बिज़नेस न्यूज़ » Industry » Companiesअरबपतियों की डिमांड पर ज्‍वैलरी बनाता था नीरव मोदी, 50 करोड़ तक बेचा एक नेकपीस

अरबपतियों की डिमांड पर ज्‍वैलरी बनाता था नीरव मोदी, 50 करोड़ तक बेचा एक नेकपीस

नीरव मोदी अरबपतियों की रिक्वेस्ट पर ज्वैलरी डिजाइन करते थे। उनके स्टोर पर आप वॉक करते हुए एंटर नहीं कर सकते थे।

1 of

नई दिल्ली। नीरव मोदी अरबपतियों की रिक्वेस्ट पर ज्वैलरी डिजाइन करते थे। उनके स्टोर पर आप वॉक करते हुए एंटर नहीं कर सकते थे। इसके लिए बायर के पास रेंफरेंस या अप्वॉइंटमेंट होना जरूरी होता था। अगर आप उनकी वेबसाइट पर ज्वैलरी पसंद करते हैं उसके लिए रिक्वेस्ट ऑनलाइन डालनी होती है। बेल्जियम में पैदा हुए नीरव मोदी अपने ज्वैलरी ब्रांड 'नीरव मोदी' को इंटरनेशनल लग्जरी ब्रांड बनाना चाहते थे। आइए जानते हैं कितन में बिकते थी उनकी ज्वैलरी..

 

अरबपतियों की रिक्वेस्ट पर बनती थी ज्वैलरी

 

नीरव मोदी अपने ज्वैलरी ब्रांड 'नीरव मोदी' को लग्जरी ब्रांड की तरह इंडिया और इंडिया के बाहर अपने आप को स्थापित करना चाहते थे। उनके बनाए डिजाइन ऑक्शन, रॉयल पैलेस और रेड कारपेट पर सबसे ज्यादा फेमस है। उनकी क्लाइंट लिस्ट में हॉलीवुड एक्ट्रेस शेरोन स्टोन, केट विंसलेट, शाही घराने से लेकर बॉलीवुड एक्ट्रेस सभी शामिल हैं।

 

बायर ने खरीदा 50 करोड़ का नेकपीस

 

50 करोड़ का नेकपीस हांग कांग में हुए सोथबे ऑक्शन में पेश किया गया था और ये नेकपीस बनाया भी इसी ऑक्शन के लिए था। ये नेकपीस करीब 50 करोड़ रुपए का था जिसे हांग कांग के बायर ने खरीदा। हालांकि, उस हांग कांग के बायर का नाम कभी भी पब्लिक में नहीं लाया गया कि इसे किसने खरीदा है।

 

आगे पढ़ें - कितने में बिकी नीरव मोदी की डिजाइन की ज्वैलरी

 

13 करोड़ का बनाया एक और नेकलेस

 

हांगकांग में साल 2015 में हुए क्रिस्टी ऑक्शन में नीरव मोदी के डिजाइन किया नेकपीस 13 करोड़ रुपए में बिका। इससे पहले भी इसी तरह का 10.2 कैरेट डायमंड नेकलेस साल 2011 में भी बिका था। इसमें पिंक और रेड कलर के डायमंड थे। रेड डायमंड को कलर डायमंड में रेयर और महंगा माना जाता है।

 

नीमो कफलिंक

 

उन्होंने अपने नाम के इनिशियल्स को लेकर डायमंड कफलिंक बनाए। इन कफलिंक की कीमत 5 लाख रुपए है। मोदी ने ब्रांड बनाने और प्रमोशन पर सबसे ज्यादा पैसा खर्च किया। उनके न्यूयॉर्क, लंदन, हांगकांग की सबसे महंगे एरिया में लग्जरी स्टोर हैं।

 

आगे पढ़ें - कितने में बिकी नीरव मोदी की डिजाइन की ज्वैलरी

 

16 करोड़ में बिका गोलकुंडा नेकलेस

 

नीरव मोदी ने गोलकुंडा नेकलेस डिजाइन किए थे। ये सभी ऑन रिक्वेस्ट ही बनते हैं। साल 2010 में गोलकुंडा नेकलेस हांगकांग के क्रिस्टी ऑक्शन में 16.29 करोड़ रुपए में बिका था। नीरव मोदी को गोलकोंडा सेट को बनाने में 1,500 घंटे लगे। इस सेट में बड़े 10 कैरेट और छोटे 2 कैरेट के डायमंड लगे हुए थे। उन्हें इस सेट के लिए एक ही कैरेक्टर वाले डायमंड को ढूंढने में उन्हें करीब 2 साल लगे। इसके अलावा उनका रिवियर डायमंड नेकलेस साल 2012 में हांगकांग के सोथबे ऑक्शन में करीब 50 करोड़ रुपए का बिका था। वह पहले ऐसे इंडियन ज्वैलर थे जिनके डिजाइन क्रिस्टी ऑक्शन के केटालॉग में छपे थे। 
 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट