बिज़नेस न्यूज़ » Industry » Companiesबिजनेस में हों फेल तो याद करें बापू की ये 10 बातें, जीत जाएंगे हारी बाजी

बिजनेस में हों फेल तो याद करें बापू की ये 10 बातें, जीत जाएंगे हारी बाजी

महात्‍मा गांधी ने जितना आम लोगों को प्रभावित किया, उतना ही बिजनेस गुरुओं को भी।

1 of

नई दिल्‍ली. महात्‍मा गांधी ने जितना आम लोगों को प्रभावित किया, उतना ही बिजनेस गुरुओं को भी। ग्राम स्‍वराज का उनका इकोनॉमिक मॉडल किसी भी देश की लगातार और टिकाऊ ग्रोथ के लिए आज भी सबसे बेहतरीन माना जाता है। ऐसा नहीं है कि उनकी बातों में हमेशा सत्‍य और अहिंसा के तत्‍व छिपे रहे हैं। उनकी कही गई बातें कई पीढियों से लोगों को प्रेरित करने का काम करती रही हैं। 

 

आप अगर चाहें तो बापू की बातों से बिजनेस के मंत्र भी सीख सकते हैं। खासकर तब जब आप बिजनेस में फेल हो रहे हों या जीवन में निराशा से भरे हों। आज हम 30 जनवरी को उनकी पुण्‍यतिथि पर बापू की  ओर से कही गई कुछ ऐसी ही बातों से रूबरू करा रहे हैं, जिनसे फेल होने के बाद फिर से उठ खड़े होने का हौसला मिलता है। 


1- 'पहले वह आपकी उपेक्षा करेंगे, उसके बाद आप पर हसंगे, उसके बाद आपसे लड़ाई करेंगे, उसके बाद आप जीत जाएंगे।'

 

कब करें अप्‍लाई 

जब आप स्‍टार्टअप जैसे किसी इनोवेटिव या नए आइडिया पर काम कर रहे हों।

 

आगे पढ़ें- क्‍या है दूसरी सीख 

2- 'हो सकता है हम ठोकर खाकर गिर पड़ें, पर हम उठ सकते हैं। लड़ाई से भागने से तो इतना ही अच्छा है।'

 

कब करें अप्‍लाई 

जब आप बिजनेस में लगातार फेल हो रहे हों। 

 

आगे पढ़ें- तीसरी सीख 

3- 'दुनिया में आखिरी वक्‍त तक कुछ भी जिंदा रहता है तो वह है धैर्य। यह एक जिंदा विश्‍वास की तरह है, जो काले घने अंधेरे में रहने की शक्ति देता है।' 

 

कब करें अप्‍लाई 

जब आप किसी बिजनेस की शुरुआत कर रहे हों और मन में कहीं भी असफल होने का डर सता रहा हो। 

 

आगे पढ़ें- क्‍या है चौथा मंत्र 

4- 'कुछ करना है तो प्यार से करें या तो ना करें।' 

 

कब करें अप्‍लाई 

जब किसी काम में आप का मन नहीं लग रहा हो। 

 

आगे पढ़ें- बापू का पांचवां मंत्र 

5- 'शक्ति शारीरिक क्षमता से नहीं आती है। एक अदम्य इच्छा शक्ति से आती है।'

 

कब करें अप्‍लाई 

जब आप दूसरों के मुकाबले खुद को कमजोर महसूस कर रहे हों। 

 

आगे पढ़ें- छठी सीख 

6- 'एक विनम्र तरीके से, आप दुनिया को हिला सकते हैं।'

 

कब करें अप्‍लाई 

जब लोग आपके बिजनेस मॉडल या आइडिया पर हंस रहे हों। 

 

आगे पढ़ें- सातवीं सीख

7- 'किसी चीज पर विश्वास करना और उसे ना जीना बेईमानी है।'

 

कब करें अप्‍लाई 

जब आपको लगे कि यह काम आपको आता है, लेकिन मन के डर के चलते पांव पीछे खींच रहे हों। 

 

आगे पढ़ें- आठवां मंत्र 

10- 'अपनी गलती को स्वीकारना झाड़ू लगाने के समान है, जो सतह को चमकदार और साफ़ कर देता है।'

 

कब करें अप्‍लाई 

जब आप किसी गलत फैसले के चलते हताशा से भरे हों। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट