बिज़नेस न्यूज़ » Industry » Companiesटाटा स्‍टील को मिली भूषण स्‍टील खरीदने की बोली, अब रेग्‍युलेटस की मंजूरी का इंतजार

टाटा स्‍टील को मिली भूषण स्‍टील खरीदने की बोली, अब रेग्‍युलेटस की मंजूरी का इंतजार

टाटा स्‍टील लिमिटेड ने कहा है कि उसने भारी कर्ज में फंसी भूषण स्‍टील को खरीदने की बोली जीत ली है।

1 of

नई दिल्‍ली. टाटा स्‍टील लिमिटेड ने कहा है कि उसने भारी कर्ज में फंसी भूषण स्‍टील को खरीदने की बोली हासिल कर ली है। इन्‍सॉल्‍वेंसी ऑक्‍शन के जरिए यह बोली लगाई गई थी। वहीं, टाटा स्‍टील की ओर से दिए गए रिजॉल्‍यूशन प्‍लन को भूषण स्‍टील अप्रूवल के लिए एनसीएलटी के पास सौंपैगी। भूषण स्टील को खरीदने की रेस में टाटा स्टील सबसे आगे थी। भूषण स्टील के लिए टाटा स्टील ने 36 हजार करोड़ रुपए की बोली लगाई। भूषण स्टील पर कुल 56,000 करोड़ रुपए का कर्ज है।

 

टाटा स्‍टील की ओर से जारी एक बयान में कहा गया है, कंपनी को भूषण स्‍टील लिमिटेड के क्रेडिटर्स की कमिटी द्वारा 22 मार्च 2018 को सफल रिजॉल्‍यूशन अप्‍लीकेंट घोषित किया गया है। भूषण स्‍टील का अधिग्रहण पूरा करने के लिए टाटा स्‍टील को जरूरी रेग्‍युलेटरी मंजूरियां लेनी होंगी। इनमें एनसीएलटी और कॉम्पिटिशन कमीशन ऑफ इंडिया (सीसीआई) की मंजूरी भी शमिल है।

 

टाटा स्‍टील ने कहा है कि उसने कॉरपोरेट इन्‍सॉल्‍वेंसी रिजॉल्‍यूशन प्रॉसेस के तहत भूषण स्‍टील के लिए लेटर ऑफ इंटेंट (एलओआई) स्‍वीकार किया था। टाटा स्टील ने 7 मार्च को कहा था कि उसे भूषण स्टील में कंट्रोलिंग स्टेक लेने के लिए सबसे ऊंची बोली लगाने वाले एप्लिकेंट के रूप में स्वीकार किया गया था। 


पिछले साल जुलाई में मिली थी बैंकरप्‍सी के कार्रवाई की मंजूरी 
पिछले साल जुलाई में भूषण स्टील और भूषण स्टील एंड पावर के खिलाफ बैंकरप्सी की कार्रवाई का रास्ता साफ हो गया थ। तब नेशनल कंपनी लॉ ट्रिब्यूनल (एनसीएलटी) ने दोनों कंपनियों के खिलाफ बैंकरप्सी प्रोसीडिंग को मंजूरी दी थी। इन दोनों कंपनियों के खिलाफ क्रमशः एसबीआई और पीएनबी ने एनसीएलटी में पिटीशन फाइल की थी।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट