Home » Industry » Companiesअंबानी-बिल गेट्स कैसे बनें- 5 things do every day to increase your intelligence like ambani and bill gates

पाना चाहते हैं बिल गेट्स और अंबानी जैसा तेज दिमाग, तो रोज करें ये 5 काम

दिमाग के इंटेलिजेंट होने से हमारा मतलब किसी काम को करने या किसी फैसले को लेने के दौरान हमारी दिमागी प्रक्रिया का सही और

1 of

नई दिल्‍ली.  जानकारों का मानना है कि एक वयस्‍क व्‍यक्ति के मुकाबले बच्‍चों का दिमाग ज्‍यादा इंटेलिजेंट होता है। दिमाग से जुड़े खेल अगर आप छोटे बच्‍चों के साथ खेलें तो उसमें आपकी हार निश्चित है। ऐसा इसलिए होता है क्‍योकि उनका दिमाग हमारे दिमाग से ज्‍यादा इंटेलिजेंट होता है। मुकेश अंबानी और बिल गेट्स जैसे कारोबारियों को भी इतना ही इंटेलिजेंट माना जाता है। अगर आप भी 2018 में अपने दिमाग को इंटेलिजेंट बनना चाहते हैं तो आज से ही कुछ काम शुरू करें। 

 

 क्‍या है दिमाग के इंटेलिजेंट होने का मलतब
- दिमाग के इंटेलिजेंट होने से हमारा मतलब किसी काम को करने या किसी फैसले को लेने के दौरान हमारी दिमागी प्रक्रिया का सही और सटीक तरीके से काम करने से होता है। 
- कारोबार की दुनिया में अक्‍सर इस तरह के फैसले लेने पड़ते हैं, जहां आपका एक फैसला सबकुछ नष्‍ट कर देता है। 
- सामान्‍य भाषा में कहें तो मुश्किल मौकों में हमारे दिमाग को बेहतर परफॉर्मेंस ही हमारा इंटेलिजेंट कहलाता है।
- हालांकि बड़ी उम्र में भी इसे हासिल करना मुश्किल काम नहीं है। कुछ ऐसे तरीके हैं, जिनके जरिए हम अपने दिमाग को आसानी से इंटेलिजेंट बना सकते हैं।
- इसके लिए आपको बस कुछ कदम उठाने होंगे।
- आइए जानते हैं दिमाग को इंटेलिजेंट बनाने वाले इन्‍हीं कदमों के बारे में....

 

 

हमेशा नएपन को खोजना
- नएपन से यह मतलब बु‍ल्‍कुल नहीं है कि हम विदेशी हो जाएं या उसी तरह की सोच को विकसित कर लें।
- नए पन का मतलब नया अनुभव, नए लोग, नई चीजों से है, जिन्‍हें हमें अपनी रोजमर्रा की जिंदगी में लाना चाहिए।
- इसके लिए जरूर है कि आप खुद को नए अनुभव के लिए तैयार रखें और मिले मौकों को भुनाने की कोशिश करें।
- अगर आप गौर करें तो बच्‍चों में यह बात कॉमन होती है, वे हर नई चीज एक्‍सपीरियंए करने की कोशिश करते हैं।
 

 खुद को चुनौती दें
- दिमाग भी हमारे शरीर की अन्‍य मसल्‍स की तरह ही होता है। आप इसके सामने जितनी बाधा डालेंगे यह उतना ही मजबूत होगा।
- आपको यह बता है कि आप किस काम में बेहतर हैं। लेकिन इसके बाद भी आप अपने सामने हमेशा नए चैलेंज लेते रहें।
- यह आपके दिमाग को पहले के मुकाबले ज्‍यादा विकसित करेगा।
आगे की स्‍लाइड में पढ़ें- एक और तरीके के बारे में....

 

क्रिएटिव सोचें
- कुछ अलग करना बेहतर है, लेकिन किसी पुराने काम को भी अलग तरीके से करना ही क्रिएटिव होना है।
- यह कोई कला नहीं है, हम सब ऐसा कर सकते हैं, इसके लिए बस अपने सोच के दायरे को बदलना होता है।
- इसके बेशुमार फायदे हैं। इससे न फिर आपकी इंटेलिजेंसी बढ़ती है, बल्कि यह प्रोडक्टिवटी, एफिसिएंसी, सक्‍सेज और हैपिनेस भी बढ़ाने में मददगार होता है।
 
 

कठिन कामों में हाथ अजमाना
-इसका यह मलतब कतई नहीं कि आप हमेशा कठित काम ही करें, लेकिन लाइफ में जब भी मौका मिले ऐसे काम करने में पीछे नहीं हटें।
- ऐसे कामों में बिना कैल्‍कुलेटर के कैल्‍कुलेशन करना, बिना जीपीएस की मदद से रास्‍ते खोजना भी शामिल है।
- क्‍योंकि इससे हमारा दिमाग मुश्किल वक्‍त में भी बेहतर फैसले लेने लायक बन जाता है।
 
 

 

नेटवर्क
हमारी लाइफ में नेटवर्किंग का बड़ा रोल होता है।
आप लाइफ में ज्‍यादा से ज्‍यादा लोगों से मिलें, जयादा से ज्‍यादा चीजों को जाननने की कोशिश करें और अपनी बात ज्‍यादा से ज्‍यादा लोगों तक पहुंचाने की कोशिश करें।
 इससे आपके दिमाग में मैनेजमेंट की स्किल डेवलप होती है। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट