बिज़नेस न्यूज़ » Industry » Companies16.25 करोड़ सालाना सैलरी लेंगे इन्‍फोसिस के नए CEO सलिल पारेख, पांच साल का है टर्म

16.25 करोड़ सालाना सैलरी लेंगे इन्‍फोसिस के नए CEO सलिल पारेख, पांच साल का है टर्म

यह राशि इन्‍फोसिस के पूर्व सीईओ विशाल सिक्‍का के सालाना वेतन के मुकाबले आधे से भी कम है।

1 of

बेंगलुरु. दिग्‍गज सॉफ्टवेयर कंपनी इन्‍फोसिस के नए सीर्इओ व मैनेजिंग डायरेक्‍टर सलिल एस पारेख का सालाना वेतन 16.25 करोड़ रुपए होगा। यह राशि इन्‍फोसिस के पूर्व सीईओ विशाल सिक्‍का के सालाना वेतन के मुकाबले आधे से भी कम है। यह जानकारी इन्‍फोसिस की स्‍वतंत्र बोर्ड मेंबर किरन मजूमदार शॉ ने दी। शॉ ने बताया कि पारेख की फिक्‍स्‍ड सैलरी 6.5 करोड़ रुपए होगी और वित्‍त वर्ष 2018-19 के आखिर में उन्‍हें 9.75 करोड़ रुपए का अतिरिक्‍त वेतन (वेरिएबल पे) भी मिलेगा। 

 

शॉ इन्‍फोसिस की नॉमिनेशन और रिमुनरेशन कमेटी (NRC) में शामिल हैं। शॉ ने यह भी बताया कि पारेख को 3.25 करोड़ रुपए की रिस्ट्रिक्‍टेड स्‍टॉक यूनिट्स (RSUs) भी हासिल होंगी। इसके अलावा पारेख 13 करोड़ रुपए की सालाना परफॉर्मेंस इक्विटी ग्रांट्स के भी हकदार होंगे। इन सभी को मिलाकर पारेख को सालाना पैकेज 32.5 करोड़ रुपए होगा। 

 

कितना था सिक्‍का का वेतन

बता दें कि इन्‍फोसिस के पूर्व सीईओ विशाल सिक्‍का को वित्‍त वर्ष 2016-17 में 42.86 करोड़ रुपए वेतन मिला था। हालांकि उनका सालाना पैकेज स्‍टॉक ऑप्‍शंस को मिलाकर 69.77 करोड़ रुपए था। इसके अलावा सालाना परफॉर्मेंस इक्विटी ग्रांट अलग से थी। 

 

5 साल का है पारेख का कार्यकाल 

पारेख का इन्‍फोसिस के सीईओ के तौर पर कार्यकाल 5 साल का है। पारेख को स्‍टॉक कंपंजेशन कार्यकाल के दौरान अलग-अलग समय पर दिया जाएगा। शॉ ने यह भी बताया कि पारेख के कॉन्‍ट्रैक्‍ट में उस धनराशि का भी उल्‍लेख है, जो उन्‍हें अपना मिनिमम परफॉर्मेंस टार्गेट पूरा न कर पाने की स्थिति में मिलेगी।

 

कंपनी ने एक पोस्‍टल बैलेट पर यह भी लिखा है कि पारेख इन्‍फोसिस को छोड़ने के बाद 6 महीनों तक कंपनी के कॉम्पिटीटर्स के साथ काम नहीं करेंगे। वह उन क्‍लाइंट्स के साथ या उनके लिए भी काम नहीं करेंगे, जिनके लिए उन्‍होंने इन्‍फोसिस छोड़ने से पहले 1 साल के अंदर काम किया है। 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट