विज्ञापन
Home » Industry » CompaniesRs 11,000 crore benefit to people from fixing drug prices

मोदी सरकार के एक फैसले ने बदल दी तस्वीर, आम जनता को हुई 11 हजार करोड़ रुपए की बचत

सरकार ने संसद में दी जानकारी, लोगों को सस्ती कीमत पर मिल रहा असली सामान

1 of

नई दिल्ली। केंद्र की मोदी सरकार ने साढ़े चार साल के कार्यकाल में आम जनता के हित के लिए कई बड़े फैसले लिए हैं। इन फैसलों से जहां सरकार की कमाई बढ़ी है, वहीं आम जनता को भी बचत हुई है। आज हम आपको एक ऐसे ही फैसले के बारे में बताने जा रहे हैं जिससे देशभर के लोगों को 11 हजार करोड़ रुपए की बचत हुई है। साथ ही लोगों को असली सामान भी मिला है।

 

इस फैसले ने बदली तस्वीर
दरअसल, मोदी सरकार ने देश की आम जनता को सस्ता और सुलभ इलाज उपलब्ध कराने के लिए 855 दवाओं की कीमत तय कर दी है। अब इन दवाओं को सरकारी की ओर से निर्धारित कीमत से अधिक में नहीं बेचा जा सकता है। केंद्रीय राज्य मंत्री मनसुख लाल मांडविया की ओर से संसद में दी गई जानकारी में कहा गया है कि इन 855 दवाओं की कीमत निर्धारित करने से अब तक देशभर के लोगों की 11 हजार करोड़ रुपए की बचत हुई है। 

लोगों को मिलने लगी सस्ते इलाज की सुविधाएं


केंद्र की मोदी सरकार की ओर से दवाओं के साथ कई सारे मेडिकल उपकरण की कीमतें भी निर्धारित की गई हैं। इससे इन मेडिकल उपकरणों की कीमतें काफी कम हो गई हैं। इन उपकरणों की कीमत कम होने से आम जनता को सस्ता इलाज मिल रहा है। इसके अलावा सरकार ने कई प्रकार की जांचों की कीमत में भी कमी की है।

नेशनल फार्मास्यूटिकल प्राइसिंग अथॉरिटी तय करती है कीमत


राज्यमंत्री मनसुख लाल की ओर से संसद में दी गई जानकारी के अनुसार देश में दवाओं की कीमत निर्धारित करने के लिए सरकार ने ड्रग प्राइसेज कंट्रोल ऑर्डर पास किया है। इस ऑर्डर के जरिए नेशनल फार्मास्यूटिकल प्राइसिंग अथॉरिटी दवाओं की बिक्री कीमत तय करती है। इसमें दवा की लागत और कंपनियों का मुनाफा दोनों शामिल होती है। कोई भी कंपनी नेशनल फार्मास्यूटिकल प्राइसिंग अथॉरिटी  की ओर तय कीमत से ज्यादा कीमत में कोई दवा नहीं बेच सकती है। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन