Home » Industry » CompaniesMirc Electronics launches new inverter ACs

बिजली के बिल में होगी 65% की बचत, इस कंपनी ने उतारा ये खास AC

गर्मियां आते ही एयर कंडीशनर्स (एसी) का बिजनेस बढ़ जाता है।

1 of

नई दिल्‍ली. एयर कंडीशनर्स (AC) की ठंडी-ठंडी हवा के लिए जरूरी है कि बिजली की सप्‍लाई बिना किसी बाधा के बनी रहे। बिजली पैदा करने की पर्याप्‍त क्षमता होने के बाद भी देश में बहुत कम ही ऐसे जिले हैं जहां 24 घंटे बिजली मिलती है। बिजली कटौती के समय आमतौर पर भारतीय परिवारों में बैकअप के लिए इन्‍वर्टर का इस्‍तेमाल होता है। इलेक्‍ट्रॉनिक प्रोडक्‍ट्स में हो रहे नए-नए इनोवेशन में एसी कंपनियां भी पीछे नहीं हैं। भारत में बिजली की आपूर्ति और लोगों की जरूरतों को देखते हुए कई कंपनियों ने इन्‍वर्टर एसी मार्केट में उतारे हैं। इन्‍हीं में से एक कंपनी है मिर्क इलेक्‍ट्रॉनिक्‍स। 

 

65 फीसदी बचेगा एनर्जी बिल

ओनिडा ब्रांड का स्‍वामित्‍व रखने वाली मिर्क ने गर्मियों के सीजन को देखते हुए 84 इन्‍वर्टर एसी की नई रेंज भारतीय मार्केट में पेश की है। कंपनी का कहना है कि ये एसी 170 फीसदी फास्‍ट और पावरफुल कूलिंग देंगे। कंपनी ने यह भी दावा किया है कि इन्‍वर्टर की इस नई रेंज से एनर्जी बिल में भी 65 फीसदी की बचत होगी। कंपनी के स्‍मार्ट इन्‍वर्टर एसी आईओटी (इंटरनेट ऑफ थिंग्‍स) से लैस हैं, जिसके जरिए यूजर एसी को अपने स्‍मार्टफोन से दुनिया के किसी भी हिस्‍से से ऑपरेट और कंट्रोल कर सकेगा। 

 

5 साल में 1600 करोड़ बिजनेस का टारगेट 

मिर्क इलेक्‍ट्रॉनिक्‍स एसी सेगमेंट से अपना रेवेन्‍यू डबल करीब 720 करोड़ रुपए करने का प्‍लान बना रही हैं। इसी टारगेट को ध्‍यान में रखते हुए कंपनी ने इन्‍वर्टर एसी की यह नई रेंज उतारी है। भारत में एसी का कुल मार्केट 2022 तक बढ़कर 2.2 करोड़ हो जाएगा, जो अभी 56 लाख है। मिर्क इलेक्‍ट्रॉनिक्‍स को उम्‍मीद है कि उसका एसी बिजनेस अगले पांच साल में बढ़कर 1500-1600 करोड़ रुपए हो जाएगा। 

 

ग्‍लोबल वार्मिंग बढ़ा रही है डिमांड 

मिर्क इलेक्‍ट्रॉनिक्‍स के सीईओ जी सुंदर का कहना है कि स्पिल्‍ट एसी में हमारा मार्केट साइज अभी 8 फीसदी है। आने वाले साल में देश में एसी की बढ़ती डिमांड के चलते यह यह डबल डिजिट में हो जाएगी। एसी खरीदने की बढ़ती क्षमता और ग्‍लोबल वार्मिंग के चलते एसी की डिमांड देश में बढ़ रही है। 

 

आगे पढ़ें... क्‍या होता है इन्‍वर्टर AC  

 

 

 

क्‍या होता है इन्‍वर्टर AC?

इन्‍वर्टर एसी से आमतौर पर हम यह समझते हैं कि यह इन्‍वर्टर से भी चल सकता है। जबकि एसी में इन्वर्टर शब्द के इस्तेमाल का बस इतना ही मतलब है कि जिस तरह आपके घर का इन्वर्टर बिजली की सप्लाई को लगातार बनाए रखता है, वैसे ही इन्वर्टर एसी भी कूलिंग को लगातार बेहतर तरीके से मेनटेन करता है। यह ऐसा एसी है, जिसमें तापमान को कंट्रोल करने के लिए बेहतर तकनीक है। 

 

आगे पढ़ें... कैसे काम करता है इन्‍वर्टर AC और किस देश ने बनाया? 

 

 

 

कैसे काम करता है इन्‍वर्टर टेक्‍नोलॉजी का AC?

इन्वर्टर टेक्‍नोलॉजी एक कार में लगे एक्सेलरेटर की तरह काम करती है। जब कम्‍प्रेसर को अधिक बिजली की जरूरत होती है, तब वह इसे और अधिक पावर देता है। और जब कम्‍प्रेसर को कम शक्ति की आवश्कता होती हैं, तब वह जरूरत के अनुसार कम पावर देता है। इस टेक्‍नोलॉजी के साथ कम्‍प्रेसर हमेशा एक्टिव रहता है, लेकिन कम्‍प्रेसर का कम या अधिक पावर लेना इस बात पर भी निर्भर करता हैं, कि उसमे आने वाली हवा का तापमान एवं थर्मोस्टेट में तय लेवल क्या है। इस तरह कम्‍प्रेसर की स्‍पीड और पावर को ठीक ढंग से मेनटेन किया जाता है। 

 

जापान ने डेवलप की टेक्‍नोलॉजी

इस टेक्‍नोलॉजी को जापान में विकसित किया गया था और एयर कंडीशनर और रेफ्रिजरेटर के लिए वहां इस्तेमाल भी किया जा रहा है। यह टेक्‍नोलॉजी अभी केवल स्प्लिट ऐसी में ही उपलब्ध है। 


आगे पढ़ें... भारत में और कौन-सी कंपनियां बनाती हैं AC 

ये कंपनियां भी बनाती हैं AC

देश में एसी बनाने वाली कंपनियों में वोल्‍टास, ब्‍लू स्‍टार, गोदरेज, वीडियोकॉन, लेलॉयड, ओनिडा, डायकिन, हिताची, कैरियर और व्‍हर्लपुल शामिल हैं। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
Don't Miss