Home » Industry » CompaniesFarmer earn 8 lakh rupees

सिर्फ 4 महीने में एक लाख लगाकर कमा सकते हैं 8 लाख

खीरे की खेती से किसान ने की कमाई

1 of

नई दिल्ली। हर व्यक्ति का सपना होता है कि वह अपनी छोटी सी इंवेस्टमेंट से लाखों कमाए। वैसे तो लोग बहुत सी चीजों का बिजनेस करते हैं और उसमें उन्हें फायदा भी मिलता है लेकिन यदि आप किसान है और अपनी लागत से ज्यादा का फायदा चहते हैं तो आप खीरे की खेती से लाखों रुपए कमा सकते हैं। क्या आपने कभी सोचा है कि घरों में खाए जाने वाले खीरे आपको लखपति बना सकते है। हम आपको एक ऐसे व्यक्ति के बारे में बताने जा रहे हैं जिन्होंने खीरे की खेती कर लाखों रुपए कमा लिए। 

 

4 महीने में कमाए 8 लाख रुपए
हम बात कर रहे हैं रसीदपुरा के किसान दुर्गाप्रसाद ओला की। दुर्गाप्रसाद ओला ने खेती में मुनाफा कमाने के लिए अपने खेतों में खीरे की बुआई की और मात्र 4 महीने में 8 लाख रुपए कमाए। दुर्गाप्रसाद ने  अपने खेतों में नीदरलैंड के खीरे की बुआई की थी। दुर्गाप्रसाद के मुताबिक वह राजस्थान का पहला किसान है जिसने नीदरलैंड से खीरे के बीज मंगवाए। इस खीरे  में बीज नहीं होते जिससे बड़े-बड़े होटलों और रेस्त्रां में इसकी खूब डिमांड होती है।  दुर्गाप्रसाद के मुकाबिक उन्होंने उद्यान विभाग से 18 लाख रुपए की सब्सिडी लेकर खेत में सेडनेट हाउस लगाया था। सब्सिडी लेने के बाद उन्हें खुद से 6 लाख रुपए खर्च करने पड़े। इसके बाद उन्होंने नीदरलैंड से 72 हजार रुपए के बीज मंगवाए। बीज बोने के 4 महीने बाद उन्होंने 8 लाख रुपए के खीरे बेचे।

 

आगे पढ़ें और

नीदरलैंड किस्म का खीरा उगाया
उद्यान विभाग के सहायक निदेशक भगवान सहाय यादव के मुताबिक शेखावाटी में वह पहला किसान है, जिसने नीदरलैंड किस्म का खीरा उगाया। अच्छी गुणवत्ता और बीज रहित खीरा होने के कारण यह  ज्यादा बिक रहा है।

 

आगे पढ़ें 40 से 45 रुपए प्रति किलो के हिसाब से बिकते है ये खीरे

40 से 45 रुपए प्रति किलो के हिसाब से बिक रहा है यह खीरा

वहीं  कारोबारियों  का कहना है कि मंडी में पहली बार नीदरलैंड का बीज रहित खीरा आया है। इसके चलते मंडी में खीरे की कीमत दोगुनी हो गई है। जहां देसी खीरा 20 रुपए प्रति किलो के  हिसाब से बिक रहा है वहीं नीदरलैंड के बीज वाला यह खीरा 40 से 45 रुपए प्रति किलो के हिसाब से बिक रहा है।  

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट