Advertisement
Home » इंडस्ट्री » कम्पनीजCookery writer & spices business owner Nita Mehta

सास-ससुर के खिलाफ जाकर शुरू की कुकिंग क्लासेस, खड़ा कर दिया 7 करोड़ का कारोबार

नीता मेहता पब्लिशिंग हाउस, कुकिंग इंस्टीट्यूट, रेस्तरां मेहता सेलेब्रिटी शेफ और अब मसालों का बिजनेस कर रही हैं।

1 of

 

नई दिल्ली। अभी तक हमने आपको घर में कुकरी क्लास खोलने, ट्यूशन पढ़ाने, अचार, पापड़ बनाने जैसे बिजनेस करने के आइडिया बताए हैं। अब हम आपको ऐसी ही महिला कारोबारी के बारे में बता रहे हैं, जिन्होंने घर में कुकरी क्लास शुरू कर, एक बड़ा कारोबार खड़ा किया है। नीता मेहता ग्रुप ऑफ कंपनीज की चेयरपर्सन नीता मेहता पब्लिशिंग हाउस, कुकिंग इंस्टीट्यूट, रेस्तरां मेहता सेलेब्रिटी शेफ और अब मसालों का बिजनेस कर रही हैं। लेकिन उनका कारोबारी सफर 80 के दशक में घर में कुकरी क्लास चलाने से हुआ।

 

ससुराल के खिलाफ जाकर शुरू किया कारोबार

नीता मेहता ने कहा कि उस समय में बहुओं का बाहर काम करना गलत समझा जाता था। उनका काम सिर्फ पढ़ाई कर शादी करना, फिर घर और बच्चों को संभालना होता था। कुछ ऐसी ही सोच उनके अपने परिवार और ससुराल की सोच थी। साल 1973 में नीता मेहता की शादी दिल्ली के दरियागंज के कारोबारी से हो गई। 1980 के दशक में उनके पति के कारोबार में गिरावट आने लगी थी। तब उन्होंने अपनी कुकरी क्लास घर पर ही शुरू करने के बारे में सोचा, ताकि घर चलाने में वह अपने पति की मदद कर सके।

Advertisement

 

 

घर में शुरू की कुकरी क्लासेस

उस समय कोई भी आइसक्रीम बनाने की ट्रेनिंग नहीं देता था। उन्होंने घर पर आइसक्रीम बनाने की ट्रेनिंग देनी शुरू की। मेहता ने बताया कि उन्होंने अखबार में आइसक्रीम ट्रेनिंग का विज्ञापन दिया। उनके घर पर ट्रेनिंग लेने के लिए फोन आने लगे। वह 10 छात्रों के 10 ग्रुप सुबह 8 बजे से रात के 10 बजे तक चलाने लगीं। उस समय उनके दो बच्चे थे, जो स्कूल जाते थे। मेहता ने कहा, ‘उस समय घर, कुकरी क्लास और बच्चे संभालने में दिक्कतें आती थी, लेकिन धीरे-धीरे सब मैनेज हो गया।’ शुरुआत में उनके सास-ससुर इसके खिलाफ थे, लेकिन जब महिलाओं का रिस्पॉन्स देखने के बाद वह सामान्य हो गए।

Advertisement

 

 

आगे पढ़े - सीखने के लिए रेस्तरां में खाती थीं खाना...

 

सिखाने से पहले रेस्तरां में खाकर सीखी रेसिपी

आइसक्रीम के बाद चाइनीज, कॉन्टिनेंटल, मुगलई खाना सिखाने की क्लासेस देने लगी। क्लासेज के बाद उन्होंने अपनी कुकरी बुक्स छापने के बारे में सोचा। मेहता ने बताया कि उन्हें अलग-अलग कुजीन के खाने के बारे में कोई जानकारी नहीं थी, इसलिए वह कुजीन सपेशलिस्ट रेस्तरां में खाने जाती थी। उसे घर में आकर बनाती थीं, फिर वह अपने कुकरी क्लासेज लेने आने वाली छात्राओं को सिखाती थी।

 

 

लिखना शुरू की अपनी रेसिपी

कुछ समय बाद उन्होंने अपनी कुकरी किताब लिखने के बारे में सोचा। उन्होंने साल 1993 में ‘वेजिटेबल वंडर्स’ नाम से किताब लिखी, लेकिन यह ज्यादा नहीं चली। मेहता ने कहा कि उसका रिस्पॉन्स अच्छा नहीं था, तो उन्होंने कुछ अलग और नई रेसिपी लिखने के बारे में सोचा। उन्होंने फिर ‘पनीर–ऑल द वे’ लिखी, जिसमें पनीर के स्टार्टर से लेकर मेन कोर्स और डेजर्ट की रेसिपी थी। ये किताब चल निकली और इसकी एक लाख कॉपी बिकीं।

 

शुरू किया पब्लिशिंग हाउस

उनको पहले अपने किताबों के लिए पब्लिशर और डिस्ट्रीब्यूटर मिलने में दिक्कतें पेश आती थीं, जिसके बाद उन्होंने अपना पब्लिशिंग हाउस खोलने के बारे में सोचा। उन्होंने नीता मेहता पब्लिशिंग हाउस खोला, जहां वह अपनी कुकरी किताबों को लिखती और बेचती थीं। उन्होंने देश विदेश में होने वाले बुकफेयर में हिस्सा लिया। अब तक उनकी करीब 80 लाख किताबें बिक चुकी है।

 

आगे पढ़े - अब लॉन्च किए 'नीता मेहता स्पाइसेज' ब्रांड

कारोबार से जुड़ी दूसरी पीढ़ी

अब उनके कारोबार में उनके बेटे अनुराग मेहता जुड़ चुके हैं। वह कंपनी के सीईओ हैं। उनके चंडीगढ, रोहतक और लुधियाना में रेस्तरां हैं। मेहता ने कहा कि वह जल्द दिल्ली एनसीआर में रेस्तरां खोलने की योजना बना रही हैं।

 

 

मसालों को बड़े स्तर पर मार्केट में उतार रही हैं नीता मेहता

वह अपने ‘नीता मेहता’ ब्रांड नाम से मसाले बाजार में उतार चुकी है। नीता मेहता ने अभी 8 तरह के मसाले बाजार में उतारे हैं। जल्द ही वह बाजार में एमडीएच, कैच जैसी देश की बड़ी मासाला कंपनियों को कंपिटिशन देंगी। मेहता ने कहा कि कंपनी की योजना इन मसालों को रिटेल, ऑनलाइन और एक्सपोर्ट करने की है। मेहता ने moneybhaskar.com को बताया, ‘कंपनी कारोबार को बढ़ाने के लिए वेंचर कैपटलिस्ट ढूंढ रही है, ताकि इन्वेस्टमेंट बढ़ाकर कारोबार आगे बढ़ाया जा सके।’ अब उन्होंने मसालों से 1 करोड़ के बिजनेस का टारगेट रखा है।

 

 

कारोबार में कमाया नाम

नीता मेहता ग्रुप ऑफ कंपनीज की चेयरपर्सन नीता मेहता सेलेब्रिटी शेफ हैं। वह अपना पब्लिशिंग हाउस, कुकिंग इंस्टीट्यूट, रेस्तरां और मसालों का कारोबार चलाती है। उनकी कंपनी का टर्नओवर करीब 7 करोड़ रुपए है। वह मास्टरशेफ (इंडिया) में गेस्ट शेफ जज बनकर भी आई हैं। वह क्वेकर ओट्स के लिए रेसिपी, एलजी के ओवन प्रोडक्ट के लिए रेसिपी लिखती हैं।

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
Advertisement