Home » Industry » Companiesyou can make money from spinach farming

पालक की खेती से तीन महीने में कमा सकते हैं 2.75 लाख रुपए

यह एक ऐसी खेती है जिसमें लागत कम लगती है और बहुत कम समय में यह अच्छा मुनाफा देती है।

1 of

नई दिल्ली। खेती-बाड़ी में काम करने के कई ऐसे विकल्प है जिससे आप हर महीने लाखों की कमाई कर सकते हैं। सर्दियों का सीजन शुरू हो गया है और इस सीजन में बाजार में हरी सब्जियां आने लगती हैं। इसमें यदि हम पालक की बात करें तो वह एक ऐसी सब्जी है जिसे आप पूरे साल खाते हैं यह आपके सेहत के लिए तो अच्छी होती ही है साथ ही यदि आप इसका बिजनेस करते हैं तो इससे आपको काफी फायदा भी होता है। आप केवल पालक की खेती करने से भी लाखों  पैसे कमा सकते हैं। यह एक ऐसी खेती है जिसमें लागत कम लगती है और बहुत कम समय में यह अच्छा मुनाफा देती है। 

 

आपको बता दें  कि पालक को एक बार बोया जाता है और इसकी कटाई 5-6 बार की  जाती है। इसे एक बार काटने के बाद यह लगभग 15 दिन के बाद फिर से काटने योग्य हो जाती है। इसे सालभर बोया जाता है तो यह एक ऐसी खेती है जिससे आप सालभर कमाई कर सकते है। पालक की खेती करने  के लिए हल्की दोमट मिट्टी सही रहती है। जिसमे जल निकास की अच्छी व्यवस्था हो और सिंचाई के लिए भी पानी की अच्छी व्यवस्था हो।

 

आगे पढ़ें पालक की खेती से कितनी हो सकती है कमाई

पालक की खेती से कमा सकते हैं 2 लाख तक
पालक की खेती की बात की जाए तो इसके लिए 1 हेक्टेयकर जमीन की जरूरत होती है। मात्र एक हेक्टेयर की जमीन में 150-250 क्विंटल पालक उगाया जा सकता है। से 15-20 रुपए प्रतिकिलो के हिसाब से बेचा जा सकता है। ऐसे  में अगर प्रति हेक्टेयर लागत के 25 हजार रुपए निकाल दिए जाएं तो 1500 रुपए प्रति क्विंटल की दर से 200 क्विंटल से 3 महीने में ही 2 लाख, 75 हजार  रुपए की कमाई हो जाती है।

 

आगे पढ़ें किस महीने में करें पालक की खेती 

फरवरी से मार्च और नवंबर से दिसंबर के महीने खेती के लिए सही

वैसे तो पालक की खेती पूरे साल की जाती है लेकिन फरवरी से मार्च और नवंबर से दिसंबर के महीने इसकी खेती के लिए अच्छे रहते हैं।  पालक की कई प्रजातियां होमती है जिसमें जोबनेर ग्रीन, हिसार सिलेक्सन 26, पूसा पालक, पूसा हरित, आलग्रीन, पूसा ज्योति, बनर्जी जाइंट, लांग स्टैंडिंग, पूसा भारती, पंत कंपोजिटी 1, पालक नंबर 15-16 प्रमुख हैं। यदि बात की जाए पालक की कटाई की तो इसे उस वक्त काटना सही रहता है जब इसकी पत्तियों की लंबाई 15-30 सेंटीमीटर के करीब हो जाए। इसके बाद हर कटाई 15-20 दिनों के अंतर पर करते रहना चाहिए।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट