बिज़नेस न्यूज़ » Industry » Companiesअंबानी ने खोले नए पत्‍ते, बताया 60 हजार करोड़ का प्‍लान

अंबानी ने खोले नए पत्‍ते, बताया 60 हजार करोड़ का प्‍लान

अंबानी के मुताबिक, रिलायंस के साथ करीब 20 ग्‍लोबल कंपनियों से पार्टलरशिप के जरिए कदम बढ़ाया है...

1 of

नई दिल्‍ली। मुकेश अंबानी एक और धामाका करने की फिराक में हैं। मुकेश अंबानी ने कहा है कि उनकी कंपनी अगले 10 साल में महाराष्‍ट्र में एक इंटीग्रेटेड डिजिटल इंडस्ट्रियल एरिया का निर्माण करेगी। इसे महाराष्ट्र में बनाया जाएगा। कंपनी इस पर 60,000 करोड़ रुपए का निवेश करेगी। यह अपनी तरह का देश का पहला डिजिटल इंडस्ट्रियल एरिया होगा। अंबानी ने यह भी दावा किया कि भारत चीन ने वैश्चिक इकोनॉमी में जो रुतबा मैन्‍यूफैक्‍चरिंग के दम पर हासिल किया वह भारत सर्विस सेक्‍टर के जरिए हासिल कर सकता है। 

 

अंबानी का 60 हजार करोड़ का प्‍लान 
मैग्नेटिक महाराष्ट्र ग्‍लोबल इन्‍वेस्‍टर समिट में बोलते हुए देश के सबसे रईस व्‍यक्ति अंबानी ने कहा कि रिलायंस अपने ग्‍लोबल पार्टनर्स के साथ मिलकर आने वाले 10 साल में महाराष्ट्र में 60,000 करोड़ रुपए का निवेश करेगी। यह देश का पहला इंट्रीग्रेटेड डिजिटल इंडस्ट्रियल एरिया होगा।’अंबानी के मुताबिक, रिलायंस के साथ करीब 20 ग्‍लोबल कंपनियों से पार्टलरशिप के जरिए कदम बढ़ाया है। इसमें नोकिया, एचपी, डेल, सिस्‍को, सीमेंट जैसी कंपनियां भी शामिल हैं। 

 

 

जियो के पास 17 करोड़ ग्राहक 
अंबानी ने दावा किया कि जियो से पहले भारत मोबाइल डाटा कन्‍जम्‍शन के मामले में 155वीं पोजीशन पर था। वहीं इस समय यह नंबर वन पर पहुंच गया है। भारत के करीब 17 करोड़ लोग लो प्राइस पर हाइयस्‍ट कॉलिटी का डाटा कन्‍ज्‍यूम कर रहे हैं। यह सबकुछ जिया के चलते ही संभव हो पाया है। अंबानी के मुताबिक, जियो के लिए रिलायंस ने पूरे भारत में करीब 250 हजार करोड़ रुपए का निवेश किया। जियो महाराष्‍ट्र के हर गांव, हर शहर, हर स्‍कूल और हर कॉलेज और हर अस्‍पताल को आपस में कनेक्‍ट करने का काम करेगी, जिससे लोगों को डिजिटल क्रांति का फायदा मिल सके।  

 

 

टेक्‍नोलॉजी के चलते होगी क्रांति 
अंबानी ने दावा किया कि देश में होने वाली चौथी औद्योगिक क्रांति के चलते भारत शिक्षा, हेल्‍थकेयर, वाटर सिक्‍यूरिटी और एग्रीकल्‍चर से जुड़ी अपनी बुनियादी मुश्किलों को दूर करने में सफल होगा। डिजिटल बायलॉजिकल और फिजकल जैसे अलग अलग क्षेत्रों की टेक्‍नोलॉजी के एक साथ आने से ही नई औद्यागिक क्रांति होगी। इसके चलते हमारे चारों ओर अलग अगल कई बदलाव देखने को मिलेंगे। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट