बिज़नेस न्यूज़ » Industry » CompaniesIPL से लेकर सास-बहू के सीरियल पर होगा इस कंपनी का कब्‍जा, कभी खाने को नहीं थे पैसे

IPL से लेकर सास-बहू के सीरियल पर होगा इस कंपनी का कब्‍जा, कभी खाने को नहीं थे पैसे

डिज्‍नी ने रूपर्ट मर्डोक की 21st सेंचुरी फॉक्स इंक को खरीदने का फैसला किया था

1 of

नई दिल्‍ली. एक बड़ी ग्‍लोबल डील के तहत डिज्‍नी ने रूपर्ट मर्डोक की 21st सेंचुरी फॉक्स इंक को खरीदने का फैसला किया था। 52.4 अरब डॉलर में होने जा रही इस डील के चलते भारत में काम करने वाला स्‍टार इंडिया का नेटवर्क डिज्‍नी के पास चला जाएगा। स्‍टार इंडिया के पास करीब 69 चैनल हैं। जिन्‍हें भारत से बाहर भी करीब 100 देशों में देखा जाता है। इसमें 10 स्पोर्ट्स चैनल शामिल हैं। स्‍टार का डिजिटल स्ट्रीमिंग प्लेटफार्म हॉटस्टार भी अब डि‍ज्‍नी का हो जाएगा। यूटीवी को डिज्‍नी पहले ही खरीद चुका है। एक तरीके से कहें तो आपकी टीवी पर आने वाले सास बहू के सीरियल से लेकर आईपीएल क्रिकेट मैच तक पर अब डिज्‍नी का कब्‍जा होगा। 

 

संघर्ष भरी है वॉल्‍ट डिज्‍नी की जर्नी 
डिन्‍जी ने आज भले ही दुनिया सबसे बड़े मीडिया मुगल का आधा एम्‍पायर खरीद कर तहलका मचाया हो, लेकिन इसे शुरू करने वालो वाल्‍ट डिज्‍नी की लाइफ में एक समय ऐसा भी आया था, जब असफलता के चलते उन्‍हें भूखा सेना पड़ा। वो दीवालिया भी हुए। हालांकि फेमस काटूर्न मिकी माउस ने उन्‍हें फेमस कर दिया। करीब 88 साल पहले 31 मई 1929 को मिकी माउस पहली बार लोगों के सामने आया था। बाद में इसी के चलते डिज्‍नी सफलता की नई ऊंचाईयां छूते गए।

 

आगे पढ़ें- पूरी खबर....  
 
 

 

 

 

क्या है मिकी माउस से जुड़ी खास बातें
31 मई 1929 को मिकी माउस का कार्टून कार्निवाल किड रिलीज किया गया था। यह पहला मौका था जब मिकी को आवाज मिली थी। मिकी की पहली फिल्म 18 नवंबर 1928 को रिलीज हुई थी। शुरुआती समय में कई बार डिज्‍नी ने खुद मिकी माउस को आवाज दी थीं। हालांकि वाइसओवर में सबसे ज्यादा शोहरत व्याने ऑल्विन को मिली है। ऑल्विन ने मिकी माउस को 30 साल यानि 1977 से 2009 के बीच आवाज दी। ऑल्विन की पत्नी रूसी टेलर ने भी मिकी माउस को आवाज दी थी।  

 

 


सफलताओं से भरी थी वॉल्ट डिज्‍नी की जिंदगी
19 साल की उम्र में डिज्नी ने अपनी पहली कंपनी शुरू की। डिज्‍नी यहां कार्टून बनाने का काम करते थे। हालांकि कंपनी एक भी कार्टून बेचने में सफल नहीं रही और डिज्‍नी को अपने दोस्त के घर आसरा लेना पड़ा। कई बार उनके पास खाने के लिए पैसे तक नहीं होते थे। इस दौरान डिज्‍नी की स्थापित होने की कई कोशिशें असफल साबित हुईं और वो फाइनेंशियल क्राइसिस तक पहुंच गए।
 
 

22 साल में हो गए दीवालिया
कंसास सिटी में कार्टून सीरीज के फ्लाप होने की वजह से 22 साल की उम्र में डिज्नी दीवालिया हो गए। आमदनी के लिए डिज्नी को जॉब तक करनी पड़ी। डिज्नी ने एक्टिंग में भी हाथ आजमाने की कोशिश की, लेकिन उन्हे मौका नहीं मिला। एक न्यूज पेपर एडिटर ने ये कहकर उन्हें नौकरी से निकाल दिया कि उनके अंदर कल्पनाशीलता नहीं हैं और वो आलसी हैं।
 
 

हॉलीवुड में सफलता मिलने में लगे 5 साल
कंसास में नाकामयाब होने के बाद डिज्नी ने हॉलीवुड का रुख किया। एक गैराज में स्टूडियो बनाकर डिज्नी ने काम शुरू किया। दीवालिया होने के बाद करीब 5 साल बाद डिज्नी ने पहली बार सफलता तब देखी जब उनकी शॉर्ट एनिमेशन फिल्म एलिस इन वंडरलैंड और ओसवॉल्ड द रैबिट को लोगों ने पसंद किया। हालांकि डिज्नी की परीक्षा बाकी थी, 1928 में उनके कुछ प्रमुख कार्टूनिस्ट ने उनका साथ छोड़ दिया और वो अपने साथ ओसवॉल्ड को भी ले गए। डिज्‍नी एक बार फिर तंगी में आ गए।
 

 

एक चूहे ने बदली किस्मत
1928 मे डिज्नी ने नए कैरेक्टर पर काम शुरू किया। शुरुआत में कुत्ता और बिल्ली को लेकर प्रयोग हुए, लेकिन डिज्नी को पसंद नहीं आए। इसके साथ गाय और घोड़े को लेकर प्रयोग भी रिजेक्ट हो गए। एक मेढ़क के करेक्टर को भी रिजेक्ट कर दिया गया, लेकिन वो फ्लिप द फ्रॉग सीरीज में इस्तेमाल किया गया। डिज्‍नी के दिमाग में मिकी माउस का आइडिया पहले से ही था। दरअसल कंसास स्टूडियो में उनकी मेज पर एक चूहा चढ़ आया था, जिसे देखकर उन्हें चूहे पर आधारित करेक्टर बनाने की सोची थी। 1925 में ही मशहूर आर्टिस्ट हग हरमन ने डिज्‍नी की फोटोग्राफ में चूहे के कुछ स्केच बनाकर दिए थे। इन सबको देखते हुए डिज्नी के एनिमेटर्स ने जो करेक्टर तैयार किया वो मिकी माउस के नाम से न केवल मशहूर हुआ साथ ही डिज्नी को इतिहास में शामिल कर दिया। 


 

95 अरब डॉलर का है जिज्‍नी का एम्‍पायर 
मौजूदा समय में डिजनी का एम्‍पायर करीब 95 अरब डॉलर का है। इसमें 9 अरब डॉलर की वैल्‍यू के स्‍टूडियो और पब्लिशिंक और कैरेक्‍टर प्रॉपर्टी है। कंपनी का मीडिया एम्‍पायर करीब 32.5 अरब डॉलर का है। फिल्‍म मेकिंग से उसे करीब 16 अरब डॉलर की कमाई होती है। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट