बिज़नेस न्यूज़ » Industry » Companiesधोखाधड़ी में फंसा यह मोदी, Forbes के अमीरों की लिस्‍ट में बना चुका है जगह

धोखाधड़ी में फंसा यह मोदी, Forbes के अमीरों की लिस्‍ट में बना चुका है जगह

सीबीआई ने पंजाब नेशनल बैंक की शिकायत के आधार पर दर्ज किया।

1 of

नई दिल्‍ली. फोर्ब्‍स के 100 अमीर भारतीयों की लिस्‍ट में कभी जगह बना चुके डायमंड कारोबारी नीरव मोदी पर धोखाधड़ी का केस दर्ज हुआ है। यह केस केंद्रीय जांच एजेंसी (सीबीआई) ने पंजाब नेशनल बैंक की शिकायत के आधार पर दर्ज किया। सीबीआई ने अरबपति हीरा कारोबारी नीरव मोदी, उनके भाई और पत्‍नी व एक बिजनेस पार्टनर के खिलाफ 280 करोड़ रुपए की धोखाधड़ी में मामला दर्ज किया है। धोखाधड़ी का यह मामला 2017 का है और पंजाब नेशनल बैंक से जुड़ा है। 

सीबीआई के ऑफिशियल के अनुसार, पंजाब नेशनल बैंक की ओर से मिली शिकायत पर जांच एजेंसी ने यह कार्रवाई की है। इसमें आरोप है कि मोदी, उनके भाई निशाल, पत्‍नी आमी और मेहुल चिनुभाई चोकसी, डायमंड आर यूएस के सभी पार्टनर, सोलर एक्‍सपोर्ट, स्‍टेलर डायमंड्स ने बैंक के अफसरों के साथ मिलकर धोखाधड़ी को अंजाम दिया। इस संबंध में कंपनी की ओर से बयान खबर लिखे जाने तक नहीं मिल पाया है। 

 

एफआईआर में आरोप है कि सरकारी अधिकारियों ने डायमंड आर यूएस, सोलर एक्‍सपोर्ट्स, स्‍टेलर डायमंड्स को आर्थिक लाभ पहुंचाने के लिए अपनी पोजिशन का गलत फायदा उठाया। सीबीआई ने बैंक के कुछ अधिकारियों के खिलाफ भी केस दर्ज किया है। नीरव मोदी की लंदन, न्यूयॉर्क, लास वेगास, हवाई, सिंगापुर, बीजिंग और मकाऊ में डिजाइनर ज्‍वैलरी बुटीक हैं।

 

इन धाराओं में केस 

ऑफिशियल के अनुसार, सीबीआई ने इंडियन पैनल कोड (आईपीसी) की आपराधिक षड्यंत्र, धोखाधड़ी और भ्रष्‍टाचार रोकधान कानून की धाराओं के तहत चारों आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज किया गया है। पीएनबी ने अपनी शिकायत में बताया था कि नीरव मोदी, उनके भाई निशाल मोदी और उनकी पत्नी अमी ने अपनी कंपनी में 280.70 करोड़ रुपए का 'गलत घाटा' दिखाकर बैंक के साथ धोखाधड़ी की थी। 

  
2016 फोर्ब्‍स लिस्‍ट में बनाई जगह  

2016 में आई भारत के सबसे धनी लोगों की फोर्ब्‍स लिस्ट में को जगह मिली थी। उस समय उनकी संपत्ति 1.74 बिलियन डॉलर (11.2  हजार करोड़ रुपए) बताई गई थी। क्रिस्टी ज्वैलरी ऑक्शन (2010) में नीरव मोदी की कंपनी फायर स्टार डायमंड का गोलकोंडा नेकलेस 16.29 करोड़ रुपए में बिका और नीरव मोदी ब्रांड को ग्लोबल पहचान मिली थी।

 

 

आगे पढ़ें... कौन हैं नीरव मोदी

कौन हैं नीरव मोदी? 

नीरव मोदी की पढ़ाई लिखाई विदेश में हुई थी। मोदी पेंसिलवेनिया में फाइनेंस की पढ़ाई करते थे। लेकिन एक साल बाद ही मोदी ने यूनिवर्सिटी छोड़ दी और बिजनेस शुरू किया। मोदी ने बाद में भारत आकर बिजनेस शुरू किया। 1990 में मोदी मुंबई आए। यहां उनके चाचा डायमंड बनाने के कारोबार में थे। मुंबई आकर मोदी भी उनके साथ जुड़ गए। 2016 में 100 अमीर लोगों की सूची में मोदी 71वें पायदान पर हैं।

बिजनेस शुरू करने के 5 साल के दौरान मोदी की कंपनी डायमंड ज्वैलरी डिजाइंनिंग एक बड़ा नाम बन चुकी थी। फायरस्टार ने एक्सपेंशन के दौरान यूएस की दो बड़ी कंपनियों का अधिग्रहण किया। फायरस्टार डायमंड का कारोबार यूएसए, यूरोप, मिडिल ईस्ट और इंडिया मे फैला हुआ है। कंपनी के मुताबिक इनके पास 1200 से ज्‍यादा ट्रेन्ड प्रोफेशनल्स की टीम है जो वर्ल्डवाइड हाई एंड प्रोडक्ट ग्राहकों तक पहुंचाती है।  
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट