बिज़नेस न्यूज़ » Industry » Companiesजानिए कौन है नीरव मोदी, कैसे खड़ा किया 15 हजार करोड़ का एम्‍पायर

जानिए कौन है नीरव मोदी, कैसे खड़ा किया 15 हजार करोड़ का एम्‍पायर

पीएनबी घोटाले का मामला सामने आने के बाद चर्चा में नीरव मोदी देश के टॉप-100 रईसों में शामिल हैं...

1 of

नई दिल्‍ली। पीएनबी घोटाले का मामला सामने आने के बाद चर्चा में नीरव मोदी देश के टॉप-100 रईसों में शामिल हैं। बताया जाता है कि नीरव मोदी को फायदा पहुंचाने के लिए पीएनबी के अधिकारियों ने गलत तरीकों का इस्‍तेमाल किया। इसीके चलते उनकी कंपनी को विदेशी बैंकों से पैसे हासिल हुए। मामले की परतें खुलने के बाद ईडी ने नीरव मोदी के करीब 9 ठिकानों पर छापेमारी शुरू कर दी है। एएनआई के अनुसार, ईडी ने नीरव मोदी के सूरत में तीन, मुंबई में 4 और दिल्‍ली में दो ठिकानों पर छापे मारे हैं।  

नीरव मोदी भले ही भारत में बेहद चर्चित नाम नहीं रहे हों, लेकिन नीरव को डायमंड की दुनिया का बेताज बादशाह माना जाता है। फोर्ब्‍स के मुताबिक, नीरव मोदी की मौजूदा नेटवर्थ करीब 11 हजार करोड़ है, जबकि नीरव जिस फायरस्‍टार डायमंड कंपनी के प्रमोटर हैं, उसकी वैल्‍यू करीब 15 हजार करोड़ रुपए है। वह भारत ही नहीं दुनिया भर की मशहूर हस्तियों के लिए जूलरी डिजाइन करते रहे हैं। नीवर को अमीरों का ज्‍वैलर भी माना जाता है।  भारत की लगभग सभी टॉप सेलिब्रिटी नीरव के डिजाइन किए हुए डायमंड पहन चुके हैं।  नीरव मोदी देश के सबसे रईस व्‍यक्ति मुकेश अंबानी के रिश्‍तेदार भी हैं। आइए जानते हैं नीरव मोदी से जुड़े फैक्‍ट्स के बारे में...  

देश के 57वें सबसे अमीर 
नीरव मोदी मौजूदा समय में देश के 57वें सबसे अमीर हैं। 2017 की फोर्ब्‍स लिस्‍ट में उन्‍हें 85 रैंक मिली थी। वह नीरव मोदी डायमंड ज्‍वैलरी रीटेल स्‍टोर चेन के फाउंडर और क्रिएटिव डायरेक्‍टर हैं। इस रीटेल चेन के न्‍यूयॉर्क, लंदन, पेरिस और मुंबई जैसे शहरों में स्‍टोर हैं। नीरव हीरे का कारोबार करने वाले परिवार से आते हैं।  वह पत्रकारों से अक्सर कहा करते थे कि वह इस कारोबार से जुड़ना नहीं चाहते  थे। वह वॉर्टन गए, एक साल फाइनेंस की पढ़ाई की और फेल हो गए और आखिरकार वह हीरे के व्यापार में उतर पड़े। 

 

 

बेल्जियम में पैदाइश मुंबई में सीखा धंधा  
नीरव मोदी का परिवार हीरे के कारोबार में पहले से था, लेकिन उन्‍होंने यह साख और नाम अपने दम पर कमाया। नीरव का परिवार बेल्जियम के एंत्रेप शहर में रहता था। नीरव भी वहीं पैदा हुए। वह पढ़ाई के लिए अमेरिका के व्‍हार्टन इंस्‍टीट्यूट गए। फेल होने के बाद परिवार ने उन्‍हें मुंबई में हीरे के कारोबार की बारीकी सीखने के लिए भेज दिया। यहां उन्‍होंने अपने मामा मेहुल चौकसी से कारोबार की बारीकी सीखी। यहां से वापस लौटे और अपना काम शुरू किया। 

 

 

ऐसे खड़ा किया 15 हजार करोड़ का एम्‍पायर 
भारत से वापस लौटने के बाद नीरव ने परिवार का बिजनेस नहीं संभाला। उन्‍होंने अपनी फर्म  फायरस्‍टार डायमंड  शुरू की। नीरव ने डायमंड के कारोबार को पूरी तरह से बदल कर रख दिया। वह दुनिया के ऐसे पहले डायमंड कारोबारी बने, जो कस्‍टमर की डिमांग के हिसाब से ज्‍वैलरी डिजाइन करता था। नीरव का यह आइडिया चल निकला। अमेरिका और यूरोप के कस्‍टमर्स ने उन्‍हें हाथों हाथ लिया और तेजी के साथ उनका कारोबार फला-फूला। नीरव मोदी ने मुंबई में हीरे का कारोबार सीखा था। यहां उन्‍होंने जाना कि लागत कम ही मैक्सिमम मुनाफा दिलाती थी। यह बात उन्‍होंने अपने बिजनेस में अप्लाई की। वह सूरत में सत्ते दामों पर हीरे की कटिंग करवाते ओर यूरोप अमेरिका के बाजार में महंगे दाम पर इसे बेचते। इसी के चलते देखते ही देखते उनका करोबार करीब 15 हजार करोड़ का हो गया।   


 

अंबानी से भी है रिलेशन 
नीवर मोदी देश के सबसे रईस व्‍यक्ति मुकेश अंबानी के रिश्‍तेदार भी हैं। दरअसल नीरव मोदी के छोटे भाई नीशाल मोदी की शादी मुकेश अंबानी की भांजी इशिता सल्‍गांवकर से हुई है। सल्‍गांवकर फेमिली का बेस गोआ है। यह देश की पुरानी बिजनेस फैमिलीज में से एक है।  

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट