Home » Industry » CompaniesSoftware Engineers are high on demand in companies

सॉफ्टवेयर इंजीनियर हैं तो मिलेंगे नौकरी के ज्यादा मौके

LinkedIn ने जारी की India Professional Workforce रिपोर्ट

1 of

ई दिल्ली। सॉफ्टवेयर इंजीनियरों के लिए अच्छी खबर है। मौजूदा ट्रेंड को देखा जाए तो सॉफ्टवेयर इंजीनियरों को कंपनियों में नौकरियों के ज्यादा मौके मिल रहे हैं और यह ट्रेंड आगे भी जारी रहेगा। Business और employment सेवा देने वाली कंपनी LinkedIn ने हाल ही में अपने प्लेटफॉर्म पर नौकरी और बिजनेस के बदलते ट्रेंड पर रिपोर्ट जारी की है। लिंक्डइन वर्कफोर्स रिपोर्ट के मुताबिक देश में नौकरी के लिए सॉफ्टवेयर इंजीनियरों की मांग सबसे ज्यादा है। 2018 के पहले छह महीनों में LinkedIn पर पोस्ट की गई कुल नौकरियों में से सबसे ज्यादा सॉफ्टवेयर इंजीनियरों के लिए थीं। इसके बाद ऐप्लीकेशन डेवलपर्स (Application Developers) दूसरे नंबर पर रहे। तकनीक आधारित नौकरियों के अलावा बिजनेस डेवलमेंट मैनेजर्स और प्राेजेक्ट मैनेजर्स भी कंपनियों द्वारा पोस्ट की गई टॉप 10 जॉब्स में शामिल रहे।

 

हुत बड़ा है लिंक्डइन का दायरा

लिंक्डइन पर देश के 5 करोड़ से ज्यादा प्रोफेशनल्स का प्रोफाइल है। 10 लाख से ज्यादा कंपनियों के पेज हैं और 5 लाख वीकली एक्टिव जॉब्स पोस् की जाती हैं। यहां मौजूद मेंबर्स ने कुल मिलाकर 50,000 स्किल्स अपने प्रोफाइल में शामिल कर रखी हैं। लिंक्डइन ने यह रिपोर्ट लोगों के लिंक्डइन प्रोफाइल्स में होने वाले बदलाव के आधार पर तैयार की है।

 

आगे पढ़ें- ये इंडस्ट्रीज कर रही हैं तेज ग्राेथ

 

 

ये इंडस्ट्रीज कर रही हैं तेज ग्राेथ

रिपोर्ट के मुताबिक लीगलएजुकेशन और डिजायन इंडस्ट्री सबसे तेजी से बढ़ रही हैं। सबसे ज्यादा लाेग इन्हीं इंडस्ट्रीज में शामिल हुए। उम्मीद है कि 2020 तक एजुकेशन इंडस्ट्री 180 अरब डॉलर का मार्केट बन जाएगी। हालांकि इन इंडस्ट्री की ग्राेथ रेट पिछले साल के मुकाबले कम रही। इस साल ग्रोथ करने वाली अन्य इंडस्ट्री रहीं कंस्ट्रक्शनसॉफ्टवेयर एंड आईटी सर्विस, फाइनेंस, मैन्युफैक्चरिंग, कारपोरेट सर्विस ट्रांसपोर्टेशन एंड लॉजिस्टक्स, रिक्रिएशन एंड ट्रैवल और हेल्थ केयर। दूसरी तरफ रिटेल, कंज्यूमर गुड्स, रियल एस्टेट और एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री पिछड़ी रहीं।

 

आगे पढ़ें- नौकरी के लिए जा रहे इस देश जा रहे सबसे ज्यादा भारतीय

मेरिका जाकर नौकरियां तलाश रहे सबसे ज्यादा भारतीय

रिपोर्ट बताती है कि भारत से दूसरे देशों में जाकर नौकरी करने वाले कुल लोगों में से 25.82 फीसदी सिर्फ अमेरिका जाते हैं। इसके बाद 13.88 फीसदी United Arab Emirates और 11.7 फीसदी Canada जाते हैं। अनय प्रमुख देशों में Australia, Britain, Germany और Singapore शामिल हैं। भारत में नौकरी के मौके तलाशने के लिए सबसे ज्यादा अमेरिका से ही लोग आते हैं। यहां काम करने वाले कुल अप्रवासी लोगों में से 40 फीसदी अमेरिकी हैं।

 

स्किल्स का भी हो रहा आदान प्रदान

यहां से लोगों के विदेश जाकर नौकरी करने और विदेशियों के यहां आकर नौकरी करने से कई स्किल्स भारत से बाहर जा रही हैं और कई भारत में आ रही हैं। इससे न सिर्फ भारत को बल्कि पूरी दुनिया को ही फायदा होगा।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट