Home » Industry » Companieswinter product business opportunity

इलेक्ट्रिकल कारोबार शुरू करने का बेस्ट टाइम, ऐसे कमाएं मोटा मुनाफा

विंटर सीजन में बढ़ जाती है इन उपकरणों की डिमांड

1 of

नई दिल्ली। विंटर में आप इलेक्ट्रिकल्स उपकरणों का बिजनेस शुरू कर मोटा मुनाफा कमा सकते हैं। विंटर सीजन शुरू होते ही रूम हीटर और गीजर की डिमांड बढ़ जाती है। ठंड बढ़ते ही लोग ब्रांडेड से लेकर चाइनीज रूम हीटर खरीदने के लिए बाजारों और ऑनलाइन शॉपिंग साइट को सर्च करने लगते हैं। यहां हम आपको बता रहे हैं कि इलेक्ट्रिकल उपकरण मार्केट में क्या ट्रेंड चल रहा है। कैसे आप उषा, हैवेल्स और बजाज इलेक्ट्रिकल्स जैसी कंपनियों के डिस्ट्रीब्यूटर या चैनल पार्टनर बन सकते हैं। बढ़ते ऑनलाइन बाजार में आपकी बिजनेस स्ट्रैटजी कैसी होनी चाहिए, ताकि आप इस सीजन में इलेक्ट्रिटल उपकरण कारोबार कर अच्छी कमाई कर सकें।

 

 

कंपनियों से सीधे खरीदना है फायदे का सौदा

 

आप उषा, बजाज इलेक्ट्रिकल्स, हैवेल्स जैसी कंपनियों के डिस्ट्रीब्युटर या डीलर बन सकते हैं। इसके लिए आपको इन कंपनियों की वेबसाइट पर जाकर फॉर्म भरने होंगे और कंपनियों के अधिकारियों से संपंर्क करना होगा। हालांकि, इसके लिए आपको कंपनियों को सिक्योरिटी अमाउंट भरना होगा। ये सिक्योरिटी अमाउंट न्यूनतम पांच लाख से शुरु है। सिक्योरिटी अमाउंट सभी कंपनियों का अलग-अलग है और ये प्रोडक्ट केटेगरी पर भी निर्भर करता है। कंपनियों का डिस्ट्रीब्युटर बनने पर 20 फीसदी का मुनाफा कमा सकते हैं। लेकिन इसमें आपको पैसा ज्यादा लगाना पड़ेगा और वेयरहाउस की डिटेल कंपनी को देनी होगी। ऐसे कारोबार करने के लिए आपको लाखों में निवेश करना होगा।

 

कहां से खरीदें इलेक्ट्रिकल्स प्रोडक्ट और इनके पार्ट्स

 

सर्दियों में चीन के रूम हीटर की डिमांड सबसे अधिक रहती है क्योंकि इनकी कीमतें कम होती है। इन प्रोडक्ट को खरीदने के लिए पुरानी दिल्ली में लाल किले के सामने स्थित इलेक्ट्रॉनिक और इलेक्ट्रिकल गुड्स मार्केट भगीरथ पैलेस से खरीद सकते हैं। भगीरथ पैलेस इलेक्ट्रिकल गुड्स की होलसेल मार्केट है। यहां उषा, बजाज इलेक्ट्रिकल्स, हैवेल्स जैसी कंपनियों के अलावा चाइनीज रुम हीटर और छोटे गीजर के बल्क ऑर्डर खरीद सकते हैं। यहां से खरीदकर रीटेल बाजार में बेचने पर मैक्सिकम 15 से 25 फीसदी का प्रॉफिट होगा।

 

आगे पढ़ें...

 

चाइनीज इंपोर्टर से खरीदिए चाइनीज प्रोडक्ट

 

चीन से सीधे भी इलेक्ट्रिकल्स प्रोडक्ट इंपोर्ट कर सकते हैं। वेबसाइट पर चाइनीज प्रोडक्ट की ऑनलाइन पेमेंट कर मंगा सकते हैं। लेकिन इसमें कई बार खराब प्रोडक्ट आने का डर रहता है और पैसे पर जोखिम अधिक होता है। चाइनीज इंपोर्टर से खरीदने पर खराब प्रोडक्ट का डर नहीं होगा क्योंकि तब प्रोडक्ट की क्वालिटी देखने का विकल्प आपके पास होगा। चाइनीज प्रोडक्ट पर आपको 10 से 15 फीसदी का प्रॉफिट मार्जिन मिल जाएगा।

 

कहां बेचे इलेक्ट्रिकल्स प्रोडक्ट

 

 

आप ईंपोर्टर या होलसेलर से बल्क ऑर्डर खरीदकर रीटेल दुकानों से लेकर अन्य राज्यों में सप्लाई कर सकते हैं। इन पर आपको रीटेल में बेचने पर 20 फीसदी तक प्रॉफिट मार्जिन मिल सकता है। इलेक्ट्रिकल्स प्रोडक्ट आप ठंड पड़ने वाले राज्यों में बेच सकते हैं। जम्मू-कश्मीर, हरियाणा, पंजाब, दिल्ली, उत्तराखंड, यूपी, मध्य प्रदेश जैसे उत्तर भारतीय राज्यों में होलसेल और रीटेल दुकानदारी अधिक चलती है। होलसेल का वॉल्यूम अगर अधिक होगा तो प्रॉफिट मार्जिन एक से तीन फीसदी ही मिलेगा। हालांकि, रीटेल में प्रॉफिट मार्जिन 10 से 15 फीसदी का प्रॉफिट मार्जिन मिल जाएगा।

 

ऑनलाइन शॉपिंग वेबसाइट और एक्सपोर्ट से जुड़कर बढ़ा सकते हैं कारोबार

 

ईलाला डाट इन फ्लिपकार्ट, स्नैपडील, पेटीएम, शॉपक्लूज, ईबे, अमेजॉन जैसी कई वेबसाइट इलेक्ट्रिकल्स प्रोडक्ट बेच रही हैं। इनसे कई सेलर्स जुड़ रहे हैं। दिल्ली के डीलर अनिल क्वात्रा ने इसी साल स्नैपडील, अमेजॉन पर इलेक्ट्रिकल्स प्रोडक्ट बेचना शुरू किया है। उन्होंने कहा कि यहां से काफी अच्छा रिस्पॉन्स मिल रहा है। यहां दुकान की तरह फिक्‍स्‍ड कॉस्ड नहीं है लेकिन वेबसाइट का कमीशन देना होता है। उन्होंने बताया कि वह सीजन 10 गीजर बेच चुके हैं।

 

आगे पढ़ें...

-कॉमर्स प्लेटफॉर्म से जुड़ने के लिए क्या करें

 

- ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म पर कारोबारी को रजिस्टर कराना होगा

 

- कारोबारी को जीएसटी और बैंक अकाउंट की डिटेल देनी होगी

 

- कंपनी सेलर के साथ एमओयू या करार भी करती है

 

- करार के बाद आप वेबसाइट पर अपने प्रोडक्ट को अपलोड कर सकते हैं।

 

- वेरिफिकेशन के बाद प्रोडक्ट साइट पर दिखने लगते हैं।

 

- ज्यादातर कंपनियां सेलर से प्रोडक्ट ऑनलाइन बिकने के बाद कारोबारी से 1 से 9 फीसदी कमीशन लेती हैं।

 

- ऑनलाइट पेमेंट में प्रोडक्ट कस्टमर के पास पहुंचने के बाद सेलर यानी कारोबारी के अकाउंट में ट्रांसफर कर दी जाती है।

 

 

फेसबुक, गूगल प्लस, ब्लॉग के जरिए भी कर सकते हैं प्रचार

 

आप अपने प्रोडक्ट को प्रमोट करने के लिए सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। आजकल बहुत सारे सेलर्स बिक्री बढ़ाने के लिए फेसबुक पेज बना रहे हैं। इससे आपके मित्रों और आसपास को लोगों के बीच विज्ञापन हो जाता है। अब सोशल मीडिया माउथ टू माउथ प्रमोशन का काम करता है।

 

 

 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट