Home » Industry » CompaniesPM Modi instructions to the bankers

पीएम मोदी का बैंकर्स को निर्देश, कारोबारियों के घर पर जाकर दें लोन

पीएम मोदी ने कहा कि ईमानदार व्यक्ति को कर्ज मांगने में कोई दिक्कत नहीं होनी चाहिए।

1 of

नई दिल्ली।  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि हमारी कोशिश यही है कि सरकार जीएसटी से जुड़े हर कारोबारी के घर पर जाकर लोन के बारे में पूछे। पीएम मोदी ने कहा कि वह चाहते हैं कि ईमानदार व्यक्ति को कर्ज मांगने में कोई दिक्कत नहीं होनी हो। पीएम मोदी ने यह भी कहा कि मैंने अफसरों से पूछा था कि आजादी का यह 72वां साल है और छोटे कारोबारियों के लोन के  पोर्टल के शुरू होते ही किसी भी उद्यमी को 59 मिनट में कर्ज मिल पाएगा।

 

एमएसएमई के लिए ऐलान के दौरान अपने भाषण में पीएम मोदी ने कहा कि यह घड़ी दिखा रही है कि अब तक कितने कारोबारियों को  कर्ज मिला है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि निर्यातकों के लिए भी यह दिवाली गिफ्ट है। प्री और पोस्ट-शिपमेंट के समय में जो  भी लोन मिलता है, उसे सरकार ने 3 पर्सेंट से बढ़ाकर 5 पर्सेंट करने का फैसला किया है। पीएम मोदी ने कहा कि अब कारोबारियों को लोन लेने में कोई समस्या नहीं होगी। उन्होंने कहा कि जिनकी टर्नओवर 500 करोड़ के ऊपर है TREDS प्लेटफॉर्म में लाना अनिवार्य होगा। 

 

देश के 80 शहरों में एक साथ इस प्रोग्राम की शुरुआत हुई

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 2 नवंबर को माइक्रो, स्मॉल एंड मीडियम एंटरप्राइजेज (MSME) सपोर्ट एंड आउटरीच प्रोग्राम की शुरुआत की। देश के 80 शहरों में एक साथ इस प्रोग्राम की शुरुआत हुई। जिसका मकसद इन शहरों में छोटे कारोबारों को मजबूती प्रदान करना है। इसके लिए हर शहर में एक हब डेवलप किया जाएगा, जिसका फायदा कारोबारियों को होगा। इस प्रोग्राम पर प्रधानमंत्री सीधे नजर रखेंगे, इसलिए केंद्र सरकार के अलग अलग विभागों के वरिष्ठ अधिकारियों को शहरों का प्रभारी अफसर नियुक्त किया गया है। 


 

क्या करेंगे काम 
इस प्रोग्राम के तहत बैंक, ईपीएफओ, ईएसआई, सिडबी, जिला उद्योग केंद्र, जिला प्रशासन के अधिकारियों की टीम का गठन किया जाएगा। जिसको प्रभारी अफसर लीड करेंगे। यह टीम छह तरीकों से कारोबारियों को फायदा पहुंचाएंगे। 
- आसानी से क्रेडिट (लोन) लेने में सहयोग करना 
- कैश फ्लो आसान करना 
- मार्केट तक कारोबारियों की पहुंच बढ़ाना 
- कर्मचारियों को सोशल सिक्योरिटी बेनिफिट देना 
- क्वालिटी सर्टिफिकेशन 
- सेक्टर वाइज मिनिस्ट्री का इंटरवेंशन 

 

कौन से शहर हैं शामिल 
शहर का नाम - सेक्टर 
विशाखा पट्‌टनम - फूड प्रोसेसिंग 
चित्तूर - टेक्सटाइल्स 
बारपेटा - बम्बू 
गया -  हैंडलूम 
बोकारो - स्टील एंसिलरी 
उधम सिंह - ऑटो कम्पोनेंट 
खूंटी - हैंडिक्राफ्ट 
वेस्ट सिक्किम : कार्डामोम 
हरिद्वार - इलेक्ट्रिक्ल इक्वीपमेंट 
मुर्शिदाबाद - हैंडलूम 
नादिया - हैंडलूम 
साउथ कच्चर - बम्बू 
कामरूप - हैंडलूम 
मधुबनी - हैंडिक्राफ्ट 
पटना - इलेक्ट्रॉनिक्स (LED)
भरूच - कैमिकल 
मानेसर - आटो पार्ट्स 
जमशेदपुर - आटो कम्पोनेंट 
भागलकोट - हैंडलूम 
धुले - फूड प्रोसेसिंग 
ईस्ट खासी हिल्स - ऑर्गेनिक - फ्लोरीकल्चर 
कटक - जेम्स ज्वेलरी 
बारगढ़ - हैंडलूम 
लुधियाना - अपरैल, इलेक्ट्रिकल इक्वीपमेंट 
वेस्ट त्रिपुरा - बम्बू 
वाराणसी - हैंडिक्राफ्ट्स 
उन्नाव - हैंडिक्राफ्टस 
कानपुर - लैदर 
नैनीताल - फूड प्रोसेसिंग 
पानीपत - हैंडलूम 
सोनीपत - हैंडलूम 
कांगड़ा - हैंडिक्राफ्ट 
उना - वूड वर्क 
रामनागरा - टॉय इंडस्ट्री 
होसकोट - ऑटो कम्पोनेंट 
नासिक - स्टील फर्नीचर 
औरंगाबाद - फार्मा 
पुणे - ऑटो कम्पोनेंट, फार्मा 
थाणे - पावर लूम 
जालंधर - स्पोर्ट्स गुड्स 
कपूरथला - जनरल इंजीनियरिंग 
मेरठ - स्पोर्ट्स गुड्स 
सहारनपुर - वुड वर्क 
इरोड - पावर लूम 
तिरुपुर - अपरैल 
गुंटुर - पावर लूम 
नरसापुर - हैंडिक्राफ्ट 
ईस्ट गोदावरी - फूड प्रोसेसिंग 
पपूमपरे - हैंडलूम 
नॉर्थ गोवा - फूड प्रोसेसिंग 
अहमदाबाद - प्लास्टिक 
कच्छ - हैंडिक्राफ्ट 
राजकोट - फाउंड्री 
वालसाड - कैमिकल 
सोमनाथ - फूड प्रोसेसिंग 
सुरेंद्र नगर - सेनटरी वेयर 
फरीदाबाद - ऑटो कम्पोनेंट 
बड्‌डी - फार्मा 
जम्मू - फूड प्रोसेसिंग 
बलारी - अपरैल 
मलूर - ऑटो कम्पोनेंट

 

आगे पढ़ें : कुछ और शहरों के नाम  

लडुकी - फूड प्रोसेसिंग 
कोटायम - रबड़ 
नागपुर - फूड प्रोसेसिंग 
सांगली - फूड प्रोसेसिंग 
इम्फाल ईस्ट - हैंडिक्राफ्ट 
ओखला - इलेक्ट्रिकल इक्वीपमेंट 
पारादीप - फूड प्रोसेसिंग 
पुरी - हैंडिक्राफ्ट 
बरनाला - एग्री इक्वीपमेंट 
कोयम्बटूर - इलेक्ट्रिकल एंड एग्री इक्वीपमेंट 

आगे पढ़ें : कुछ और शहरों के नाम 

तंजोर - हैंडिक्राफ्ट 
थिरवलौर - प्लास्टिक 
वैल्लूर - लैदर 
सोनामोरा - अगरबत्ती 
आगरा - लैदर 
भदोही - हैंडिक्राफ्ट 
मुरादाबाद - हैंडिक्राफ्ट 
फिरोजाबाद - ग्लास वर्क 
बंकूरा - हैडिक्राफ्ट 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट