दर्ज की गई। उन्हें यह झटका शुक्रवार को RIL के स्टॉक में 4 फीसदी की गिरावट की वजह से लगा है।

 

30 हजार करोड़ रु घटी मार्केट वैल्यू

शुक्रवार को आरआईएल के स्टॉक 4 फीसदी से ज्यादा की गिरावट के साथ लगभग 1102 रुपए पर आ गया। इससे कंपनी की मार्केट वैल्यू 7.28 लाख करोड़ रुपए से घटकर 6.98 लाख करोड़ रुपए पर आ गई। इस प्रकार कुछ ही घंटों में कंपनी की मार्केट वैल्यू लगभग 30 हजार करोड़ रुपए घट गई।  

आगे पढ़ें- मुकेश अंबानी ने क्या कहा था

 

 

यह भी पढ़ें- जिसे खरीदने में तीन बार नाकाम हुए अंबानी, उसी कंपनी ने दुनिया में जमाई धाक 

 

 

कंपनी को हुआ था रिकॉर्ड प्रॉफिट

आरआईएल ने दो दिन पहले यानी बुधवार को अपने जुलाई-सितंबर तिमाही के नतीजे जारी किए थे। इस अवधि में कंपनी ने 18 फीसदी की ग्रोथ के साथ 9,516 करोड़ रुपए का प्रॉफिट दर्ज किया था, जो उसका रिकॉर्ड प्रॉफिट था। कंपनी को सबसे ज्यादा फायदा अपने पेट्रोकेमिकल बिजनेस और रिटेल बिजनेस से हुआ था। हालांकि उसकी टेलिकॉम इकाई जियो के प्रॉफिट में भी बढ़ोत्तरी दर्ज की गई थी।

 

क्या कहा था मुकेश अंबानी ने

रिजल्ट पर प्रतिक्रिया देते हुए अंबानी ने कहा था, ‘कमोडिटी और करंसी मार्केट में उतार-चढ़ाव भरे दौर में कंपनी ने अपने रिफाइनिंग और पेट्रोकेमिकल बिजनेस से अच्छा कैश फ्लो अर्जित किया है।’

वहीं Jio से मिले प्रॉफिट से भी खासे उत्साहित दिखे। उन्होंने कहा, ‘हम 25 महीने के भीतर 25 करोड़ से ज्यादा सब्सक्राइबर्स जोड़कर खासे खुश हैं। जल्द ही हमारे कस्टमर्स को अगली पीढ़ी की फाइबर-टू-होम (एफटीटीएच) और एंटरप्राइजेज सर्विसेस उपलब्ध होने जा रही है।’

आगे पढ़ें- 5 हजार करोड़ से ज्यादा के निवेश का किया था ऐलान

 

 

 

डेन और हाथवे में 5 हजार करोड़ से ज्यादा करेगी निवेश

आरआईएल ने डेन नेटवर्क लिमिटेड, हाथवे केबल और डाटाकॉम लिमिटेड में 50 फीसदी से अधिक हिस्सेदारी खरीदने का भी ऐलान किया था। कंपनी इस सौदे पर कुल 5,230 करोड़ रुपए खर्च करेगी। कंपनी ने कहा था कि आरआईएल प्रेफरेंशियल इश्यू के जरिए डेन में 2,045 करोड़ का प्राइमरी निवेश करेगी और प्रमोटर्स से 245 करोड़ रुपए में हिस्सेदारी भी खरीदेगी।

इसके अलावा कंपनी हाथवे में प्रेफरेंशियल इश्यू के जरिए 2,940 करोड़ रुपए का प्राइमरी निवेश करेगी और 51.3 फीसदी हिस्सेदारी खरीदेगी। आरआईएल जीटीपीएल हाथवे के माइनॉरिटी स्टेकहोल्डर्स के लिए ओपन ऑफर की पेशकश भी करेगी।

 
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट