Home » Industry » CompaniesHorlicks in the taste of cornetto

हॉरलिक्स से बंधन की रेस में कार्नेटो ने किटकैट को पछाड़ा

यूनीलिवर के उत्पाद बास्केट में जुड़ सकता है हॉरलिक्स

Horlicks in the taste of cornetto

नई दिल्ली. ग्लैक्सोस्मिथक्लाइन (जीएसके) का हॉरलिक्स भारत के हेल्थ ड्रिंक्स मार्केट में एक बेहद लोकप्रिय ब्रांड है। इसे खरीदने की प्रक्रिया में यूनीलिवर कंपनी काफी आगे है। हॉरलिक्स की खरीदारी को लेकर चार माह की लंबी प्रक्रिया चली। इसमें नेस्ले, कोका कोला और यूनीलिवर जैसी कंपनियों ने हिस्सा लिया। लेकिन अब कार्नेटो ने किटकैट को पछाड़ दिया है। कॉर्नेटो यूनीलिवर का प्रोडक्ट है तो किटकैट नेस्ले का प्रोडक्ट है। लेकिन इस होड़ में कॉर्नेटो काफी आगे निकलता दिख रहा है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक हॉरलिक्स ब्रांड को खरीदने में यूनीलिवर ने नेस्ले के मुकाबले बेहतर डील पेश की। 

 

डील पर नहीं आया कोई आधिकारिक बयान

हालांकि हॉर्लिक्स की बिक्री को लेकर कोई ऑफिशियल बयान नहीं आया है। मामले में नेस्ले इंडिया ने इस पर बात करने से इनकार कर दिया। वहीं यूनीलिवर की तरफ से भी इस पर कोई कमेंट नहीं आया है। ऐसे में अभी यह नहीं कहा जा सकता है कि हॉरलिक्स नेस्ले या फिर यूनीलिवर किसकी झोली में जाएगा। लेकिन एक रॉयटर्स और ब्लूमबर्ग में छपी रिपोर्ट की मानें तो एंग्लो डच मल्टीनेशनल कंपनी यूनीलिवर की जीएसके के साथ बाचचीत अंतिम दौर में है, जबकि नेस्ले इस रेस में पिछड़ गई है। ऐसा कहा जा रहा है कि यूनीलिवर की ओर से कैश कम स्टॉक का ऑफर देने से डील उसके पक्ष में मुड़ गई। 

 

हॉरलिक्स को डीले से 4 अरब डॉलर मिलने की उम्मीद
न्यूज एजेंसी रॉयटर्स के मुताबिक हॉरलिक्स और बूस्ट ब्रांड की बिक्री से जीएसके को इस डील से 4 अरब डॉलर से अधिक की रकम मिलने की उम्मीद है। जीएसके कंज्यूमर हैल्थकेयर लिमिटेड में जीएसके की 72.5 फीसद हिस्सेदारी है। साथ ही देशभर में 8 लाख रिटेल आउटलेट हैं। अंग्रेजी अखबार में छपी खबरों के मुताबिक जीएसके भारत में अपनी पैठ मजबूत करने के लिए यूनिलीवर के साथ विशेष तौर पर बातचीत कर रही है। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट