बिज़नेस न्यूज़ » Industry » Companiesगूगल का एक कदम उसी पर पड़ा भारी, माइक्रोसॉफ्ट को हो सकता है फायदा

गूगल का एक कदम उसी पर पड़ा भारी, माइक्रोसॉफ्ट को हो सकता है फायदा

पिछले हफ्ते गूगल ने अपनी सर्च इमेज में से व्‍यू इमेज बटन हटा दिया। अब उसका ये कदम उसी के लिए जी का जंजाल बन गया है।

1 of

नई दिल्‍ली. पिछले हफ्ते गूगल ने अपनी सर्च इमेज में से व्‍यू इमेज बटन हटा दिया। अब उसका ये कदम उसी के लिए जी का जंजाल बन गया है। यूजर्स को रही परेशानी की वजह से गूगल की आलोचना तो हो ही रही है, साथ ही उसकी सर्विस की साख भी गिर रही है। दूसरी ओर प्रतिद्वंदी माइक्रोसॉफ्ट को गूगल के इस कदम से फायदा मिलने की बात कही जा रही है। 

 

ये रही व्‍यू इमेज बटन हटाने की वजह 

गूगल ने गेटी इमेजेस के साथ कई सालों के लिए ग्‍लोबल लाइसेंसिंग डील की है। इस डील के बाद गूगल ने इमेज सर्च में से व्‍यू इमेज बटन को हटा लिया। ऐसा इसलिए ताकि गूगल से लोग कॉपीराइट वाली इमेजेस को न ले सकें। 

 

माइक्रोसॉफ्ट को कैसे होगा फायदा   

गूगल का व्‍यू इमेज हटने के बाद यूजर्स को हाई रिजॉल्‍यूशन इमेज का पता करने और एक ही पिक्‍चर के अलग-अलग साइज लेने में कठिनाई हो रही है। इसके चलते कई यूजर्स गूगल को छोड़ अन्‍य ब्राउजर्स की ओर शिफ्ट होंगे। इनमें माइक्रोसॉफ्ट का बिंग और स्‍टार्टपेज का नाम प्रमुख है। 

 

आगे पढ़ें- हर तरफ से हो रही आलोचना 

चौतरफा हो रही आलोचना 

बीबीसी की एक रिपोर्ट के मुताबिक, गूगल के इस कदम की काफी आलोचना हो रही है। क्रिटिक्‍स ने इसे यूजर अनफ्रेंडली, गलत और प्रॉडक्‍ट की साख गिराने वाला बताया है। यूजर्स की ओर से भी गूगल के इस कदम की आलोचना की जा रही है। एक यूजर ने ट्वीट किया कि गूगल का यह कदम बहुत ही खराब है। यह गूगल की इतनी सक्‍सेसफुल सर्विस को खत्‍म करने वाला कदम है। कई यूजर्स ने यह भी सलाह दी है कि अब लोगों को गूगल को छोड़ दूसरे इमेज सर्च इंजन जैसे बिंग को ट्राई करना चाहिए। बिंग पर अभी भी व्‍यू इमेज बटन मौजूद है। लाइफहैकर डॉट कॉम का कहना है कि आपको स्‍टार्टपेज नाम के सर्च इंजन पर भी व्‍यू इमेज फीचर मिल जाएगा। यह ब्राउजर प्राइवेसी पर फोकस करता है और गूगल जैसे ही सर्च रिजल्‍ट उपलब्‍ध कराता है। लेकिन इसके कोई टार्गेटेड एड नहीं हैं और न ही बहुत ज्‍यादा प्राइवेसी है। 

 

आगे पढ़ें- कॉपीराइट एट्रीब्‍यूशन शो करने की मांग

कुछ लोग चाहते हैं कॉपीराइट एट्रीब्‍यूशन हो शो 

कुछ मीडिया रिपोर्ट्स का कहना है कि गूगूल को इमेज सर्च रिजल्‍ट में कॉपीराइट एट्रीब्‍यूशन और डिस्‍क्‍लेमर को भी शो करना चाहिए। द वर्ज ने गूगल द्वारा व्‍यू इमेज बटन हटा लेने पर अपनी प्रतिक्रिया में कहा कि काफी लंबे समय से फोटोग्राफर्स और पब्लिशर्स की ओर से यह कहा जा रहा था कि गूगल के इमेज सर्च के जरिए लोग उनकी पिक्‍चर्स को चुरा लेते हैं। व्‍यू इमेज बटन हटाया जाना इसी दिशा में गूगल द्वारा उठाया गया कदम है। लेकिन इस बदलाव से यूजर परेशान हो रहे हैं। 

 

आगे पढ़ें- अभी भी एक ऑप्‍शन है मौजूद 

गूगल यूजर्स के लिए अभी भी है यह ऑप्‍शन 

भले ही गूगल ने 'व्‍यू इमेज' हटा लिया हो लेकिन यूजर्स किसी भी पिक्‍चर पर राइट क्लिक कर ओपन इमेज इन न्‍यू टैब पर जाकर  पिक्‍चर को व्‍यू इमेज की तरह ही व्‍यू कर सकते हैं। लेकिन इस ऑप्‍शन में यूजर्स को एक ही पिक्‍चर अलग-अलग साइज में उपलब्ध नहीं होगी। साथ ही गूगल क्रोम ब्राउजर पर एक एक्‍सटेंशन को एड करके व्‍यू इमेज बटन को वापस पाया जा सकता है। इस बात की जानकारी नेक्‍स्‍ट वेब ने दी है। नेक्‍स्‍ट वेब के मुताबिक, इस एक्‍सटेंशन का नाम व्‍यूइमेज है और इसका कोड वेब बेस्‍ड होस्टिंग सर्विस गिटहब पर उपलब्‍ध है। यूजर्स को केवल अपने क्रोम या ओपेरा ब्राउजर पर इस एक्‍सटेंशन को इन्‍स्‍टॉल करना होगा। 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट