Home » Industry » Companies6 Helpful Habits to Help You Become Debt-Free

कर्ज से जल्‍द चाहते हैं छुटकारा, 6 आदतें आएंगी काम

थोड़ी समझदारी और जिम्‍मेदारी से काम लिया जाए तो कर्ज को जल्‍द से जल्‍द खत्‍म किया जा सकता है...

1 of

नई दिल्‍ली. मौजूदा दौर में कर्ज लेना एक आम बात हो चली है। अगर आपने भी किसी जरूरत के चलते कर्ज लिया है और इससे जल्‍द से जल्‍द छुटकारा चाहते हैं तो कुछ आदतें और खर्च करने के तरीकों में बदलाव आपके काम आएंगे। अगर थोड़ी समझदारी और जिम्‍मेदारी से काम लिया जाए तो कर्ज को जल्‍द से जल्‍द खत्‍म किया जा सकता है। CNBC की एक रिपोर्ट में ऐसी ही 6 आदतों का जिक्र है, जिनके जरिए आपको कर्ज से जल्‍दी बाहर आने में मदद मिल सकती है। आइए आपको बताते हैं क्‍या हैं वे 6 आदतें-   

 

खर्चों और शौक में करें कटौती

कर्ज चुकाने के लिए सबसे पहला कदम है कि आप अपने फिजूल के खर्चों और शौकों पर लगाम लगाएं। ए‍क लिस्‍ट बनाएं, जिसमें आपके सभी खर्च मौजूद हों। उसके बाद उसमें से केवल जरूरी खर्चों को ही रखें और बाकी खर्चों को किसी भी सूरत में न दोहराएं। इसके अलाव अगर आप पार्टी के शौकीन हैं तो कुछ टाइम के लिए इसे भूलना बेहतर रहेगा। आपकी पहली प्राथमिकता इन्‍ज्‍वॉय करना नहीं बल्कि कर्ज से पीछा छुड़ाना है।  

 

बाहर जाकर खाना करें कम

कई लोग ऐसे हैं जो रोजी-रोटी कमाने के लिए अपने घर-परिवार से दूर रहते हैं। ऐसे में ज्‍यादातर लोग घर पर खाना बनाने के तामझाम से बचने के लिए बाहर खाना ज्‍यादा सुविधाजनक मानते हैं। वहीं कुछ लोग ऐसे भी हैं, जो ऐसी स्थिति में न होने के बावजूद हफ्ते में 2-3 बार खाने के लिए बाहर जाते हैं। अक्‍सर बाहर खाने से आपके बजट पर दबाव बनता है। खाने के बजट को लिमिट के अंदर रखने के लिए बेहतर रहेगा कि बाहर जाकर खाने में कटौती की जाए। इससे आपका खर्च में भी कमी आएगी। 

 

न करें दूसरों की देखा-देखी

दोस्‍तों या रिश्‍तेदारों को बड़ी और महंगी चीजों पर खर्च करते देखकर या उनकी ट्रैवल स्‍टोरीज सुनकर अक्‍सर हमें लगता है कि काश हम भी ऐसा कर पाते। इसके लिए हम कभी-कभी लिमिट से बाहर जाकर खर्च भी कर देते हैं। लेकिन जब आप पर कर्ज हो तो ऐसा करने से बचें। यह वक्‍त खर्च बढ़ाने का नहीं बल्कि कम करने का है। 

 
दूसरे फाइनेंशियल लक्ष्‍यों को रखें होल्‍ड पर

अगर आप वाकई में कर्ज जल्‍द से जल्‍द खत्‍म करना चाहते हैं तो पहले केवल उसी पर फोकस करें। अन्‍य फाइनेंशियल लक्ष्‍य जैसे इन्‍वेस्‍टमेंट या घर-गाड़ी खरीदने जैसी चीजों को कुछ टाइम के लिए होल्‍ड पर रख दें। 

 

आगे पढ़ें- न करें कर्ज को नजरअंदाज

कर्ज की अनदेखी न करें

अक्‍सर हम कर्ज में डूबे होने के बावजूद खुद को यह समझाते हैं कि हमारा कर्ज कंट्रोल में है। हम अपनी लाइफस्‍टाइल में ऐसा कोई बदलाव नहीं करते,‍ जिससे कर्ज जल्‍द से जल्‍द खत्‍म हो जाए, उल्‍टा इसे नजरअंदाज करते हैं। ऐसा कर हम खुद को केवल झूठी तसल्‍ली दे रहे होते हैं। 

 

आगे पढ़ें- आमदनी बढ़ाना भी जरूरी 

आमदनी बढ़ाने पर भी दें ध्‍यान

कर्ज चुकाने के लिए अपने खर्चों और शौक पर कंट्रोल करने के साथ-साथ आमदनी बढ़ाना भी जरूरी है। आप अपनी प्रॉपर जॉब के साथ कोई ऐसी साइड जॉब या मामूली इन्‍वेस्‍टमेंट से शुरू किया जाने वाला काम भी कर सकते हैं, जो रूल्‍स के खिलाफ न हो। इससे आपको इनकम बढ़ाने में मदद मिलेगी। अगर आपके पास पहले से ही घर या गाड़ी है तो आप इसे किराए पर देकर भी इनकम कर सकते हैं। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट