Home » Industry » CompaniesMigsun to invest Rs 1000 crore on lowcost homes

NCR में 4.5 लाख रुपए में मिलेगा फ्लैट, जानिए शर्तें और पजेशन टाइम

सस्‍ते मकान की बढ़ती जरूरतों को देखते हुए कई कंपनियां अब अफोर्डेबल हाउसिंग में कदम रख रही हैं।

1 of

नई दिल्‍ली. सस्‍ते मकान की बढ़ती जरूरतों को देखते हुए कई कंपनियां अब अफोर्डेबल हाउसिंग में कदम रख रही हैं। 10 रेजिडेंशियल और कमर्शियल प्रोजेक्‍ट डेवलप कर चुकी कंपनी मिगसन अफोर्डेबल हाउसिंग में कदम रखने जा रही है। कंपनी इस प्रोजेक्‍ट पर करीब 1000 करोड़ रुपए का निवेश करेगी और अगले दो साल में यह प्रोजेक्‍ट पूरा हो जाएगा। यानी, कंपनी की माने तों अगले दो साल में 4.5 लाख रुपए में खरीददार को मकान मिल जाएगा। 

 

 

गाजियाबाद में बनेंगे मकान 
सरकार की ओर से सब्सिडी मिलने और इन्‍फ्रास्‍ट्रक्‍चर का दर्ज मिलने से अफोर्डेबल हाउसिंग ने रफ्तार पकड़ी है। साथ ही इन प्रोजेक्‍ट्स के लिए जीएसटी रेट भी 8 फीसदी रखे गए है। इस सेगमेंट में सगसे ज्‍यादा डिमांड और सप्‍लाई है। मिगसन के एमडी यश मिगलानी ने बताया कि कंपनी केंद्र सरकार की स्‍कीम अफोर्डेबल हाउसिंग इन पार्टनरशिप (एएचपी) प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत 3000 हाउसिंग यूनिट डेवलप करेगी।

 

उन्‍होंने बताया कि हम राजनगर एक्‍सटेंशन में 11 एकड़ में 'मिगसन अथर्वा' प्रोजेक्‍ट ला रहे हैं। इसमें कुल 3000 यूनिट होंगी, जिनमें से 800 यूनिट आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग (EWS) के लिए है। इनका आवंटन इस स्‍कीम के तहत सरकार की ओर से किया जाएगा। 


EWS यूनिट की कीमत होगी 4.5 लाख 
उन्‍होंने बताया कि EWS को आवंटित होने वाली यूनिट की कीमत करीब 4.5 लाख होगी जबकि शेष फ्लैट्स करीब 10-12 लाख रुपए में बेचे जाएंगे। मिगलानी ने बताया कि कंपनी इस प्रोजेक्‍ट पर करीब 1000 करोड़ रुपए का निवेश करेगी। 

 

आगे पढ़ें.. कब शुरू होगा निर्माण और कब मिलेंगे फ्लैट 

 

 

अगले साल शुरू होगा कंस्‍ट्रक्‍शन 
कंपनी के अनुसार, इस प्रोजेक्‍ट का कंस्‍ट्रक्‍शन अगले महीने शुरू होगा और इस प्रोजेक्‍ट के अगले दो साल में पूरा हो जाने की उम्‍मीद है। मिगसन पहले महालक्ष्‍मी ग्रुप के नाम से जाना जाता था। मिगसन गाजियाबाद में करीब 10 रेजिडेंशियल और कॉमर्शियल प्रोजेक्‍ट डेवलप कर चुका है। 

 

आगे पढ़ें.. कितने और प्रोजेक्‍ट चला रही मिगसन  

 

 

अभी चल रहे हैं कंपनी के 4 प्रोजेक्‍ट 
फिलहाल, मिगसन के चार हाउसिंग प्रोजेक्‍ट चल रहे हैं। इनमें करीब 4000 फ्लैट्स बन रहे हैं। ये प्रोजेक्‍ट्स नोएडा, ग्रेटर नोएडा और गाजियाबाद में हैं। इनमें करीब 1800 करोड़ रुपए का निवेश हुआ है। मिगलानी का कहना है कि हमने सभी चल रहे प्रोजेक्‍ट्स को इस वित्‍त वर्ष में पूरा कर लेने का लक्ष्‍य रखा है। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट